राजस्थान के बाद अब महाराष्ट्र का ड्राइवर कौन? तीनों ही पार्टियों में छिड़ी बहस
Maharashtra News in Hindi

राजस्थान के बाद अब महाराष्ट्र का ड्राइवर कौन? तीनों ही पार्टियों में छिड़ी बहस
महाराष्ट्र सरकार के अंदर सबकुछ ठीक चलता दिखाई नहीं दे रहा है.

महाराष्ट्र (Maharashtra) की महा विकास आघाडी (Maha Vikas Aghadi) सरकार की तीनों पार्टियों में अचानक उद्धव ठाकरे (Uddhav Thackeray) के एक बयान के बाद ड्राइवर बनने के लिए जुबानी जंग तेज हो गई है.

  • Share this:
मुंबई. महा विकास आघाडी (Maha Vikas Aghadi) की गाड़ी भले ही सरपट ना दौड़ रही हो लेकिन इसका ड्राइवर कौन है? इस बात पर जुबानी जंग तेज हो गई है. पहले उद्धव ठाकरे का बयान, उसके बाद अजित पवार (Ajit Pawar) का ट्वीट और अब कांग्रेस (Congress) के नेता के बयान ने साबित कर दिया है कि महाराष्ट्र सरकार (Maharashtra Government) में ड्राइविंग सीट के लिए तीनों ही पार्टियों के बीच होड़ मची है.

महाराष्ट्र की महा विकास आघाडी सरकार की तीनों पार्टियों में अचानक उद्धव ठाकरे के एक बयान के बाद ड्राइवर बनने के लिए जुबानी जंग तेज हो गई है. दरअसल उद्धव ठाकरे ने सामना को दिए गए इंटरव्यू में कहा कि तीन पहिए के ऑटो में उद्धव ठाकरे ड्राइविंग सीट पर बैठे हैं और दोनों पार्टियों के नेता पीछे की सीट पर बैठे हैं. उद्धव ठाकरे के बयान के ठीक एक दिन बाद मुख्यमंत्री के बर्थडे पर बधाई देते हुए अजित पवार ने एक ट्वीट किया लेकिन उस ट्वीट में इस फोटो को टैग किया उसमें अजित पवार ड्राइविंग सीट पर बैठे हैं और उद्धव ठाकरे बगल की सीट पर बैठे दिखाई दे रहे हैं.

उद्धव ठाकरे और अजीत पवार के ड्राइविंग सीट के क्लेम बाद कांग्रेस भी कहां पीछे रहने वाली थी. कांग्रेस की तरफ से पूर्व मंत्री और महाराष्ट्र कांग्रेस प्रदेश के उपाध्यक्ष नसीम खान सामने आए और उन्होंने कहा कि इस सरकार में तीन पार्टियां बराबर की हिस्सेदार हैं और ऐसे में कोई एक पार्टी का ड्राइवर नहीं हो सकता है. इस सरकार के ड्राइवर तीनों पार्टियों के हैं यानी तीन ड्राइवर हैं. नसीम खान के इस बयान से साफ है कि महा विकास आघाडी सरकार में भले ही सब कुछ ठीक-ठाक होने का दावा किया जा रहा हो लेकिन जिस तरीके से आए दिन बयान सामने आ रहे हैं, उससे साफ है कि अभी भी तीनों पार्टियों में कोआर्डिनेशन की कमी है.



इसे भी पढ़ें :- स्पीकर सीपी जोशी ने सुप्रीम कोर्ट में वापस ली याचिका, अब अदालती नहीं राजनीतिक लड़ाई लड़ेगी कांग्रेस
उद्धव ठाकरे ने कल दिया था बयान
गौरतलब है कि उद्धव ठाकरे ने कल सरकार गिराने की चुनौती देते हुए कहा था, 'इंतजार किसका है? अब सरकार गिराओ, सरकार तीन पहियों वाली है, लेकिन वह गरीबों का वाहन है जिसका स्टीयरिंग मेरे ही हाथ में है. बुलेट ट्रेन या रिक्शा में चुनाव करना पड़ा तो मैं रिक्शा ही चुनूंगा.'
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading