मुंबई: कोविड हॉस्पिटल के आग में फंसी महिला बोलीं- पति को किसी मरे जानवर की तरह खींचकर निकाला बाहर

आग लगने के बाद बाहर का मंजर

आग लगने के बाद बाहर का मंजर

Mumbai Hospital Fire: बृह्नमुंबई महानगर पालिका (बीएमसी) ने एक बयान में कहा कि अस्पताल में सभी नौ मरीजों की मौत आग लगने के बाद दम घुटने से हुई, जबकि आग लगने की घटना से पहले ही कोरोना वायरस की वजह से दो मरीजों की मौत हो चुकी थी.

  • News18Hindi
  • Last Updated: March 27, 2021, 3:04 PM IST
  • Share this:
मुंबई. महाराष्ट्र की राजधानी मुंबई के एक मॉल में स्थित सनराइज हॉस्पिटल में शुक्रवार को आग लगने के चलते कोरोना वायरस (Coronavirus) से संक्रमित 10 मरीजों की मौत हो गई. इस आग से मुश्किल से जान बचाकर बाहर निकलने वाली एक बुजुर्ग महिला ने अपनी आपबीती सुनाई. उन्होंने बताया कि हालात बेहद भयावह थे और उन्हें पति को बड़ी मुश्किल से हॉस्पिटल से बाहर निकालने में कामयाबी मिली.

अंग्रेजी अखबार इंडियन एक्सप्रेस से बातचीत करते हुए 67 साल की माधुरी गोधवानी ने कहा, 'मेरे 78 साल के पति हॉस्पिटल में भर्ती थे. मैं पिछली रात को कभी नहीं भूल सकती. मुझे अपने पति को एक अंधेरी गली से किसी मरे हुए जानवरों की तरह खींचकर बाहर निकालना पड़ा.'

मुश्किल से बची जान
उन्होंने आगे बताया कि जब हॉस्पिटल में आग लगी उस वक्त उनके पति चेतन को ऑक्सिजन सपोर्ट पर रखा गया था. उसी समय एक वार्ड ब्यॉय ने उन्हें वहां से भागने के लिए कहा. रूम में हर तरफ धुंआ भर गया था. ऐसे में जब लगा कि उन्हें बचाने के लिए कोई नहीं आएगा तो उन्होंने खुद अपने पति को रूम से बाहर की तरफ खींचना शुरू किया.
ऐसे निकले बाहर


उन्होंने कहा, 'मुझे रूम के बाहर एक महिला मिली जो दो बुजुर्गों को बाहर निकाल रही थी. मैं अपने पति के साथ इनके पीछे चलने लगी. उस वक्त पावर बैकअप पर लिफ्ट काम कर रह था. पहली मंजिल तक हमलोग लिफ्ट से गए. इसके बाद सीढ़ियों से ग्राउंड फ्लोर पर आ गए.


दम घुटने से मौत
बृह्नमुंबई महानगर पालिका (बीएमसी) ने एक बयान में कहा कि अस्पताल में सभी 10 मरीजों की मौत आग लगने के बाद दम घुटने से हुई जबकि आग लगने की घटना से पहले ही कोरोना वायरस की वजह से दो मरीजों की मौत हो चुकी थी. हालांकि, अस्पताल का दावा है कि आग लगने की घटना के कारण मरीजों की मौत नहीं हुई. बीएमसी ने बयान में कहा कि अग्निशमन विभाग और पुलिस आग लगने की घटना के कारणों की जांच कर रही है
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज