माता-पिता को गिरफ्तार करवाना चाहती थी 12 साल की लड़की, फोन से भेजे धमकी भरे ई-मेल
Maharashtra News in Hindi

माता-पिता को गिरफ्तार करवाना चाहती थी 12 साल की लड़की, फोन से भेजे धमकी भरे ई-मेल
लड़की ने बताया कि उसके माता-पिता अक्सर उसे डांटते हैं और उसका मानना था कि ई-मेल से उनकी गिरफ्तारी हो जाएगी. (सांकेतिक तस्वीर)

अधिकारी ने बताया, ‘‘जांच में पता चला कि मोबाइल फोन का इस्तेमाल बैंकर की 12 साल की बेटी करती थी. हमने माता-पिता की उपस्थिति में उससे बात की और लड़की ने स्वीकार किया कि ई-मेल उसने भेजे हैं.’’

  • Share this:
मुंबई. मुंबई (Mumbai) में एक 12 साल की लड़की ने कथित रूप से उसपर ध्यान नहीं दिए जाने से परेशान होकर अपने ही माता-पिता को ई-मेल भेजकर लाखों रुपये की फिरौती की मांग कर दी और मांग पूरी नहीं होने पर पूरे परिवार को जान से मारने की धमकी दे दी. पुलिस ने मंगलवार को इसकी जानकारी देते हुए कहा कि लड़की के पिता पेशे से बैंकर हैं. अधिकारी ने बताया कि मुंबई पुलिस (Mumbai Police) की अपराध शाखा (Crime Bureau) की जांच में यह मामला सामने आया जबकि शुरुआत में उसने भारतीय दंड संहिता (Indian Penal Code) की धारा -387 (व्यक्ति को जान से मारने का भय या फिरौती के लिए नुकसान पहुंचाने की धमकी) के तहत प्राथमिकी दर्ज की थी. उन्होंने बताया कि 21 जून को बैंकर ने बोरिवली पुलिस (Borivali Police) से संपर्क कर उसे और उसकी पत्नी को फिरौती की धमकी मिलने की शिकायत की जिसकी जांच अपराध शाखा की नौवीं इकाई ने शुरू की.

अधिकारी ने बताया कि ई-मेल भेजने वाले ने खुद को चीनी नागरिक बताया जो शिकायतकर्ता के परिवार के सभी सदस्यों को जानता है और एक लाख रुपये की मांग की. यह ई-मेल अलग-अलग आईडी से भेजी गई.’’ उन्होंने बताया, ‘‘बाद में ईमेल में फिरौती की राशि बढ़ाकर 1.2 करोड़ रुपये कर दी गई और मांग नहीं पूरी करने पर शिकायतकर्ता, उसकी पत्नी और दोनों बेटियों को जान से मारने की धमकी दी गई. अधिकारी ने बताया कि तकनीकी अन्वेषण से पता चला कि ई-मेल बैंकर के मोबाइल फोन से भेजे गए हैं और यहां तक फिरौती के लिए भेजे गए तीनों ई-मेल का आई पता एक ही था.

ये भी पढ़ें- जहरीली शराब से मौतें सरासर हत्या, शामिल होने पर किसी को नहीं बख्शेंगे:पंजाब CM



उन्होंने बताया, ‘‘जांच में पता चला कि मोबाइल फोन का इस्तेमाल बैंकर की 12 साल की बेटी करती थी. हमने माता-पिता की उपस्थिति में उससे बात की और लड़की ने स्वीकार किया कि ई-मेल उसने भेजे हैं.’’
इसलिए लड़की ने उठाया ऐसा कदम
अधिकारी के मुताबिक, ‘‘लड़की ने बताया कि उसे लगता है कि उसके माता-पिता उसपर ध्यान नहीं देते बल्कि चार साल की उसकी बहन से ज्यादा प्यार करते हैं.’’ लड़की ने बताया कि उसके माता-पिता अक्सर उसे डांटते हैं और उसका मानना था कि ई-मेल से उनकी गिरफ्तारी हो जाएगी.

ये भी पढ़ें- J&K से अनुच्‍छेद 370 हटाने की पहली वर्षगांठ पर शिवसेना ने सरकार से मांगा जवाब

अधिकारी ने बताया कि लड़की के माता-पिता ने आगे की कार्रवाई करने से इनकार कर दिया जिसकी जानकारी हमने बोरिवली पुलिस की अपराध शाखा को दे दी है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज