अपना शहर चुनें

States

शिवसेना- NCP पार्टी को दीमक की तरह कर रही कमजोर, सोनिया गांधी को कांग्रेस नेता की चिट्ठी

महाराष्ट्र कांग्रेस के महासचिव और पूर्व सांसद संजय निरुपम के बेहद करीबी माने जाने वाले विश्वबंधु राय (Vishwabandhu Rai) कांग्रेस अध्यक्षा सोनिया गांधी को चिट्ठी लिखी है.
महाराष्ट्र कांग्रेस के महासचिव और पूर्व सांसद संजय निरुपम के बेहद करीबी माने जाने वाले विश्वबंधु राय (Vishwabandhu Rai) कांग्रेस अध्यक्षा सोनिया गांधी को चिट्ठी लिखी है.

विश्वबंधु राय (Vishwabandhu Rai) ने सोनिया गांधी (Sonia Gandhi) के नाम चिट्ठी में कहा, 'साल 2019 के विधानसभा चुनावों के दौरान जनता से जो भी वादे पूरे किए गए थे. उन्हें अभी तक पूरा नहीं किया गया है. कांग्रेस की स्थिति महाविकास अघाड़ी सरकार में बेहद दयनीय है. शिवसेना और एनसीपी के नेता कांग्रेस पार्टी को निरंतर दबाने का प्रयास कर रहे हैं. ऐसे में यह गठबंधन कांग्रेस के लिए भविष्य में नुकसान देह साबित हो सकता है.'

  • News18Hindi
  • Last Updated: December 30, 2020, 4:19 PM IST
  • Share this:
मुंबई. महाराष्ट्र में शिवसेना (Shiv Sena), कांग्रेस (Congress) और एनसीपी (NCP) के महाअघाड़ी गठबंधन (Maharashtra Aghadi) में सब कुछ ठीक नहीं चल रहा है. महाराष्ट्र कांग्रेस के महासचिव और पूर्व सांसद संजय निरुपम के बेहद करीबी माने जाने वाले विश्वबंधु राय (Vishwabandhu Rai) ने कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी (Sonia Gandhi) को चिट्ठी लिखकर शिवसेना और एनसीपी पर महाअघाड़ी गठबंधन को कमजोर करने के आरोप लगाए हैं. राय ने चिट्ठी में लिखा है कि कांग्रेस का एनसीपी और शिवसेना के साथ गठबंधन आत्मघाती साबित होगा. यह दोनों पार्टियां लगातार हर मोर्चे पर कांग्रेस को मिटाने का प्रयास कर रही हैं. उन्होंने आरोप लगाया है कि एनसीपी, कांग्रेस को दीमक की तरह कमजोर कर रही है.

विश्वबंधु राय ने सोनिया गांधी के नाम चिट्ठी में कहा, 'साल 2019 के विधानसभा चुनावों के दौरान जनता से जो भी वादे पूरे किए गए थे. उन्हें अभी तक पूरा नहीं किया गया है. कांग्रेस की स्थिति महाविकास अघाड़ी सरकार में बेहद दयनीय है. शिवसेना और एनसीपी के नेता कांग्रेस पार्टी को निरंतर दबाने का प्रयास कर रहे हैं. ऐसे में यह गठबंधन कांग्रेस के लिए भविष्य में नुकसान देह साबित हो सकता है.'

बैंक घोटाला केस में आज ED के सामने पेश नहीं होंगी संजय राउत की पत्‍नी, 5 जनवरी तक मांगा समय



विश्वबंधु राय ने आगे लिखा, 'महाराष्ट्र अघाड़ी सरकार को लगभग एक वर्ष पूरे हो गए हैं, इस दौरान कांग्रेस पार्टी केवल एक सहयोगी के तौर पर ही नजर आ रही है. सरकार चलाने की भूमिका में शिवसेना और एनसीपी ही नजर आ रहे हैं. एनसीपी कांग्रेस पार्टी को दीमक की तरह कमजोर कर रही है.' राय ने लिखा है कि शिवसेना और एनसीपी कांग्रेस के वौट बैंक को अपनी तरफ खींचने में सफल हो रहे हैं.
संजय राउत ने किया था बड़ा खुलासा
इससे पहले शिवसेना सांसद संजय राउत ने सोमवार को दावा किया कि बीजेपी महाराष्ट्र सरकार गिराने के लिए कुछ भी कर सकती है. दरअसल प्रवर्तन निदेशालय (ED) ने संजय राउत की पत्नी को एक मामले में तलब किया था, जिसके बाद आज उनका ये बड़ा बयान सामने आया है. प्रेस कांफ्रेंस में संजय राउत ने कहा, ‘मेरी पत्नी शिक्षिका हैं, BJP के नेताओं की तरह हमारी संपत्ति बढ़कर 1600 करोड़ रुपये नहीं हो गयी है.’

संजय राउत ने ये भी कहा, ‘भाजपा के कुछ नेता पिछले एक साल से मुझसे संपर्क कर कह रहे हैं कि उन्होंने महाराष्ट्र सरकार को अस्थिर करने के लिए सारे इंतजाम कर लिए हैं. वे मुझ पर दबाव बना रहे हैं और मुझे धमका रहे हैं.’



शिवसेना का तंज- BJP ने 'ईडी-पीडी’ के पंचांग से निकाला महाराष्ट्र में कब गिरेगी सरकार?

इस वजह से हुआ था महाराष्ट्र में महाविकास अघाड़ी मोर्चा का जन्म
शिवसेना के नेतृत्व वाली महा विकास अघाड़ी (MVA) सरकार में राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (राकांपा) और कांग्रेस घटक है. महाराष्ट्र में विधानसभा चुनावों के बाद मुख्यमंत्री पद को लेकर विवाद के बाद शिवसेना और भाजपा के रास्ते अलग हो गए थे. इसके बाद महा विकास अघाड़ी सरकार का गठन हुआ था.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज