नौकरियों में 100% आरक्षण: MP सरकार की घोषणा पर कांग्रेसी सांसद ने किए सवाल

नौकरियों में 100% आरक्षण: MP सरकार की घोषणा पर कांग्रेसी सांसद ने किए सवाल
एमपी में उपचुनाव से पहले शिवराज सरकार ने बड़ा ऐलान किया है.

विवेक तन्खा (Vivek Tankha) ने पूछा है कि दूसरे राज्यों में मध्य प्रदेश (Madhya Pradesh) के करीब एक करोड़ लोग (1 Crore People) काम करते हैं, ऐसे में MP के भीतर सिर्फ राज्य के निवासियों को ही सरकारी नौकरी देने का प्रावधान कहां तक सही है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: August 19, 2020, 4:33 PM IST
  • Share this:
भोपाल. कांग्रेस के राज्यसभा सांसद और नामी वकील विवेक तन्खा (Vivek Tankha) ने शिवराज सरकार (CM Shivraj Singh Chouhan) की हालिया घोषणा पर सवाल खड़े किए हैं. विवेक तन्खा ने पूछा है कि दूसरे राज्यों में मध्य प्रदेश के करीब एक करोड़ लोग काम करते हैं, ऐसे में MP के भीतर सिर्फ राज्य के निवासियों को ही सरकारी नौकरी देने का प्रावधान कहां तक सही है. तन्खा ने कहा है कि कानून में भी 100 प्रतिशत आरक्षण का प्रावधान नहीं है. उन्होंने कहा है कि लोकलुभावन फैसलों का पागलपन इस वक्त चरम पर है.

विवेक तन्खा ने कहा है- 'अगर नेता आम जनता को जुमलों के जरिए खुश रखते रहेंगे तो ये लोकतंत्र की हार है.' उन्होंने कहा है कि मुख्यमंत्री शिवराज मध्य प्रदेश और उसकी जनता को सबसे बुरी स्थिति में पहुंचाकर ही संतुष्ट होंगे.

शिवराज सिंह चौहान की घोषणा के बाद राजनीतिक बवाल
गौरतलब है कि मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने शनिवार को कहा कि प्रदेश में सरकारी नौकरियों में स्थानीय युवाओं को प्राथमिकता दी जाएगी. उन्होंने यह भी कहा कि उनकी सरकार प्रदेश के नागरिकों के लिए ‘सिंगल सिटीजन डाटाबेस' तैयार कर रही है, ताकि प्रदेश के लोगों को हर योजना के लिए अलग-अलग पंजीयन नहीं कराना पड़े.
मध्यप्रदेश के युवाओं को सरकारी नौकरियों में प्राथमिकता


देश के 74वें स्वतंत्रता दिवस के अवसर पर ध्वजारोहण के बाद समारोह को संबोधित करते हुए मुख्यमंत्री ने कहा, 'मध्यप्रदेश के युवाओं को सरकारी नौकरियों में प्राथमिकता दी जाएगी.' उन्होंने कहा, 'जब नौकरियों के अवसरों का अभाव है, ऐसे समय में राज्य के युवाओं की चिंता करना हमारा कर्तव्य है.'

सरकारी भर्तियों के लिए अभियान
चौहान ने कहा, 'सरकारी भर्तियों के लिए अभियान चलाया जाएगा, साथ ही निजी क्षेत्रों में भी अधिक से अधिक रोजगार उपलब्ध कराये जाएंगे. विद्यार्थियों को 10वीं एवं 12वीं की अंकसूची के आधार पर नियोजित किया जाएगाा.'
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज