Sushant Case: घर से ड्रग्स न मिलने पर भी शोविक और मिरांडा की हो सकती है गिरफ्तारी
Patna News in Hindi

Sushant Case: घर से ड्रग्स न मिलने पर भी शोविक और मिरांडा की हो सकती है गिरफ्तारी
Sushant Singh Rajput Death Case: सुशांत सिंह राजपूत के हाउस मैनेजर सैमुअल मिरांडा के घर पहुंची NCB की टीम.

Sushant Singh Rajput Death Case: तलाशी के बाद NCB की टीम रिया चक्रवर्ती (Rhea Chakraborty) के भाई शोविक चक्रवर्ती (shouvik chakraborty) और सुशांत सिंह राजपूत (Sushant Singh Rajput) के हाउस मैनेजर सैमुअल मिरांडा (samuel miranda) को अपने साथ पूछताछ के लिए ले गई है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: September 4, 2020, 8:19 PM IST
  • Share this:
मुंबई. सुशांत सिंह राजपूत (Sushant Singh Rajput) की मौत के मामले में ड्रग्स (Drugs) के एंगल से जांच कर रही नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो (NCB) की टीम ने आज सुबह करीब 3:30 घंटे तक रिया चक्रवर्ती (Rhea Chakraborty) के सांताक्रूज के फ्लैट की ​तलाशी ली. इसी दौरान सुशांत सिंह राजपूत के हाउस मैनेजर ​सैमुअल मिरांडा के घर पर भी छापा मारा गया. तलाशी के बाद NCB की टीम रिया के भाई शोविक चक्रवर्ती (shouvik chakraborty) और सैमुअल मिरांडा (samuel miranda) को अपने साथ पूछताछ के लिए ले गई है. ऐसे में अब कयास लगाए जा रहे हैं कि ड्रग्स मामले में अब इन दोनों की गिरफ्तारी भी हो सकती है.

सुशांत सिंह राजपूत की मौत के केस में ड्रग्स एंगल की जांच कर रही नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो (NCB) की टीम को भले ही रिया चक्रवर्ती के घर से कुछ खास सबूत हाथ न लगे हों इसके बावजूद रिया के भाई शोविक और सैमुअल मिरांडा पर गिरफ्तार की तलवार लटक रही है. बता दें कि NDPS कानून के मुताबिक ये जरूरी नहीं है कि किसी शख्स या आरोपी के पास से ड्रग्स बरामद हो तभी उसको गिरफ्तार किया जाएगा या उसे सजा होगी.

NDPS की कई धाराओं में अगर किसी शख्स के पास से ड्रग्स डील से जुड़े दस्तावेज यानी वाट्सऐप चैट्स, ड्र्ग्स खरीद फरोख्त में मनी ट्रेल के सबूत और CRD कॉल डिटेल्स के रिकॉर्ड भी गिरफ्तारी के लिए काफी हैं. इन सबमें सबसे अहम NCB के सामने NDPS अधिनियम, 1985 की धारा 67 के तहत दिए गए आरोपियों के बयान सबसे ज्यादा मायने रखते हैं. NCB के सामने दिए बयान कोर्ट में दिए बयान के बराबर हैं. इसका मतलब साफ है कि अगले कुछ घंटों के बाद शोविक और सैमुअल मिरांडा की मुश्किलें काफी बढ़ सकती हैं.



इसे भी पढ़ें :- सुशांत सिंह राजपूत केस: ड्रग मामले में जांच एजेंसियों ने कसा शिकंजा, रिया और सैमुअल के घर की तलाशी जारी


जैद और बासित से थे शोविक और मिरांडा के कनेक्शन
सुशांत सिंह राजपूत की मौत के मामले में ड्रग्स कनेक्शन की जांच कर रही NCB की टीम ने इस पूरे नेटवर्क के दो अहम किरदारों जैद और बासित को गिरफ्तार किया है. इनकी गिरफ्तारी के बाद से शोविक और मिरांडा के साथ उनके कनेक्शन का भी पता चला है. शोविक और मिरांडा से अब जब NCB पूछताछ करेगी तो सीधे तौर पर उन दोनों से जैद और बासित से उनके ड्रग्स कारोबार के रिश्तों के बारे में सवाल किए जाएंगे. ऐसे में अब शोविक और मिरांडा NCB की पूछताछ में कोई भी झूठा बयान नहीं दे सकेंगे.

इसे भी पढ़ें : NCB ने ड्रग पैडलर को हिरासत में लिया, रिया और उसके भाई के साथ संबंधों का शक

बट ड्रग्स में 1 से 10 साल तक की होती है सजा
बट ड्रग्स की खरीद फरोख्त में कम से कम 1 साल से लेकर अधिकतम 10 साल तक सजा का प्रावधान है. बता दें कि NCB के पास ऐसे पुख्ता सबूत है कि शोविक और मिरांडा बट ड्रग्स की न केवल ​डीलिंग कर रहे थे बल्कि उन्होंने कई बार बट खरीदी भी थी. इसके लिए उन्होंने जैद से कई बार मुलाकात की और ड्रग्स के बदले पैसे भी दिए हैं.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज