• Home
  • »
  • News
  • »
  • maharashtra
  • »
  • BMC चुनाव से पहले उत्तर भारतीयों को रिझाने की कोशिश, बीजेपी ने सजाई चौपाल तो कांग्रेस ने पंचायत 

BMC चुनाव से पहले उत्तर भारतीयों को रिझाने की कोशिश, बीजेपी ने सजाई चौपाल तो कांग्रेस ने पंचायत 

कांग्रेस ने भी उत्तर भारतीयों को रिझाने के लिए अब उत्तर भारतीय पंचायत करने का फैसला लिया है (सांकेतिक तस्वीर)

कांग्रेस ने भी उत्तर भारतीयों को रिझाने के लिए अब उत्तर भारतीय पंचायत करने का फैसला लिया है (सांकेतिक तस्वीर)

BMC Elections 2022: मुंबई बीजेपी के उपाध्यक्ष आचार्य पवन त्रिपाठी की मानें तो कांग्रेस की पंचायत उत्तर भारतीयों को ठगने का नया तरीका है और बीजेपी के चौपाल की कॉपी है जबकि बीजेपी के चौपाल में अच्छा प्रतिसाद मिल रहा है.

  • Share this:

मुंबई. मुंबई के बीएमसी चुनाव (BMC Elections) के मद्देनजर अब सभी पार्टियों की नजर उत्तर भारतीय वोट बैंक पर है. चुनाव के ठीक पहले बीजेपी ने उत्तर भारतीयों को अपनी तरफ लाने के लिए चौपाल की शुरुआत की है. पार्टी ने कई जगहों पर कार्यक्रम लेने शुरू किए तो कांग्रेस ने भी उत्तर भारतीयों को अपनी तरफ लाने के लिए उत्तर भारतीय पंचायत का ऐलान किया है. बीएमसी पर किसका कब्जा हो इसके लिए हर पार्टी अपनी रणनीति बना रही है.

बीजेपी को लगता है कि मराठियों के बाद सबसे ज्यादा वोट उत्तर भारतीयों के हैं और ऐसे में अगर उत्तर भारतीय उनके पास आ जाएं तो बीएमसी में उनकी राह आसान हो सकती है. इसलिए बीजेपी ने चुनाव के 6 महीने पहले ही उत्तर भारतीय चौपाल की शुरुआत कर दी जिसका भीड़ के लिहाज से अच्छा रिस्पॉन्स है. कांग्रेस ने भी उत्तर भारतीयों को रिझाने के लिए अब उत्तर भारतीय पंचायत करने का फैसला लिया है. मुंबई कांग्रेस के अध्यक्ष भाई जगताप की मानें तो उत्तर भारतीयों के लिए हमेशा ही कांग्रेस ने काम किया है और कांग्रेस में ही उत्तर भारतीयों को उचित सम्मान मिला है. ऐसे में इस पंचायत के लिए उत्तर भारतीयों की समस्या जानने के लिए और उनको सम्मान देने के लिए कांग्रेस पंचायत सभी 36 विधानसभाओं में लगाई जाएगी.

ये भी पढ़ें- दाऊद इब्राहिम का घर खरीदने वाले वकील का ऐलान, ‘मैं इसे सनातन स्कूल में बदलूंगा’

बीजेपी ने कांग्रेस पर लगाया नकल का आरोप
वहीं बीजेपी ने अपने आप को उत्तर भारतीयों के सबसे करीब मानते हुए चौपाल की शुरुआत की और उनके लिहाज से बीजेपी हर मदद करने की बात कर रही है. मुंबई बीजेपी के उपाध्यक्ष आचार्य पवन त्रिपाठी की मानें तो कांग्रेस की पंचायत उत्तर भारतीयों को ठगने का नया तरीका है और बीजेपी के चौपाल की कॉपी है जबकि बीजेपी के चौपाल में अच्छा प्रतिसाद मिल रहा है.

227 पार्षदों वाली बीएमसी में उत्तर भारतीय वोट 20 लाख से ऊपर हैं  जबकि रहने वालों की संख्या करीब 30 लाख के ऊपर है. ऐसे में करीब 40 सीटें उत्तर भारतीय वोट तय करते हैं. यही वजह है कि सभी पार्टियां अब चुनाव से पहले उत्तर भारतीयों पर मेहरबान हैं.

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

हमें FacebookTwitter, Instagram और Telegram पर फॉलो करें.

विज्ञापन
विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज