लाइव टीवी

अशोक चव्हाण का बड़ा खुलासा, कहा- सरकार गठन से पहले सोनिया ने उद्धव से लिखित में मांगा था आश्वासन

भाषा
Updated: January 27, 2020, 7:22 PM IST
अशोक चव्हाण का बड़ा खुलासा, कहा- सरकार गठन से पहले सोनिया ने उद्धव से लिखित में मांगा था आश्वासन
सोनिया गांधी ने प्रदेश कांग्रेस के नेताओं को यह भी बताया था कि अगर सरकार उम्मीद के मुताबिक काम नहीं करती है तो पार्टी को उससे अलग हो जाना चाहिए.

महाराष्ट्र (Maharashtra) के लोकनिर्माण मंत्री अशोक चव्हाण (Ashok Chavan) ने नांदेड़ में एक सभा के दौरान कहा कि सोनिया गांधी (Sonia Gandhi) ने स्पष्ट दिशा-निर्देश दिए थे कि राज्य सरकार हर हाल में संविधान के दायरे में काम करेगी.

  • Share this:
औरंगाबाद. महाराष्ट्र के पूर्व मुख्यमंत्री और कांग्रेस के वरिष्ठ नेता अशोक चव्हाण (Former CM Ashok Chavan) ने राज्य में शिवसेना एनसीपी और कांग्रेस के गठबंधन वाली सरकार बनने से पहले कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी (Congress President Sonia Gandhi) द्वारा की गई एक मांग का खुलासा किया है. चव्हाण ने कहा कि राज्य में सरकार बनने से पहले सोनिया गांधी (Sonia Gandhi) ने शिवसेना (Shivsena) से लिखित में यह आश्वासन मांगा था कि महाराष्ट्र (Maharashtra) में सरकार संविधान (Constitution) के दायरे में काम करेगी.

राज्य के लोकनिर्माण मंत्री ने रविवार को नांदेड़ में एक सभा के दौरान कहा कि सोनिया गांधी ने स्पष्ट दिशा-निर्देश दिए थे कि राज्य सरकार हर हाल में संविधान के दायरे में काम करेगी.

नेताओं को मिले थे ये निर्देश
चव्हाण ने कहा, “उन्होंने हमें बताया कि हमें पहले यह लिखित में लेना होगा (शिवसेना से) कि सरकार को संविधान के दायरे में काम करना चाहिए और संविधान की प्रस्तावना का उल्लंघन नहीं करना चाहिए. हमसे कहा गया कि हम यह उद्धव ठाकरे (Uddhav Thackeray) को बता दें.”

ठाकरे ने पिछले साल नवंबर में कांग्रेस और एनसीपी के सहयोग से प्रदेश में गठबंधन सरकार बनाई थी. प्रदेश में हुए हालिया विधानसभा चुनाव (Maharashtra Assembly Elections) में किसी भी दल को स्पष्ट बहुमत नहीं मिला था.

अलग होने के भी मिले थे निर्देश
अशोक चव्हाण ने कहा कि सोनिया गांधी ने प्रदेश कांग्रेस के नेताओं को यह भी बताया था कि अगर सरकार उम्मीद के मुताबिक काम नहीं करती है तो पार्टी को उससे अलग हो जाना चाहिए. उन्होंने कहा, “हमने यह बात ठाकरे के बता दी थी. वह इससे सहमत थे और हमने सरकार बनाई.”फडणवीस ने साधा निशाना
चव्हाण के बयान पर प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए पूर्व मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस (CM Devendra Fadanvis) ने कहा कि शिवसेना को महाराष्ट्र विकास आघाडी सरकार (Maharashtra Vikas Aghadi Government) बनाने से पहले किए गए “करारों” को स्पष्ट करना चाहिए.

फडणवीस ने मीडिया से कहा, “गठबंधन में शामिल दलों को अगर विश्वास (शिवसेना पर) नहीं है तो शिवसेना सरकार में क्यों है?”

इससे पहले फडणवीस ने महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे पर निशाना साधते हुए ने कहा था कि सरकर का ‘‘रिमोट कंट्रोल’’ एनसीपी के हाथ में है और ‘‘बैटरी’’ कांग्रेस के पास है. उन्होंने कहा कि महाराष्ट्र की जनता ने सबसे बड़ा दल बना भाजपा को जनादेश दिया था लेकिन हमारे साथ चालाकी और धोखा किया गया ताकि हम सरकार नहीं बना सके.

ये भी पढ़ें-
केरल, पंजाब और राजस्‍थान के बाद पश्चिम बंगाल में CAA के खिलाफ प्रस्‍ताव पास

मालेगांव बम धमाके की जांच करने वाले ये अधिकारी बन सकते हैं दिल्ली के CP

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए महाराष्ट्र से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: January 27, 2020, 7:22 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर