कर्नाटकः एक ही थाने के 10 पुलिस कर्मी कोरोना वायरस से संक्रमित, थाना परिसर सील

जेल में रहने वाले कैदियों में भी कोरोना संक्रमण के मामले तेजी से बढ़ रहे हैं.

जेल में रहने वाले कैदियों में भी कोरोना संक्रमण के मामले तेजी से बढ़ रहे हैं.

Karnataka Coronavirus Case updates: एक पुलिस कर्मी ने बुखार होने के बाद कोविड-19 जांच कराई थी, उसके संक्रमित पाए जाने के बाद वहां तैनात बाकी पुलिस कर्मियों की भी जांच कराई गई जिनमें से 10 पुलिस कर्मी संक्रमित पाए गए.

  • Share this:

मंगलुरु. कर्नाटक (Karnataka) के उडुपी जिले स्थित पडुबिदरी पुलिस थाने के उप निरीक्षक सहित 10 पुलिस कर्मी कोरोना वायरस से संक्रमित पाए गए जिसके बाद थाना परिसर को 24 घंटे के लिए सील कर दिया गया है. सूत्रों ने बताया कि एक पुलिस कर्मी ने बुखार होने के बाद कोविड-19 जांच कराई थी, उसके संक्रमित पाए जाने के बाद वहां तैनात बाकी पुलिस कर्मियों की भी जांच कराई गई जिनमें से 10 पुलिस कर्मी संक्रमित पाए गए.

सूत्रों ने बताया कि सभी संक्रमित पुलिस कर्मियों को पृथकवास में रखा गया है. इस बीच, देश के अन्य राज्यों से कर्नाटक में आने वाले लोगों के लिए अब कोविड-19 निगेटिव जांच रिपोर्ट होना अनिवार्य होगा. निगेटिव रिपोर्ट होने पर ही राज्य में प्रवेश दिया जाएगा.

राज्य में प्रवेश के लिए कोरोना रिपोर्ट जरूरी

कर्नाटक के गृह मंत्री बसवाराज बोम्मई ने शनिवार को इस बात की जानकारी दी. बोम्मई ने यहां संवाददाताओं से कहा, ' हमने इस बार न केवल राज्य की प्रमुख सड़कों पर बल्कि छोटी सड़कों पर भी बैरिकेड लगाए हैं. हमने सीमावर्ती जिलों विशेष रूप से बेलागवी, बीदर, कलबुर्गी, अनीकल और मेंगलुरु में कड़े प्रतिबंध लगाए हैं.'
ये भी पढ़ें- 'कोरोना वायरस के B1.617.2 वेरिएंट को रोकने में 80% से अधिक कारगर है कोविशील्ड'

मंत्री ने कहा कि केन्द्र की ओर से जारी किए गए दिशा-निर्देशों के मुताबिक अंतरराज्यीय यात्रियों को कर्नाटक में प्रवेश करने से पहले कोविड जांच रिपोर्ट दिखानी होगी. बोम्मई ने कहा कि सभी जिलों के पुलिस और प्रशासन से जुड़े अधिकारियों को यह नियम सख्ती से लागू कराने के निर्देश दिए हैं.




राज्य सरकार ने लॉकडाउन बढ़ाया

कोरोना संक्रमण को लेकर कर्नाटक सरकार ने सात जून तक लॉकडान बढ़ाने का एलान किया है. सीएम बीएस येदियुरप्पा ने कहा कि हम लोगों ने सीनियर अधिकारियों और मंत्रियों के साथ बैठक की. इसमें हमलोगों ने लॉकडाउन पर फैसला लिया. यहां 24 मई तक कड़े प्रतिबंध लागू हैं. विशेषज्ञों की राय के मुताबिक, हम 7 जून तक इन कड़े प्रतिबंधों को बढ़ा रहे हैं.

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज