लाइव टीवी

मजदूर का बेटा बीजेपी के टिकट पर बना विधायक, कहा-अब राजा का बेटा राजा नहीं बनेगा...

News18Hindi
Updated: October 26, 2019, 8:33 PM IST
मजदूर का बेटा बीजेपी के टिकट पर बना विधायक, कहा-अब राजा का बेटा राजा नहीं बनेगा...
मालशिरस सीट से बीजेपी के राम विट्ठल सातपुते (Ram Vitthal Satpute) ने जीत दर्ज की. उन्होंने 2590 वोटों के अंतर से एनसीपी के उम्मीदवार उत्तमराव शिवदास जानकार (Uttamrao Shivdas Jankar) को मात दी.

अष्टी इलाके के निवासी सतपुते (Ram Satpute) एबीवीपी (ABVP) में प्रदेश मंत्री के पद पर भी काम कर चुके हैं. इसके बाद वह बीजेपी युवा मोर्चा में शामिल हो गए, यहां वह प्रदेश उपाध्यक्ष बने. उन्हें सीएम देवेंद्र फडणवीस (Devendra Fadanvis) का खास माना जाता है. उनके पिता विट्ठल सतपुते चीनी मिल में मजदूरी करते थे.

  • News18Hindi
  • Last Updated: October 26, 2019, 8:33 PM IST
  • Share this:
मालशिरस (महाराष्ट्र). महाराष्ट्र विधानसभा (Maharashtra Assembly election) के नतीजों में बीजेपी एक बार फिर से 105 सीटें जीतकर सबसे बड़ी पार्टी बनी है. 105 विधायकों में से एक विधायक बने हैं राम सतपुते (Ram Satpute). उन्होंने मालशिरस सीट से जीत हासिल की है. उनकी जीत इसलिए भी खास है, क्योंकि वह बहुत ही साधारण परिवार से आते हैं. उनके पिता मजदूरी करते थे. इस बार बीजेपी (BJP) ने उन्हें टिकट दिया और उन्होंने एक कड़े मुकाबले में एनसीपी उम्मीदवार को मात देते हुए जीत हासिल की.

मालशिरस सीट से बीजेपी के राम विट्ठल सातपुते (Ram Vitthal Satpute) ने जीत दर्ज की. उन्होंने 2590 वोटों के अंतर से एनसीपी के उम्मीदवार उत्तमराव शिवदास जानकार (Uttamrao Shivdas Jankar) को मात दी. सतपुते लम्बे अरसे तक संघ के अनुषांगिक संगठन अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद (एबीवीपी) के भी सदस्य रहे हैं. उन्होंने इंजीनियरिंग की पढ़ाई की है.

अष्टी इलाके के निवासी सतपुते (Ram Satpute) एबीवीपी (ABVP) में प्रदेश मंत्री के पद पर भी काम कर चुके हैं. इसके बाद वह बीजेपी युवा मोर्चा में शामिल हो गए, यहां वह प्रदेश उपाध्यक्ष बने. उन्हें सीएम देवेंद्र फडणवीस (Devendra Fadanvis) का खास माना जाता है. उनके पिता विट्ठल सतपुते चीनी मिल में मजदूरी करते थे.

एक इंटरव्यू के दौरान उन्होंने कहा, 'मेरे लिए ये क्षण काफी बड़ा और खुशी देने वाला है. एक मजदूर का बेटा विधायक बना है. ये ठीक वैसे ही जैसे अभी हाल में आई एक फिल्म में कहा गया था कि राजा का बेटा राजा नहीं बनेगा, जो हकदार होगा वही बनेगा.'


Loading...



सिर्फ 16 हजार कैश और 68 हजार जमापूंजी
राम के पास 16 हजार रुपये कैश और 68 हजार रुपए बैंक में जमा पूंजी है. 3 लाख 65 हजार रुपये के टू व्हीलर हैं. इनमें एक बुलट, तीन होंडा स्कूटर और एक स्कूटी है. 5 लाख रुपए के सोने चांदी के आभूषण हैं.

मालशिरस विधानसभा सीट राकांपा का गढ़ मानी जाती है. यहां पर जीत हासिल करना भगवा खेमे के लिए टेढ़ी खीर माना जाता है. लेकिन, यहां बीजेपी के लिए जीत मिलना एक तरह से बड़ा इशारा है. हालांकि बाकी के इस इलाके में एनसीपी उसी तरह मजबूत रही है. उसने अपने विधायकों की संख्या में 13 की बढ़ोतरी की है, जबकि सत्तारूढ़ गठबंधन में भाजपा और शिवसेना को मिलाकर कुल 24 सीटों का घाटा हुआ है.

ये भी पढ़ें: महाराष्ट्र में ढाई साल के लिए सीएम पद पर अड़ी शिवसेना, कहा- लिखकर दे बीजेपी

ये भी पढ़ें: महाराष्ट्र: शिवसेना विधायकों की इस मांग से फंस सकता है पेंच, BJP की चिंता बढ़ी

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए Mumbai से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: October 26, 2019, 7:15 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...