महाराष्ट्र विधानसभा का सत्र खत्म होते ही शुरू हुई इस्तीफे की सियासत

Abhishek Pandey
Updated: August 13, 2017, 12:44 PM IST
महाराष्ट्र विधानसभा का सत्र खत्म होते ही शुरू हुई इस्तीफे की सियासत
महाराष्ट्र में विपक्ष के आरोपों पर इस्तीफ़े की सियासत तेज हो गई है. file photo: PTI
Abhishek Pandey
Updated: August 13, 2017, 12:44 PM IST
विधानसभा का सत्र खत्म होते ही महाराष्ट्र में इस्तीफे की सियासत शुरू हो गई है. पहले गृहनिर्माण मंत्री प्रकाश मेहता ने इस्तीफा दिया. अब सुभाष देसाई ने भी अपना इस्तीफा दे दिया है.

महाराष्ट्र की सियासत रविवार की सुबह उस समय गरमा गई जब उद्योग मंत्री सुभाष देसाई ने सीएम से मिलकर इस्तीफे की पेशकश कर दी. महज कुछ मिनटों के भीतर यह भी खबर आई कि शुक्रवार की रात गृह निर्माण मंत्री प्रकाश मेहता ने भी इस्तीफा दे दिया.

कहा जा रहा है कि सीएम देवेन्द्र फडणवीस ने दोनों ही मंत्रियों का इस्तीफा नहीं लिया है. सीएम ने दोनों को तब तक मंत्री बने रहने को कहा है जब तक कि दोनों मंत्रियों की रिपोर्ट नहीं आती है जिस पर विरोधी दल सीएम को इस्तीफा स्वीकारने की नसीहत दे रहे हैं.

विपक्ष का आरोप है कि सीएम अपने मंत्रियों को बचा रहे हैं और न्यायिक जांच कराने की बजाय लोकायुक्त की जांच करवा रहे हैं.

उधर, सरकार ने साफ कर दिया है कि जब तक जांच रिपोर्ट नहीं आएगी तब तक किसी भी मंत्री का इस्तीफा स्वीकार नहीं किया जाएगा.
First published: August 13, 2017
पूरी ख़बर पढ़ें
अगली ख़बर