होम /न्यूज /महाराष्ट्र /शिंदे से जुड़े नवरात्रि कार्यक्रम में पहुंचीं उद्धव की पत्नी रश्मि ठाकरे, आनंद दिघे को दी श्रद्धांजलि

शिंदे से जुड़े नवरात्रि कार्यक्रम में पहुंचीं उद्धव की पत्नी रश्मि ठाकरे, आनंद दिघे को दी श्रद्धांजलि

उद्धव की पत्नी रश्मि ठाकरे 29 सितंबर, 2022 को ठाणे में एकनाथ शिंदे से जुड़े एक नवरात्रि कार्यक्रम में शामिल हुईं. (ANI Photo)

उद्धव की पत्नी रश्मि ठाकरे 29 सितंबर, 2022 को ठाणे में एकनाथ शिंदे से जुड़े एक नवरात्रि कार्यक्रम में शामिल हुईं. (ANI Photo)

महाराष्ट्र में शिवसेना पर कब्जे को लेकर उद्धव ठाकरे और एकनाथ शिंदे के बीच लड़ाई जारी है, मामला निर्वाचन आयोग के पास पें ...अधिक पढ़ें

हाइलाइट्स

रश्मि ठाकरे ठाणे के तेंभी नाका में एक नवरात्रि कार्यक्रम में पहुंचीं
इस नवरात्रि कार्यक्रम का आयोजन.......एकनाथ शिंदे गुट करता है
उन्होंने शिवसेना के ठाणे मुख्यालय आनंद आश्रम का भी दौरा किया

मुंबई: महाराष्ट्र में शिवसेना पर कब्जे को लेकर उद्धव ठाकरे और एकनाथ शिंदे के बीच लड़ाई जारी है, मामला निर्वाचन आयोग के पास पेंडिंग है. इधर उद्धव की पत्नी रश्मि ठाकरे गुरुवार को ठाणे में एकनाथ शिंदे से जुड़े एक नवरात्रि कार्यक्रम में शामिल हुईं. यहां उन्होंने शिवसेना के ठाणे मुख्यालय ‘आनंद आश्रम’ का दौरा किया और दिवंगत आनंद दीघे को श्रद्धांजलि दी. इसके बाद तेंभी नाका में एक नवरात्रि कार्यक्रम में शामिल हुईं और मां दुर्गा की पूजा अर्चना की. आपको बता दें कि तेंभी नाका महाराष्ट्र के मौजूदा मुख्यमंत्री एकनाथ शिंदे का गढ़ माना जाता है. आपको बता दें कि आनंद दिघे इस क्षेत्र के बेहद लोकप्रिय नेता रहे हैं. तेंभी नाका में नवरात्रि के दौरान विभिन्न समारोहों की शुरुआत उन्होंने ही की थी.

एकनाथ शिंदे उनके शागिर्द रहे हैं. महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री पद की शपथ लेने के दौरान शिंदे ने बालासाहब ठाकरे और आनंद दिघे का नाम भी लिया था. आनंद दिघे के निधन के बाद ठाणे में उनकी राजनीति विरासत एकनाथ शिंदे संभाल रहे हैं. वह खुद 26 सितंबर को नवरात्रि के पहले दिन यहां पहुंचे थे. उद्धव ठाकरे की पत्नी रश्मि ठाकरे जिस वक्त नवरात्रोत्सव मंडल पहुंची थीं, उस वक्त वहां ठाणे के लोकसभा सांसद राजन विचारे, राज्यसभा सांसद प्रियंका चतुर्वेदी के साथ-साथ उद्धव ठाकरे गुट के सैकड़ों कार्यकर्ता मौजूद थे. इनमें से ज्यादातर महिलाएं थीं. हालांकि, उन्होंने यहां न तो मीडिया से कोई बात की और न ही कोई बयान दिया. यहां मौजूद उद्धव समर्थकों ने जरूर असली शिवसेना के नारे लगाए.

अशोक चव्हाण के दावे पर शिंदे गुट के विधायक ने किया पलटवार

महाराष्ट्र में शिवसेना पर हक को लेकर उद्धव ठाकरे और एकनाथ शिंदे गुट के बीच चल रहे विवाद के बीच महाराष्ट्र के मंत्री अब्दुल सत्तार ने गुरुवार को बड़ा दावा किया. उन्होंने कहा कि जब वह कांग्रेस में थे,तो पार्टी नेता अशोक चव्हाण ने एकनाथ शिंदे से मुलाकात कर राज्य में शिवसेना के साथ गठबंधन करने का प्रस्ताव रखा था. उनकी यह प्रतिक्रिया कांग्रेस नेता अशोक चव्हाण के उस बयान के बाद सामने आई है, जिसमें उन्होंने कहा था कि एकनाथ शिंदे भाजपा के साथ संबंध तोड़ने और शिवसेना-कांग्रेस की सरकार बनाने का प्रस्ताव लेकर उनके पास आए थे.

पूर्व सीएम ने कहा था कि उन्होंने शिंदे को राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी प्रमुख शरद पवार से परामर्श करने के लिए कहा था. अशोक चव्हाण के इस दावे पर शिंदे गुट के विधायक अब्दुल सत्तार ने कहा कि अशोक चव्हाण ने खुद एकनाथ शिंदे से सरकार गठन के लिए शिवसेना-कांग्रेस गठबंधन बनाने के प्रस्ताव के साथ संपर्क किया था. उन्होंने कहा, जब मैं कांग्रेस में था, अशोक चव्हाण और मैंने शिंदे से सरकार बनाने का अनुरोध किया था. एकनाथ शिंदे उस समय भारतीय जनता पार्टी के देवेंद्र फडणवीस के नेतृत्व वाली सरकार में मंत्री थे और चव्हाण महाराष्ट्र कांग्रेस के अध्यक्ष थे.

Tags: Eknath Shinde, Shivsena, Uddhav Thackeray news

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें