बंगाल में कोरोना की मार, कोलकाता में पॉजिटिविटी रेट 45 से 55 फीसदी के बीच पहुंचा

पश्चिम बंगाल में कोरोना संक्रमण तेजी से फैल रहा है. (File pic)

पश्चिम बंगाल में कोरोना संक्रमण तेजी से फैल रहा है. (File pic)

West Bengal Coronavirus: एक डॉक्‍टर का कहना है कि कोलकाता और उसके आसपास के इलाकों में कोरोना की पॉजिटिविटी रेट 45 फीसदी से 55 फीसदी के बीच है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: April 25, 2021, 9:38 PM IST
  • Share this:
कोलकाता. पश्चिम बंगाल (West Bengal) में भी कोरोना वायरस संक्रमण (Coronavirus) तेजी से फैल रहा है. राज्‍य में विधानसभा चुनाव (West Bengal Assembly Elections) चल रहे हैं. ऐसे में चुनावी रैलियां हो रही हैं. पिछले दिनों भी चुनावी रैलियों में भारी भीड़ देखने को मिली थी. अब राज्‍य में कोरोना संक्रमण के हालात ऐसे हैं कि राजधानी कोलकाता (Kolkata) और उसके आसपास के इलाकों में हर दूसरा व्‍यक्ति कोरोना जांच (Corona Test) में संक्रमित पाया जा रहा है. इसके साथ ही राज्‍य के अन्‍य हिस्‍सों में हर 4 में 1 व्‍यक्ति आरटी-पीसीआर टेस्‍ट में कोरोना संक्रमित निकल रहा है. कोरोना के मामलों में यह पांच गुना बढ़ोतरी है. शुरुआत में हर 20 में से 1 व्‍यक्ति संक्रमित पाया जा रहा था.

टाइम्‍स ऑफ इंडिया की रिपोर्ट के अनुसार राज्‍य की बड़ी लैब में से एक के डॉक्‍टर का कहना है कि कोलकाता और उसके आसपास के इलाकों में कोरोना की पॉजिटिविटी रेट 45 फीसदी से 55 फीसदी के बीच है. वहीं राज्‍य के अन्‍य हिस्‍सों में पॉजिटिविटी रेट 24 फीसदी है. यह महीने की शुरुआत में 5 फीसदी था.

डॉक्‍टर का कहना है कि वास्‍तविक पॉजिटिविटी दर कहीं अधिक होगी. अधिक संख्‍या में गैर लक्षणी और हल्‍के लक्षणी मरीज भी होंगे, जिन्‍होंने खुद की टेस्टिंग नहीं कराई होगी. हम पर्याप्‍त टेस्टिंग नहीं कर पा रहे हैं. हमें अधिक कोरोना जांच करने से पीछे नहीं हटना चाहिए, ये एक महत्‍वपूर्ण हथियार है.


पश्चिम बंगाल में कोरोना संक्रमण से हालात इतने खराब हैं कि 1 अप्रैल, 2021 को राज्‍य में कुल 25,766 सैंपल की जांच की गई थी. इनमें से महज 1274 लोगों में ही कोरोना संक्रमण निकला था. वहीं शनिवार को राज्‍य में 55,060 सैंपल टेस्‍ट हुए हैं. इनमें से 25.9 फीसदी या 14,281 सैंपल पॉजिटिव पाए गए हैं.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज