लाइव टीवी

CAA Protest: शिवसेना ने कहा- कांग्रेस ने नहीं दिया बैठक में शामिल होने का न्यौता

News18Hindi
Updated: January 13, 2020, 1:02 PM IST
CAA Protest: शिवसेना ने कहा- कांग्रेस ने नहीं दिया बैठक में शामिल होने का न्यौता
शिवसेना ने कहा कि उन्हें बैठक के संबंध में कोई जानकारी नहीं है. न ही उन्हें कोई न्यौता दिया गया है. (फाइल फोटो)

ममता बनर्जी, मायावती और आप ने भी किया बैठक का बहिष्कार, कांग्रेस के इस विरोध में नहीं शामिल होंगी चार विपक्षी पार्टियां

  • News18Hindi
  • Last Updated: January 13, 2020, 1:02 PM IST
  • Share this:
मुंबई. नागरिकता संशोधन कानून के विरोध में सोमवार को दिल्ली में विपक्षी पार्टियां एकजुट हो रही हैं. कांग्रेस ने CAA को रोकने के लिए सभी पार्टियों से इस बैठक में पहुंचने की अपील की थी. लेकिन अब कुछ पार्टियों ने इस विरोध में शामिल नहीं होने का ऐलान किया है. खबर थी कि पश्चिम बंगाल की सीएम और TMC अध्यक्ष ममता बनर्जी, BSP सुप्रीमो मायावती, आम आदमी पार्टी के साथ ही शिवसेना ने भी इस बैठक में शामिल नहीं होने का ऐलान किया है. लेकिन शिवसेना की कहानी कुछ और ही है. महाराष्ट्र में कांग्रेस और एनसीपी के साथ गठबंधन में सरकार बनाने वाली शिवसेना ने कहा है कि उन्हें इस बैठक में शामिल होने का न्यौता ही नहीं मिला. ऐसे में पार्टी से कोई भी इस बैठक में कैसे जा सकता है.

क्यों नहीं आ रहीं मायावती और ममता
वहीं बैठक में पश्चिम बंगाल की सीएम और टीएमसी प्रमुख ममता बनर्जी भी शामिल नहीं हो रही हैं. उन्होंने आरोप लगाया कि पश्चिम बंगाल में कांग्रेस और वामदल गलत राजनीति कर रहे हैं. इसलिए वे बिना उनसे मिले खुद ही सीएए और एनआरसी का विरोध करेंगी. इसके साथ ही राजस्‍थान में बीएसपी विधायकों के कांग्रेस में शामिल हो जाने के बाद से मयावती भी नाराज हैं. मायावती ने कहा कि हमने राजस्‍थान में कांग्रेस को बाहर से समर्थन दिया लेकिन फिर भी उन्होंने वहां पर गलत काम किया. इसके चलते अब मायावती भी इस बैठक का विरोध कर रही हैं. इस बैठक में मायावती का कोई प्रतिनिधि भी शामिल नहीं होगा.

आप ने कहा- नहीं है कोई जानकारी

वहीं आम आदमी पार्टी के अनुसार इस संबंध में उन्हें कोई जानकारी ही नहीं है. आप के राज्यसभा सांसद संजय सिंह ने कहा इस मीटिंग के बारे में उन्हें किसी भी प्रकार की जानकारी नहीं है. इसलिए जिसके बारे में कुछ पता नहीं उसमें शामिल होने का भी मतलब नहीं बनता है. आप के ऑफिशियल ट्विटर अकाउंट से भी विपक्ष की इस मीटिंग में शामिल नहीं होने की बात कही गई है. माना जा रहा है कि दिल्ली में अगले महीने विधानसभा चुनाव होने हैं. इसलिए आप ने ये फैसला लिया है.

इनका मिला साथ
वहीं कांग्रेस के नेतृत्व में बुलाई गई इस बैठक में राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (NCP), द्रविड़ मुनेत्र कड़गम (DMK), इंडियन यूनियन मुस्लिम लीग, लेफ्ट, राष्ट्रीय जनता दल (RJD), समाजवादी पार्टी (SP) समेत अन्य पार्टियां शामिल होंगी. पार्लियामेंट एनेक्सी में दोपहर 2 बजे से ये मीटिंग होगी. इसमें कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी, पूर्व पीएम डॉ. मनमोहन सिंह के अलावा राहुल गांधी भी मौजूद रह सकते हैं.

ये भी पढ़ें: 'महाराष्ट्र को तीन से चार हिस्सों में बांटा जा सकता है'

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए Mumbai से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: January 13, 2020, 1:02 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर