लाइव टीवी

शिवसेना ने दिया उद्धव के बेटे को टिकट, पहली बार ठाकरे परिवार का सदस्‍य लड़ेगा चुनाव

News18Hindi
Updated: September 30, 2019, 12:06 AM IST
शिवसेना ने दिया उद्धव के बेटे को टिकट, पहली बार ठाकरे परिवार का सदस्‍य लड़ेगा चुनाव
आदित्‍य ठाकरे को मुंबई की वर्ली सीट से टिकट दिया गया है.

शिवसेना ने उद्धव ठाकरे (Uddhav Thackeray) के बेटे आदित्‍य ठाकरे (Aaditya Thackeray) को चुनावी मैदान में उतार दिया है. शिवसेना (Shiv sena) ने आदित्‍य ठाकरे को मुंबई की वर्ली सीट से टिकट दिया है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: September 30, 2019, 12:06 AM IST
  • Share this:
मुंबई: महाराष्‍ट्र (Maharashtra) की राजनीति में बड़ा बदलाव हुआ है. पहली बार ठाकरे परिवार से कोई सदस्‍य चुनाव लड़ने जा रहा है. शिवसेना ने उद्धव ठाकरे (Uddhav Thackeray) के बेटे आदित्‍य ठाकरे (Aaditya Thackeray) को चुनावी मैदान में उतार दिया है. शिवसेना (Shiv Sena) ने आदित्‍य ठाकरे को मुंबई की वर्ली सीट से टिकट दिया है. ये सीट अभी शिवसेना के कब्‍जे में ही है. मौजूदा विधायक का टिकट काटकर आदित्‍य को टिकट दिया गया है. इससे पहले महाराष्‍ट्र की राजनीतिक सबसे ताकतवर परिवार माने जाने वाले ठाकरे परिवार का कोई भी सदस्‍य चुनावी मैदान में नहीं उतरा था.

आदित्‍य ठाकरे के मैदान में उतरते ही ये तय हो गया है कि शिवसेना ने अब अपनी निगाहें महाराष्‍ट्र सीएम की कुर्सी पर जमा दी हैं. एक दिन पहले ही उद्धव ठाकरे कहा था कि उन्‍होंने बाला साहब ठाकरे से वादा किया था कि वह एक शिवसैनिक को सीएम की कुर्सी पर बिठाएंगे. इससे पहले भी कई शिवसैनिक आदित्‍य ठाकरे को सीएम बनाने की मांग कर चुके हैं.



हालांकि बीजेपी ये सीट देने को तैयार नहीं है. महाराष्‍ट्र में बीजेपी के पास 135 विधायक हैं. शिवसेना के पास 75 विधायक हैं. अभी बीजेपी शिवसेना गठबंधन का ऐलान हुआ नहीं है, लेकिन इतना तय है कि बीजेपी शिवसेना को खुद से ज्‍यादा सीटें नहीं देगी.
Loading...

पहली बार ठाकरे परिवार का सदस्‍य चुनावी समर में
शिवसेना की स्‍थापना बालासाहब ठाकरे ने की. लेकिन खुद कभी चुनाव नहीं लड़ा. यहां तक कि जब 1995 में बीजेपी-शिवसेना गठबंधन महाराष्‍ट्र में सत्‍ता में आया तब भी बालासाहब ठाकरे ने मुख्‍यमंत्री मनोहर जोशी को बनाया. खुद उद्धव ठाकरे और उनके चचेरे भाई राज ठाकरे ने चुनाव नहीं लड़ा. हालांकि 2014 के विधानसभा चुनाव ने बहुमत मिलने के बाद सीएम बनने की ख्‍वाहिश जता दी थी.

आदित्‍य ठाकरे ने निकाली जनआशीर्वाद यात्रा
आदित्‍य ठाकरे के चुनावी राजनीति में उतरने के संकेत तभी मिल गए थे, जब उन्‍होंने विधानसभा चुनाव की घोषणा होने से पहले ही जन आशीर्वाद यात्रा शुरू कर दी थी. शिवसेना के अनुसार, उनकी जनआशीर्वाद यात्रा को बहुत कामयाबी मिली है. ऐसे में वह सीएम पद के सही दावेदार हैं. अब आदित्‍य के मैदान में आने से शिवसेना ने अपनी भविष्‍य की रणनीति घोषित कर दी है.

ये भी पढ़ें...
महाराष्ट्र विधानसभा चुनाव 2019: कांग्रेस की पहली लिस्ट जारी होते ही पार्टी में बगावत, BJP में शामिल होंगे 6 MLAs!

महाराष्ट्र विधानसभा चुनाव 2019: कांग्रेस ने जारी की 51 प्रत्याशियों की पहली लिस्ट, जानें- कौन कहां से प्रत्याशी

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए महाराष्ट्र से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: September 29, 2019, 9:57 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...