• Home
  • »
  • News
  • »
  • maharashtra
  • »
  • ठाणे: अतिक्रमण हटवाने पहुंची अधिकारी पर चाकू से हमला, काट डाली दो उंगलियां

ठाणे: अतिक्रमण हटवाने पहुंची अधिकारी पर चाकू से हमला, काट डाली दो उंगलियां

आरोपी ने  कल्पिता पिंपले पर सब्जी काटने वाले चाकू से हमला किया (सांकेतिक फोटो)

आरोपी ने कल्पिता पिंपले पर सब्जी काटने वाले चाकू से हमला किया (सांकेतिक फोटो)

महाराष्ट्र (Maharashtra) की ठाणे म्यूनिसिपल कार्पोरेशन (TMC) की अधिकारी पर हमला करने के बाद उसने उसी चाकू से खुद की भी जान लेने की धमकी की दी. हमलावर की पहचान अमरजीत सिंह यादव के तौर पर हुई है.

  • Share this:

    ठाणे. महाराष्ट्र (Maharashtra) की ठाणे म्यूनिसिपल कार्पोरेशन (TMC) ने अतिक्रमण के खिलाफ सोमवार को कार्रवाई की. हालांकि इस दौरान उन्हें काफी विरोध झेलना पड़ा. इतना ही नहीं एक स्ट्रीट वेंडर ने असिस्टेंट म्यूनिसिपल कमिश्नर कल्पित पिंपले और उनकी सिक्योरिटी में लगे शख्स पर चाकू से हमला कर दिया. इस हमले में पिंपले को दो उंगलियां खोनी पड़ीं. उनके सिक्योरिटी गार्ड की भी एक उंगली कट गई. दोनों ने हमलावर से बचाव के लिए अपने हाथ आगे किए थे. दोनों फिलहाल अस्पताल में हैं और उनका इलाज चल रहा है. इतना ही नहीं अधिकारी पर हमला करने के बाद उसने उसी चाकू से खुद की भी जान लेने की धमकी की दी. हमलावर की पहचान अमरजीत सिंह यादव के तौर पर हुई है. उसने मौके पर मौजूद पुलिसकर्मियों को धमकी दी कि अगर वह उसके करीब आए तो वह खुद की भी जान ले लेगा. हालांकि कड़ी मशक्कत के बाद उसे गिरफ्तार किया गया.

    पुलिस के अनुसार घटना कसरवाडावली बाजारपेठ में शाम करीब 6.30 बजे हुई जब TMC के मनपाड़ा डिवीजन की अधिकारी पिंपले रेहड़ी-पटरी वालों के खिलाफ अतिक्रमण विरोधी अभियान की अगुआई कर रहीं थीं. उनकी टीम ने यादव की सब्जी की दुकान को हटा दिया. इसके बाद जैसे ही पिंपले, यादव की दुकान  से आगे बढ़ीं, उसने धारदार चाकू से हमला कर दिया. इसके बाद 40 वर्षीय अधिकारी ने खुद के बचाव में हाथ आगे किया और उनकी उंगलियां कट गईं.

    पिंपले को बचाने के लिए दौड़ा सुरक्षा गार्ड
    पुलिस ने कहा कि अधिकारी का सुरक्षा गार्ड, पिंपले को बचाने के लिए दौड़ा, लेकिन यादव ने उस पर भी हमला किया और उसकी एक उंगली कट गई. अतिक्रमण विरोधी अभियान में तीन महिला कर्मियों समेत 5 पुलिकर्मियों को तैनात किया गया था. हालांकि विभाग के अधिकारियों का कहना है कि यह इतना जल्दी में हुआ कि संभलने का मौका ही नहीं मिला.

    कसरवाडावली पुलिस स्टेशन के वरिष्ठ पुलिस निरीक्षक किरण खैरनार ने कहा, ‘आरोपी पर भारतीय दंड संहिता की संबंधित धाराओं के तहत हत्या के प्रयास, मारपीट और ड्यूटी करते समय लोक सेवक को रोकने के लिए मामला दर्ज किया गया है.’

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    हमें FacebookTwitter, Instagram और Telegram पर फॉलो करें.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज