मुस्लिम कोटे पर अगर कांग्रेस, NCP साथ छोड़ दें तो हम करेंगे शिवसेना का सपोर्ट: भाजपा नेता
Maharashtra News in Hindi

मुस्लिम कोटे पर अगर कांग्रेस, NCP साथ छोड़ दें तो हम करेंगे शिवसेना का सपोर्ट: भाजपा नेता
उद्धव ठाकरे नीत पार्टी ने कहा, पहले पंडित नेहरू थे और अब मोदी हैं

महाराष्ट्र (Maharashtra) के पूर्व सीएम देवेंद्र फडणवीस (CM Devendra Fadnavis) ने कहा कि सीएम उद्धव ठाकरे (CM Uddhav Thackeray) को इस मामले पर अपना रुख स्पष्ट करना चाहिए.

  • Share this:
मुंबई. भारतीय जनता पार्टी (Bharatiya Janta Party) के वरिष्ठ नेता सुधीर मुगंतीवार ने मंगलवार को कहा कि अगर एनसीपी (NCP) और कांग्रेस (Congress) सरकार छोड़ने की धमकी देकर शिवसेना (Shivsena) पर मुस्लिम कोटा देने का दबाव बनाएं तो वह महाराष्ट्र सरकार (Maharashtra Government) का हाथ थामेगी.

भाजपा के वरिष्ठ नेता सुधीर मुगंतीवार ने संवाददाताओं से कहा कि उनकी पार्टी का मानना है कि आरक्षण धर्म के आधार पर नहीं दिया जा सकता. राज्य के पूर्व वित्त मंत्री ने कहा, 'शिवसेना ने जो रूख अपनाया है वह सही है, वे संविधान की बात कर रहे हैं. संविधान धर्म के आधार पर आरक्षण नहीं देता है.' उन्होंने कहा, 'अगर धर्म के आधार पर ही आरक्षण दिया जाना है तो सिखों और ईसाइयों ने क्या गलती की है?'

मुख्यमंत्री और शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे (CM Uddhav Thackeray) ने हालांकि, मंगलवार को कहा कि मुस्लिम कोटे के लिए प्रस्ताव अभी तक उनके पास नहीं आया है और जब आएगा तो उसकी वैधता का सत्यापन किया जाएगा.



फडणवीस ने कहा- अपना रुख स्पष्ट करें सीएम
इस संबंध में महाराष्ट्र के पूर्व सीएम देवेंद्र फडणवीस (CM Devendra Fadnavis) ने कहा कि सीएम उद्धव ठाकरे को इस मामले पर अपना रुख स्पष्ट करना चाहिए. फडणवीस ने कहा कि उनके मंत्री ने यह बयान राज्य की विधानसभा में दिया है, अगर मुख्यमंत्री इसका समर्थन नहीं करते तो उन्हें सदन में ही इसे खारिज करना चाहिए.

केंद्र ने पहले ही कर दी व्यवस्था
भाजपा नेता ने कहा कि केन्द्र सरकार ने पहले ही आर्थिक रूप से पिछड़े वर्ग के लिए 10 प्रतिशत कोटे की व्यवस्था कर दी है जिसमें मुसलमान और ईसाई दोनों आते हैं.

सुधीर मुगंतीवार ने कहा, "मुझे लगता है कि उद्धव जी ने बहुत सही रूख अपनाया है. शिवसेना के साथ हमरा गठबंधन सिद्धांत पर आधारित था. अगर कांग्रेस और राकांपा इस मुद्दे पर दबाव बना रहे हैं तो शिवसेना को चिंता नहीं करना चाहिए."

मुगंतीवार ने कहा, "अगर वे सरकार छोड़ भी देते हैं तो, हम इस विषय की हद में रहते हुए सरकार का साथ देंगे." गौरतलब है कि अल्पसंख्यक मामलों के मंत्री और राकांपा नेता नवाब मलिक ने पिछले सप्ताह विधान परिषद में कहा था कि सरकार कानून बनाकर मुस्लिमों को पांच फीसदी कोटा उपलब्ध कराएगी.

ये भी पढ़ें-
मुस्लिम आरक्षण पर शिवसेना-NCP में तकरार, उद्धव ने कहा- ऐसा कोई प्रस्‍ताव नहीं

दिल्ली हिंसा: केजरीवाल ने दिखाया कि वह ऐसे राजनेता जिनके लिए वोट ही सब कुछ
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading