जिस इंजीनियर पर राणे समर्थकों ने फेंका था कीचड़ अब मांग रहा ट्रांसफर

लोक निर्माण विभाग के डिप्टी इंजीनियर प्रकाश शेडेकर इस वारदात के बाद से ही सदमे में हैं ओर वे जल्द से जल्द ट्रांसफर चाहते हैं. वहीं इस घटना के बाद से ही प्रकाश छुट्टी पर चले गए हैं और काम पर नहीं आ रहे हैं.

News18Hindi
Updated: July 14, 2019, 12:08 PM IST
जिस इंजीनियर पर राणे समर्थकों ने फेंका था कीचड़ अब मांग रहा ट्रांसफर
प्रकाश से संपर्क करने की कोशिश की तो उन्होंने इस घटना पर कुछ भी नहीं बोला. उन्होंने सिर्फ यही कहा कि वे अपने परिवार के साथ हैं और अभी घर पर आराम कर रहे हैं. पूरा परिवार अभी परेशान है.
News18Hindi
Updated: July 14, 2019, 12:08 PM IST
महाराष्ट्र के संधूदुर्ग जिले में गाद नदी पर बन रहे पुल के निर्माण को लेकर कुछ ही दिनों पहले जिस इंजीनियर पर कांग्रेस के एमएलए नितेश राणा के सहयोगियों ने कीचड़ डाला था वह अब ट्रांसफर की मांग कर रहे हैं. बताया जा रहा है कि लोक निर्माण विभाग के डिप्टी इंजीनियर प्रकाश शेडेकर इस वारदात के बाद से ही सदमे में हैं ओर वे जल्द से जल्द ट्रांसफर चाहते हैं. वहीं इस घटना के बाद से ही प्रकाश छुट्टी पर चले गए हैं और काम पर नहीं आ रहे हैं.

जल्द ही होगी कार्रवाई


प्रकाश के स्‍थानांतरण की बात पर पीडब्‍ल्यूडी के सचिव अजीत सगाने ने कहा कि हां उन्होंने ट्रांसफर की मांग की है. अभी यह निर्णय करना बाकि है उन्हें अगली पोस्टिंग कहां दी जाए. हम इस पर जल्द ही कार्रवाई करेंगे. वहीं पीडब्‍ल्यूडी के एक अन्य वरिष्ठ अधिकारी ने कहा कि प्रकाश के साथ जिस तरह की घटना हुई उसके बाद उनका वहां काम करना संभव नहीं होगा. वहां के कुछ स्‍थानीय लोग राणे के समर्थक हैं और वे उन पर फिर हमला कर सकते हैं. वे अभी काफी परेशान हैं और कंकावली परियोजना पर वे काम नहीं कर सकेंगे.

नहीं की प्रकाश ने बात

एक मीडिया हाउस ने प्रकाश से संपर्क करने की कोशिश की तो उन्होंने इस घटना पर कुछ भी नहीं बोला. उन्होंने सिर्फ यही कहा कि वे अपने परिवार के साथ हैं और अभी घर पर आराम कर रहे हैं. पूरा परिवार अभी परेशान है. वहीं उनके परिवार के एक करीबी ने बताया कि पूरा परिवार अवसाद में है. प्रकाश की पत्नी, मां और बेटे ने पीडब्‍ल्यूडी मिनिस्टर चंद्रकांत पाटिल से ट्रांसफर करने की अपील की है. पाटिल पुणे स्थित प्रकाश के घर गए थे इस दौरान उन्होंने परिवार को विश्वास दिलाया था कि हर हाल में प्रकाश को न्याय दिलवाया जाएगा और उन्होंन जिला कलक्टर को भी कहा था कि हत्या के प्रयास का मामला भी राणे के खिलाफ दर्ज किया जाए.

क्या था मामला
सिंधूदुर्ग जिले में स्थित कांकावली में गाद नदी पर पीडब्‍ल्यूडी पुल का निर्माण करवा रहा है. इस दौरान 4 जुलाई को कांग्रेस विधायक नितेश राणे और उनके समर्थक पुल के निर्माण में हो रही देरी को लेकर प्रदर्शन करने पहुंचे थे. वहां पर उन्होंने प्रकाश के साथ बदसलूकी की. उन्हें पहले पुल से बांध दिया और हाथापाई की. इसके बाद उन पर कीचड़ फेंका गया. इसके बाद राणे को उसी शाम गिरफ्तार कर लिया गया था. बाद में राणे को 10 जुलाई को जमानत मिल गई थी.
Loading...

ये भी पढ़ेंः नहीं मिला नाले में गिरा दिव्यांश, बंद हुआ सर्च ऑपरेशन

IIT बॉम्बे के कैंपस में सांड का आतंक, हमले में 1 छात्र घायल
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...