वरवर राव के परिवार ने NHRC में लगाई गुहार, मांगी उनके स्वास्थ्य की जानकारी
Maharashtra News in Hindi

वरवर राव के परिवार ने NHRC में लगाई गुहार, मांगी उनके स्वास्थ्य की जानकारी
81 साल के वरवरा राव कोरोना वायरस से संक्रमित पाए गए हैं (File Photo)

कवि वरवर राव (Varvar Rao) के परिवार ने NHRC में याचिका दायर कर जेल अधिकारियों और मुंबई के नानावती अस्पताल को यह निर्देश दिए जाने का अनुरोध किया है कि वह उन्हें कोरोना वायरस (Coronavirus) संक्रमित राव के स्वास्थ्य की ‘पारदर्शी’ ताजा जानकारी मुहैया कराए.

  • Share this:
हैदराबाद. एल्गार परिषद (Elgar Parishad) मामले में आरोपी कवि वरवर राव (Varvar Rao) के परिवार के सदस्यों ने राष्ट्रीय मानवाधिकार आयोग (NHRC) में याचिका दायर कर जेल अधिकारियों और मुंबई के नानावती अस्पताल को यह निर्देश दिए जाने का अनुरोध किया है कि वह उन्हें कोरोना वायरस से संक्रमित राव के स्वास्थ्य की ‘पारदर्शी’ ताजा जानकारी मुहैया कराए.

एनएचआरसी में शुक्रवार को दायर याचिका में कहा गया है कि नानावती अस्तपाल ने राव की स्थिति और उनके उपचार के संबंध में कोई भी जानकारी देने से इनकार कर दिया है, जिसके कारण परिवार को एनएचआरसी के पास जाना पड़ा.

राव के परिवार ने कहा, ‘आज, हम आपको यह पत्र लिखने के लिए मजबूर हैं, क्योंकि नानावती अस्तपाल ने हमें उनकी (राव) स्थिति और उनके उपचार के बारे में जानकारी देने से इनकार कर दिया है.’ उन्होंने कहा कि जब राव को तालोजा जेल से सेंट जॉर्ज अस्पताल और फिर नानावती अस्पताल में भर्ती कराया गया, तब से उनके परिवार को केवल यह आधिकारिक जानकारी मुहैया कराई गई कि राव कोरोना वायरस से संक्रमित पाए गए हैं.



 राव के स्वास्थ्य के बारे में उसे हर छह घंटे में ताजा आधिकारिक जानकारी मुहैया कराएं
राव के परिवार के सदस्यों ने कहा कि उनके स्वास्थ्य के बारे में जानकारी देने से इनकार करना एनएचआरसी के 13 जुलाई के आदेश का सीधा उल्लंघन है. इस आदेश में एनएचआरसी ने जेल प्राधिकारियों को विशेष रूप से आदेश दिया था कि राव को हर प्रकार की चिकित्सकीय सहायता दी जाए और उनके परिवार के सदस्यों को इस बारे में पूरी जानकारी मुहैया कराई जाए.

परिवार ने अनुरोध किया है कि राव के स्वास्थ्य के बारे में उसे हर छह घंटे में ताजा आधिकारिक जानकारी मुहैया कराई जाए. कोरोना वायरस से संक्रमित पाये जाने के बाद से राव (80) का 16 जुलाई से उपचार चल रहा है. राव पिछले करीब 22 महीने से सलाखों के पीछे हैं और उन्होंने कोविड-19 संबंधी हालात एवं चिकित्सकीय आधार पर जमानत के लिए विशेष NIA अदालत का दरवाजा खटखटाया था.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading