पश्चिम रेलवे की सभी कर्मचारियों को वैक्सीन लगाने की अनुमति देने की मांग, महाराष्ट्र के स्वास्थ्य सचिव को लिखा पत्र

पत्र में यह भी कहा गया है कि पश्चिम रेलवे के बाबू जगजीवन राम अस्पताल में जरूरी वैक्सीन उपलब्ध है और अनुमति मिलने के बाद उन्हें लगाई जा सकती है. (सांकेतिक तस्वीर)

पत्र में यह भी कहा गया है कि पश्चिम रेलवे के बाबू जगजीवन राम अस्पताल में जरूरी वैक्सीन उपलब्ध है और अनुमति मिलने के बाद उन्हें लगाई जा सकती है. (सांकेतिक तस्वीर)

Covid-19 Vaccination: इस पत्र पर अब तक स्वास्थ्य सचिव की तरफ से फिलहाल कोई जवाब नहीं आया है और पश्चिम रेलवे को उसी का इंतज़ार है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: March 23, 2021, 4:47 PM IST
  • Share this:
मुंबई. अपने सभी कर्मचारियों को कोरोना वैक्सीन (Corona Vaccine) लगाने को लेकर पश्चिम रेलवे ने महाराष्ट्र के स्वास्थ्य सचिव को पत्र लिखा हैं. पश्चिम रेलवे के मुख्य मेडिकल डायरेक्टर डॉ छत्र सिंह आनंद ने राज्य के स्वास्थ्य सचिव डॉ प्रदीप व्यास को पत्र लिखते हुए सभी कर्मचारियों और उनके परिवार को वैक्सीन लगाने की अनुमति देने की सिफारिश की है. इस पत्र पर अब तक स्वास्थ्य सचिव की तरफ से फिलहाल कोई जवाब नहीं आया है और पश्चिम रेलवे को उसी का इंतज़ार है.

पश्चिम रेलवे के मुख्य मेडिकल डायरेक्टर डॉ छत्र सिंह आनंद द्वारा लिखे गए पत्र के मुताबिक लॉकडाउन के दौरान मुम्बई की लाइफलाइन को चलाने में सभी कर्मचारियों ने अहम भूमिका निभाई थी और मौजूदा समय मे फिर से मुम्बई में कोरोना का खतरा बेहद तेजी से बढ़ रहा है, बावजूद इसके रेलवे के कर्मचारी कोरोना वारियर्स बनकर अपनी ड्यूटी निभा रहे हैं. ड्यूटी निभाने के दौरान वह कोरोना का शिकार न हो जाए, इसको देखते हुए सभी कर्मचारियों और उनके परिवार को कोरोना वैक्सीन लगाने की अनुमति दी जाए. पत्र में यह भी कहा गया है कि पश्चिम रेलवे के बाबू जगजीवन राम अस्पताल में जरूरी वैक्सीन उपलब्ध है और अनुमति मिलने के बाद उन्हें लगाई जा सकती है.

Youtube Video




ये भी पढ़ें- महाराष्ट्र में बेकाबू हुआ कोरोना, ICU बेड, जंबो अस्पताल, डरा रही हैं तस्वीरें
पहले भी उठ चुकी है मांग
कुछ दिनों पहले ही वेस्टर्न रेलवे एम्प्लॉई यूनियन ने भी पश्चिम रेलवे के जीएम आलोक कंसल को पत्र लिखते हुए सभी कर्मचारियों को वैक्सीन लगाए जाने की मांग की थी, जिस पर डीआरएम ने कदम उठाने का आश्वासन दिया था.

बता दें कि कुछ दिनों पहले ही पश्चिम रेलवे की तरफ से बाबू जगजीवन राम अस्पताल में वैक्सिनेशन सेन्टर की शुरुवात भी की गई है, जिसमें सेलेक्टेड रेलवे के कर्मचारियों को वैक्सीन लगाई जा रही है. गौरतलब है कि मुम्बई में पिछले 24 घण्टे में 3260 कोरोना मामले सामने आए हैं. यह लगातार तीसरा दिन है जब मुम्बई में कोरोना मामलों ने 3000 के आंकड़े को पार किया है. वहीं महाराष्ट्र में 24 घण्टे में 24,645 कोरोना मामले सामने आए हैं,जबकि 58 की मौत हुई है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज