स्पर्म डोनर का नाम पता न बताने की याचिका

सिंगल मदर ने बॉम्बे हाई कोर्ट में याचिका डाली है कि वह स्पर्म देने वाले शख्स के नाम का खुलासा ना करे.

फर्स्टपोस्ट.कॉम
Updated: February 15, 2018, 7:18 AM IST
स्पर्म डोनर का नाम पता न बताने की याचिका
सिंगल मदर ने बॉम्बे हाई कोर्ट में याचिका डाली है कि वह स्पर्म देने वाले शख्स के नाम का खुलासा ना करे.
फर्स्टपोस्ट.कॉम
Updated: February 15, 2018, 7:18 AM IST
सिंगल मदर ने बॉम्बे हाई कोर्ट में याचिका डाली है कि वह स्पर्म देने वाले शख्स के नाम का खुलासा ना करे.
मुंबई के नालासोपारा में रहने वाली एक 31 साल की महिला ने बॉम्बे हाई कोर्ट का दरवाजा खटखटाया है. उस महिला की स्पर्म डोनर से एक बेटी है. उस महिला की अर्जी है कि बच्ची का बर्थ सर्टिफिकेट में उसके पिता का नाम ना डाला जाए.

सिंगल मदर का कहना है कि वह स्पर्म देने वाले शख्स के नाम का खुलासा नहीं करना चाहती है. उनके वकील उदय वारूनजिकर ने जस्टिस अभय ओका और जस्टिस प्रदीप देशमुख की पीठ को कहा, 'यह एक टेस्ट ट्यूब बेबी है. स्पर्म एक अनजान व्यक्ति का है.' उन्होंने कोर्ट से कहा है कि बर्थ सर्टिफिकेट में पिता के नाम की जरूरत खत्म कर देनी चाहिए.

अपनी याचिका में महिला ने कहा कि उसकी शादी नहीं हुई है. अगस्त 2016 में उस महिला ने एक बेटी को जन्म दिया था. उन्होंने कहा कि वह अपनी बेटी का ख्याल रख सकती हैं. याचिका दायर करने वाली महिला का कहना है कि पिता का नाम रिकॉर्ड में नहीं आना चाहिए.

 

 

और भी देखें

Updated: August 17, 2018 08:57 PM ISTवाजपेयी को श्रद्धांजलि प्रस्ताव का किया विरोध तो पार्षदों ने MIM नेता को पीटा
पूरी ख़बर पढ़ें
अगली ख़बर