लाइव टीवी
Elec-widget

महाराष्ट्र: सियासी उलट-फेर से बौखलाए उद्धव, कहा-फेविकोल लगाओ और कुर्सी पर बैठ जाओ

News18Hindi
Updated: November 23, 2019, 3:45 PM IST
महाराष्ट्र: सियासी उलट-फेर से बौखलाए उद्धव, कहा-फेविकोल लगाओ और कुर्सी पर बैठ जाओ
शिवसेना चीफ ने कहा कि लोकतंत्र के नाम पर यह बचकाना खेल हास्यासपद है. यह महाराष्ट्र पर सर्जिकल स्ट्राइक है. (फाइल फोटो)

प्रेस कॉन्फ्रेंस में कहा ये महाराष्ट्र (Maharashtra) में सर्जिकल स्ट्राइक, अजित पवार (Ajit Pawar) ने जनादेश का अपमान किया है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: November 23, 2019, 3:45 PM IST
  • Share this:
मुंबई. महाराष्ट्र (Maharashtra) में सुबह-सुबह आए सियासी भूचाल के बाद अब शिवसेना (Shiv Sena) प्रमुख ने बीजेपी (BJP) और अजित पवार (Ajit pawar) को आड़े हाथ लिया है. ‌उद्धव ठाकरे (Udhav Thackeray) ने इसे महाराष्ट्र पर सर्जिकल स्ट्राइक करार दिया. उन्होंने कहा कि बीजेपी एक नार्सिस्ट (खुद के बारे में सोचने वाली) पार्टी है और उन्हें अब पावर सीट पर फेविकोल लगा कर बैठ जाना चाहिए. इसके साथ ही उन्होंने अजित पवार पर हमला करते हुए कहा कि पवार का यह कदम संविधान और जनादेश का अपमान है.

शिवसेना चीफ ने कहा कि लोकतंत्र के नाम पर यह बचकाना खेल हास्यासपद है. यह महाराष्ट्र पर सर्जिकल स्ट्राइक है. अब हम अनुशासनात्मक कार्रवाई के बारे में जल्द ही निर्णय लेंगे.

सुबह बदल गई थी तस्वीर
गौरतलब है कि महाराष्ट्र में चल रही सियासी उठापटक को एकबारगी उस समय विराम लगता दिखा, जब शनिवार सुबह देवेंद्र फडणवीस ने मुख्यमंत्री पद की और अजित पवार ने डिप्टी सीएम पद की शपथ ली. राज्यपाल भगत सिंह कोश्यारी ने दोनों को शपथ दिलवाई. बाद में एनसीपी ने इस पूरे घटनाक्रम से खुद को किनारे करते हुए कहा कि बीजेपी के साथ जाने का निर्णय सिर्फ और सिर्फ अजित पवार का है. एनसीपी या शरद पवार का इससे कोई लेना देना नहीं है.

'शिवसेना ने‌ किया जनादेश का अपमान'
शपथ लेने के बाद मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीसने कहा कि हमें सरकार बनाने का जनादेश मिला था, लेकिन शिवसेना ने दूसरी पार्टियों के साथ गठबंधन का प्रयास किया, जिसका परिणाम यह निकला कि सूबे में राष्ट्रपति शासन लागू हो गया. महाराष्ट्र की जनता को स्थिर सरकार चाहिए न कि कोई खिचड़ी. शिवसेना से जनादेश का सीधे तौर पर अपमान किया है. इस दौरान उन्होंने अजित पवार का अभार जताया और कहा कि मैं अभारी हूं कि वे हमारे साथ आए. अब हम महाराष्ट्र में एक स्थिर सरकार देंगे.

'प्रदेश में समस्याओं का अंबार, इसलिए सरकार में आए'
Loading...

वहीं शपथ लेने के बाद अजीत पवार ने कहा ‌कि महाराष्ट्र में काफी समस्याएं हैं. खासकर किसानों की परेशानी को लेकर हम चिंतित हैं और इसी को लेकर हम सरकार में आए हैं. लोगों ने जिसे सरकार बनाने के लिए चुना था उन्हीं को सरकार बनानी भी चाहिए.

ये भी पढ़ेंः महाराष्ट्र का सियासी महासंग्राम: 10 घटनाक्रमों से समझें BJP ने कैसे मारी बाजी?

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए Mumbai से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: November 23, 2019, 3:29 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...