PMC बैंक घोटालाः PIL पर सुनवाई को तैयार सुप्रीम कोर्ट, 15 लाख लोगों का फंसा है पैसा
Mumbai News in Hindi

PMC बैंक घोटालाः PIL पर सुनवाई को तैयार सुप्रीम कोर्ट, 15 लाख लोगों का फंसा है पैसा
याचिका में 15 लाख खाताधारकों की सुरक्षा पर चिंता जताते हुए उनके लिए 100 प्रतिशत इंश्योरेंस कवर देने की मांग की गई है.

सभी खाताधारकों (Account Holders) के 100 प्रतिशत बीमा कवर (Insurance Cover) को लेकर दाखिल की गई है याचिका (Plea), मामले में अब तक हो चुकी है तीन लोगों की मौत.

  • News18Hindi
  • Last Updated: October 16, 2019, 11:55 AM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. पंजाब एंड महाराष्ट्र को-ऑपरेटिव (PMC) घोटाले (Scam) में बुधवार को नया मोड़ आया. मामले के संबंध में दायर एक याचिका (Plea) पर सुप्रीम कोर्ट (Supreme Court) सुनवाई के लिए तैयार हो गया. यह याचिका बिजॉन मिश्रा की तरफ से दाखिल की गई है. याचिका में 15 लाख खाताधारकों (Account Holders) की सुरक्षा पर चिंता जताते हुए उनके लिए 100 प्रतिशत इंश्योरेंस कवर (Insurance Cover) की मांग की गई है.

18 अक्टूबर को होगी सुनवाई
मामले में सुप्रीम कोर्ट ने याचिका स्वीकार करते हुए कहा है कि मामले की गंभीरता को देखते हुए कोर्ट इस याचिका पर सुनवाई करेगा. सुप्रीम कोर्ट ने बताया कि मामले की सुनवाई 18 अक्टूबर को होगी.





तीन लोगों की हो चुकी है मौत
पीएमसी बैंक घोटाले में पिछले 48 घंटों में 3 खाताधारकों की मौत हो चुकी है. इनमें फट्टोमल पंजाबी और संजय गुलाटी की हार्ट अटैक से मौत हो गई है. इसके बाद मंगलवार को ही मुंबई के वरसोवा इलाके में रहने वाली 39 वर्षीय एक डॉक्टर जो कि आत्महत्या कर ली है. जानकारी के मुताबिक डॉक्टर योगिता बिजलानी (39) ने बीती रात नींद की गोलियों की ओवरडोज के जरिए आत्महत्या कर ली. बताया जा रहा है कि तीनों ही लोग अवसाद में थे और इनक करोड़ेां रुपये पंजाब एंड महाराष्ट्र कोऑपरेटिव बैंक में जमा थे. हालांकि वरसोवा पुलिस ने इस आत्महत्या का संबंध पीएमसी बैंक घोटाले से होने से इनकार कर दिया है. पुलिस का कहना है कि उन्होंने शुरुआती जांच में पाया गया है कि योगिता ने बीते साल अमेरिका में भी सुसाइड करने की असफल कोशिश की थी.

आरोपियों की न्यायिक हिरासत 23 तक
पीएमसी घोटाले में बुधवार को मुंबई के एक कोर्ट सुनवाई के बाद आरोपी राकेश वाधवान, सारंग वाधवान और वरयम सिंह की न्यायिक हिरासत 23 अक्‍टूबर तक कर दी है. वहीं खाताधारक लगातार आरोपियों और सरकार के खिलाफ प्रदर्शन कर रहे हैं. इसी क्रम में मंलगवार को भी खाताधारक मुंबई में कोर्ट के बाहर पहुंचे और सरकार व आरोपियों के खिलाफ नारेबाजी की.



किसी भी आरोपी को नहीं छोड़ेंगे
वहीं मुंबई के आर्धिक अपराध शाखा के डीएसपी श्रीकांत परोपकारी बुधवार को खाताधारकों से कोर्ट के बाहर मिले. इस दौरान उन्होंने कहा कि किसी भी आरोपी को नहीं छोड़ा जाएगा. उन्होंने लोगों से कहा कि वे उनसे हर दिन आकर मिल सकते हैं और अपनी समस्या बता सकते हैं. इसके साथ ही उन्होंने कहा कि हम अपनी पूरी कोशिश करेंगे खाताधारकों का रुपया उनको मिल जाए.

ये भी पढ़ें ः PMC बैंक घोटाला: हार्टअटैक से 2 की मौत के बाद 39 साल की डॉक्टर ने की आत्महत्या
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading