लाइव टीवी

बीजेपी ने की औरंगाबाद का नाम बदलने की मांग, शिवसेना ने साधा निशाना
Maharashtra News in Hindi

भाषा
Updated: March 2, 2020, 3:24 PM IST
बीजेपी ने की औरंगाबाद का नाम बदलने की मांग, शिवसेना ने साधा निशाना
शिवसेना का भाजपा पर निशाना

भाजपा नेता ने कहा था, 'हम छत्रपति शिवाजी महाराज और उनके पुत्र संभाजी महाराज के वंशज हैं, औरंगजेब के नहीं. लिहाजा सभी तकनीकी समस्याओं को दूर कर औरंगाबाद का नाम संभाजीनगर कर दिया जाना चाहिये.'

  • Share this:
मुंबई. शिवसेना ने औरंगाबाद (Aurangabad) शहर का नाम संभाजीनगर (Sambhaji Nagar) रखने की मांग को लेकर सोमवार को महाराष्ट्र भाजपा अध्यक्ष चंद्रकांत पाटिल पर निशाना साधा. शिवसेना के मुखपत्र 'सामना' के संपादकीय में भाजपा को याद दिलाया गया है कि 25 साल पहले शिवेसना सुप्रीमो दिवंगत बालासाहेब ठाकरे ने औरंगाबाद का नाम बदलकर संभाजीनगर कर दिया था.'

गौरतलब है कि औरंगाबाद नगर निगम ने जून 1995 में शहर का नाम बदलने के प्रस्ताव को मंजूरी दे दी थी, लेकिन कांग्रेस के एक पार्षद ने इसे पहले बंबई हाईकोर्ट और फिर बाद में सुप्रीम कोर्ट में चुनौती दे दी थी, जिसके बाद इस मामले में कोई प्रगति नहीं हुई. पाटिल ने पिछले हफ्ते औरंगाबाद का नाम छत्रपति शिवाजी महाराज के पुत्र संभाजी के नाम पर रखने की मांग की थी.

भाजपा नेता ने कहा था, 'हम छत्रपति शिवाजी महाराज और उनके पुत्र संभाजी महाराज के वंशज हैं, औरंगजेब के नहीं. लिहाजा सभी तकनीकी समस्याओं को दूर कर औरंगाबाद का नाम संभाजीनगर कर दिया जाना चाहिये.'



शिवसेना ने पाटिल की टिप्पणी को खास तवज्जो न देते हुए कहा, 'उन्हें यह कहने की जरूरत क्यों पड़ी कि वे छत्रपति शिवाजी महाराज के वंशज हैं और यहां कोई औरंगजेब का वशंज नहीं है.'



संपादकीय में विवादित पुस्तक 'आज के शिवाजी: नरेन्द्र मोदी' की ओर इशारा करते हुए कहा गया है कि भाजपा पिछले पांच वर्षों से छत्रपति शिवाजी महाराज का नाम ले रही है और अब वह प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की तुलना छत्रपति शिवाजी महाराज से करने की 'गुस्ताखी' करने लगी है.' शिवसेना ने कहा कि भाजपा पिछले पांच साल तक राज्य में सत्ता में थी और केन्द्र में अब भी उसकी सरकार है.

महाराष्ट्र सरकार में निर्माण कार्य मंत्री अशोक चव्हाण ने पिछले महीन कहा था 'छत्रपति शिवाजी महाराज का व्यक्तित्व और उनका कार्य अतुलनीय है. कोई कितनी भी कोशिश कर ले, लेकिन वह छत्रपति शिवाजी महाराज के पैर के नाखून की बराबरी भी नहीं कर सकता है.'

ये भी पढ़ें: भाजपा के पूर्व सांसद शर्मा कांग्रेस में हुए शामिल, बोलें- 'मेरा कोई धर्म नहीं'

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए महाराष्ट्र से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: March 2, 2020, 3:19 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
corona virus btn
corona virus btn
Loading