SSR Case: सुशांत केस में 302 की धारा जोड़ सकती है CBI, पिठानी और नीरज बनेंगे सरकारी गवाह!

Sushant Singh Rajput Death Case: सुशांत सिंह राजपूत के मामले सीबीआई दूसरे चरण की जांच शुरू करने जा रही है.
Sushant Singh Rajput Death Case: सुशांत सिंह राजपूत के मामले सीबीआई दूसरे चरण की जांच शुरू करने जा रही है.

Sushant Singh Rajput Death Case: सुशांत सिंह राजपूत (Sushant Singh Rajput Death Case) की मौत की जांच कर रही सीबीआई (CBI) को एम्‍स (AIIMS) ने सुशांत की विसरा रिपोर्ट सौंप दी है. एम्‍स की रिपोर्ट में कई ऐसे तथ्‍य हैं, जो यह भी संकेत दे रहे हैं कि सुशांत सिंह राजपूत की आत्‍महत्‍या साधारण खुदकुशी नहीं थी.

  • News18Hindi
  • Last Updated: October 2, 2020, 7:00 AM IST
  • Share this:
मुंबई. बॉलीवुड अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत (Sushant Singh Rajput Death Case) की मौत के मामले में सीबीआई (CBI) जल्द ही आईपीसी की धारा 302 (मर्डर) को जोड़ सकती है. सुशांत की मौत की जांच कर रही सीबीआई को एम्‍स (AIIMS) ने विसरा रिपोर्ट सौंप दी है. इस रिपोर्ट को देखने के बाद सीबीआई अपनी जांच आगे बढ़ाने जा रही है. खबर है कि इस पूरे मामले में सीबीआई सुशांत के मैनजर सिद्धार्थ पिठानी और कुक नीरज को सरकारी गवाह बना सकती है.

बता दें कि एम्‍स ने अपनी रिपोर्ट में यह बात कही है कि सुशांत के विसरा में किसी तरह के जहर का कोई सबूत नहीं मिला है. हालांकि एम्‍स की रिपोर्ट में कई ऐसे तथ्‍य हैं, जो यह भी संकेत दे रहे हैं कि सुशांत सिंह राजपूत की आत्‍महत्‍या साधारण खुदकुशी नहीं थी. रिपोर्ट में कहा गया है कि गले का लिगेचर मार्क सामान्‍य खुदकुशी की तरह नहीं है.

एम्स की रिपोर्ट में कूपर हॉस्प्टिल की पोस्टमार्टम रिपोर्ट पर कई तरह के सवाल खड़े किए गए हैं. एम्स के डॉक्टर सुधीर गुप्ता के मुताबिक कूपर हॉस्पिटल में सुशांत की पोस्टमार्टम रिपोर्ट बनाते समय कई ​जरूरी बातों का ध्यान नहीं रखा. ये सवाल इसलिए उठाए जा रहे हैं क्योंकि इनका रिपोर्ट में होना जरूरी होता है. एम्स की रिपोर्ट में कहा गया है कि सुशांत सिंह राजपूत की मौत का समय पोस्टमार्टम रिपोर्ट में नहीं है. सुशांत का पोस्टमार्टम शाम के समय और धीमी रोशनी में किया गया. उनकी विसरा रिपोर्ट में ड्रग्स की जांच से जुड़ा कोई भी तथ्य मौजूद नहीं है.



इसे भी पढ़ें :- SSR Case: AIIMS ने सीबीआई को सौंपी सुशांत की प्राइमरी रिपोर्ट, मौत को लेकर खुलेंगे कई राज़
सुशांत से एक दिन पहले ही मिली थीं रिया चक्रवर्ती
मुंंबई में बीजेपी के सेक्रेटरी और एडवोकेट विवेकानंद गुप्ता का कहना है कि एक चश्मदीद ने दावा किया है सुशांत सिंह राजपूत की मौत से एक दिन पहले ही रिया चक्रवर्ती, सुशांत सिंह राजपूत से मिलने आई थीं. उन्होंने एक चैनल को बताया कि चश्मदीद ने दावा किया है कि 13 जून को रात करीब 2 से 3 बजे रिया, सुशांत से मिलने आईं थीं. इसके बाद सुशांत उन्हें घर छोड़ने भी गए थे. ऐसे में रिया का ये कहना है कि 8 जून को सुशांत से अलग होने के बाद वह उनसे नहीं मिलीं ये झूठ है.

इसे भी पढ़ें :- सुशांत सिंह राजपूत के गले में पड़े निशान सामान्‍य खुदकुशी के नहीं, AIIMS की रिपोर्ट में दावा

सिद्धार्थ पिठानी और कुक नीरज बन सकते हैं सरकारी गवाह: सूत्र
मीडिया रिपोर्ट्स के मुता​बिक सिद्धार्थ पिठानी को सुशांत सिंह राजपूत के घर की हर एक जानकारी रहती थी. सुशांत की मौत से एक दिन पहले उनसे मिलने कौन कौन आया था. सुशांत और रिया की आखिरी बार कब मुलाकात हुई इन सब की जानकारी सिद्धार्थ को थी. सीबीआई की पूछताछ में सिद्धार्थ ने सीबीआई को हर एक जानकारी भी दे दी है. सिद्धार्थ की तरह ही सुशांत का कुक भी इस पूरे केस की अहम कड़ी है. ऐसे में बताया जा रहा है कि सीबीआई सिद्धार्थ और नीरज को सरकारी गवाह बना सकती है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज