अपना शहर चुनें

States

संजय राउत का आरोप- BJP के कारण राजभवन और महाराष्‍ट्र सरकार के बीच छिड़ी 'खुली जंग'

संजय राउत ने बीजेपी को घेरा. (File pic)
संजय राउत ने बीजेपी को घेरा. (File pic)

संजय राउत (Sanjay Raut) ने रविवार को राज्‍यपाल भगत सिंह कोश्‍यारी (Bhagat Singh Koshyari) पर राजनीतिक दबाव के कारण राज्‍य सरकार के कई फैसलों पर रोक लगाने का आरोप लगाया.

  • News18Hindi
  • Last Updated: February 15, 2021, 10:39 AM IST
  • Share this:
मुंबई. महाराष्‍ट्र (Maharashtra) की उद्धव सरकार और बीजेपी (BJP) के बीच तल्खियां बढ़ती जा रही हैं. शिवसेना के प्रवक्‍ता और राज्‍यसभा सांसद संजय राउत (Sanjay Raut) ने रविवार को राज्‍यपाल भगत सिंह कोश्‍यारी (Bhagat Singh Koshyari) पर राजनीतिक दबाव के कारण राज्‍य सरकार के कई फैसलों पर रोक लगाने का आरोप लगाया. उन्‍होंने दावा किया कि बीजेपी की ओर से दबाव के कारण महाराष्‍ट्र में राजभवन और राज्‍य सरकार के बीच खुली जंग चल रही है.

मीडिया रिपोर्ट के अनुसार, शिवसेना प्रवक्‍ता संजय राउत ने केंद्र सरकार पर राज्‍यपाल भगत सिंह कोश्‍यारी का इस्‍तेमाल राज्‍य सरकार पर दबाव बनाने और उसे अस्थिर करने का भी आरोप लगाया. संजय राउत ने यह भी कहा, 'यह शीत युद्ध नहीं है. शीत युद्ध गुप्‍त रूप से किया जाता है. यह खुली जंग है. बीजेपी की ओर से राजभवन को राजनीतिक फायदे के रूप में इस्‍तेमाल किया जा रहा है. यह जंग सिर्फ राज्‍य सरकार और राज्‍यपाल के बीच नहीं है. बीजेपी राजभवन का इस्‍तेमाल कर रही है.'

संजय राउत का यह बयान तक सामने आया है जब शिवसेना ने यह भी कहा था कि केंद्र सरकार अगर चाहती है संविधान बरकरार रखा जाए तो राज्‍यपाल को उसे वापस बुला लेना चाहिए. शिवसेना ने अपने मुखपत्र सामना के जरिये कहा, 'महा विकास आघाड़ी (एमवीए) स्थिर और मजबूत है. केंद्र राज्य सरकार को निशाना बनाने के लिए राज्यपाल के कंधों का इस्‍तेमाल नहीं कर सकता है.'

शिवसेना ने कहा, 'राज्यपाल भगत सिंह कोश्यारी फिर से खबरों में आ गए हैं. वह पिछले कई साल से राजनीति में हैं. वह केंद्रीय मंत्री और उत्तराखंड के मुख्यमंत्री भी थे. हालांकि जबसे वह महाराष्ट्र के राज्यपाल बने हैं तबसे वह हमेशा खबरों में बने रहे या विवादों में घिरे रहे'
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज