• Home
  • »
  • News
  • »
  • maharashtra
  • »
  • सुशांत सिंह राजपूत मौत केस: CBI की चुप्पी पर महाराष्ट्र कांग्रेस ने उठाए सवाल

सुशांत सिंह राजपूत मौत केस: CBI की चुप्पी पर महाराष्ट्र कांग्रेस ने उठाए सवाल

सुशांत सिंह राजपूत का शव 14 जून, 2020 को उनके फ्लैट में मिला था. (File pic)

सुशांत सिंह राजपूत का शव 14 जून, 2020 को उनके फ्लैट में मिला था. (File pic)

Sushant Singh Rajput Death Case: 34 साल के सुशांत सिंह राजपूत 14 जून, 2020 को मुंबई के बांद्रा इलाके में अपने अपार्टमेंट में पंखे पर फंदे से लटके मिले थे और सीबीआई ने पिछले साल अगस्त में जांच का जिम्मा संभाला था

  • Share this:

    मुंबई. कांग्रेस की महाराष्ट्र इकाई ने बृहस्पतिवार को केंद्रीय अन्वेषण ब्यूरो (CBI) पर फिल्म अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत की मौत (Sushant Singh Rajput Death Case) के मामले में जांच पर ‘चुप्पी’ साधने का आरोप लगाया है. सीबीआई ने एक साल पहले मामले में जांच संभाली थी. पार्टी ने आरोप लगाया कि राष्ट्रीय जांच एजेंसियों का इस्तेमाल केंद्र अपने खुद के ‘राजनीतिक एजेंडा’ के लिए कर रहा है.

    राजपूत (34) 14 जून, 2020 को मुंबई के बांद्रा इलाके में अपने अपार्टमेंट में पंखे पर फंदे से लटके मिले थे और सीबीआई ने पिछले साल अगस्त में जांच का जिम्मा संभाला था. प्रदेश कांग्रेस के प्रवक्ता सचिन सावंत ने ट्वीट किया, ‘सीबीआई द्वारा सुशांत सिंह राजपूत की दुर्भाग्यपूर्ण मौत की जांच मुंबई पुलिस से लिए हुए आज एक साल हो गया. मुंबई पुलिस द्वारा प्राथमिकी सीआरपीसी की धारा 177 के तहत दर्ज की गई थी. शीर्ष अदालत ने भी मुंबई पुलिस द्वारा की गई जांच पर संतुष्टि जताई थी.’

    ये भी पढ़ें:- आगरा से भोपाल या मुंबई सड़क मार्ग से जाना है तो इन रास्‍तों से बचें, जानें वैकल्पिक रास्‍ते 

    उन्होंने कहा कि अब 300 दिन से भी ज्यादा हो गए हैं जब एम्स की एक समिति ने हत्या होने की बात खारिज कर दी थी. उन्होंने ट्वीट में आरोप लगाया, ‘सीबीआई जान-बूझकर चुप है. राष्ट्रीय जांच एजेंसियों द्वारा जांच का यह मजाक इस बात का उपयुक्त उदाहरण है कि मोदी सरकार इन एजेंसियों का इस्तेमाल अपने राजनीतिक एजेंडे के लिए कैसे कर रही है.’

    सावंत ने एक अन्य ट्वीट में दावा किया कि गुप्तेश्वर पांडे (बिहार के पूर्व डीजीपी) को भाजपा के राजनीतिक एजेंडा को आगे बढ़ाने के लिए इस्तेमाल किया गया जो मुंबई पुलिस की छवि को “धूमिल” करने और महाराष्ट्र में महा विकास आघाडी (एमवीए) सरकार को “अस्थिर” करने का था. कांग्रेस नेता ने आरोप लगाया, “भाजपा इस मामले को खुलेआम हत्या, बलात्कार का एंगल देकर निम्नतम स्तर तक गिर गई थी और उसने सुशांत की मृत्यु के मामले का बिहार के चुनावों में भी इस्तेमाल किया.” सांवत ने दावा किया कि एमवीए सरकार पर ‘‘समन्वित हमला” किया गया था.

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज