Home /News /nation /

100 करोड़ डोज की खुशी: पीएम ने बदली DP, आज देश को करेंगे संबोधित; कॉलर सुनेंगे नई ट्यून

100 करोड़ डोज की खुशी: पीएम ने बदली DP, आज देश को करेंगे संबोधित; कॉलर सुनेंगे नई ट्यून

पीएम मोदी माइक्रो ब्लॉगिंग साइट पर अपनी प्रोफाइल पिक्चर में बदलाव किए हैं.(फाइल फोटो)

पीएम मोदी माइक्रो ब्लॉगिंग साइट पर अपनी प्रोफाइल पिक्चर में बदलाव किए हैं.(फाइल फोटो)

100 Crore Doses: भारत ने गुरुवार को कोविड-19 (Covid-19) के खिलाफ देश में 100 करोड़ डोज लगा दिए हैं. इस मौके पर देश-विदेश की कई हस्तियों ने भारत की तारीफ की. पीएम नरेंद्र मोदी शुक्रवार को देश के नाम संबोधन देंगे.

    नई दिल्ली. कोविड-19 के खिलाफ जारी टीकाकरण में भारत (India) ने गुरुवार को 100 करोड़ डोज का आंकड़ा छू लिया है. इस मौके पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) शुक्रवार को सुबह 10 बजे राष्ट्र को संबोधित करेंगे. इतना ही नहीं देश की इस उपलब्धि पर पीएम मोदी ने अपने आधिकारिक ट्विटर हैंडल की डीपी या डिस्प्ले पिक्चर भी बदल ली है. साथ ही अब कॉलर को कॉल कनेक्ट होने से पहले इस ‘टीकाकरण शतक’ को लेकर बधाई संदेश भी दिया जाएगा.

    पीएम मोदी आज 10 बजे राष्ट्र के नाम एक संबोधन देंगे. इस बात की जानकारी प्रधानमंत्री कार्यालय की तरफ से दी गई. भारत ने टीकाकरण की यह उपलब्धि गुरुवार सुबह हासिल कर ली थी. विश्व स्वास्थ्य संगठन समेत दुनिया के कई राजनेताओं ने भारत को उस उपलब्धि पर बधाई दी है. गुरुवार को पीएम ने भी वैक्सीन निर्माताओं, स्वास्थ्य कर्मियों और टीकाकरण अभियान में शामिल सभी लोगों के प्रति आभार जताया था.

    बदली प्रोफाइल पिक्चर और कॉलर ट्यून
    पीएम मोदी ने माइक्रो ब्लॉगिंग साइट ट्विटर पर अपनी प्रोफाइल पिक्चर में बदलाव किए हैं. नई तस्वीर के जरिए पीएम ने भारत को बधाई दी है, जिसमें कोविड-19 के खिलाफ 100 करोड़ डोज दिए जाने की बात लिखी गई है. इसके अलावा कॉल करने पर सुनाई देने वाली कोरोना जागरूकता वाली कॉलर ट्यून भी बदल गई है. अब तक ट्यून के जरिए कोरोना को लेकर सावधानी और वैक्सीन लेने के लिए कहा जाता था, लेकिन नई ट्यून में कॉलर में सुनेंगे कि नमस्कार आप सबके साथ और सबके प्रयास से भारत ने 100 करोड़ टीकाकरण की उपलब्धि हासिल की है.

    बताया सुरक्षा कवच
    प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कोविड रोधी टीकाकरण के तहत गुरुवार को भारत के 100 करोड़ खुराक का आंकड़ा पार करने पर कहा कि देश के पास पिछले 100 वर्ष की सबसे बड़ी वैश्विक महामारी का मुकाबला करने के लिए अब एक मजबूत ‘सुरक्षा कवच’ है. मोदी ने टीकाकरण की इस उपलब्धि को भारतीय विज्ञान, उद्यम और 130 करोड़ भारतीयों की सामूहिक भावना की विजय करार दिया और दिल्ली स्थित राम मनोहर लोहिया (आरएमएल) अस्पताल का दौरा किया जहां उन्होंने स्वास्थ्यकर्मियों और अग्रिम पंक्ति के कर्मियों तथा टीका लगवाने पहुंचे लाभार्थियों से बात की.

    प्रधानमंत्री ने अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान (एम्स) के झज्जर परिसर में बने राष्ट्रीय कैंसर संस्थान (एनसीआई) में इन्फोसिस फाउंडेशन विश्राम सदन का उद्घाटन करने के बाद वीडियो कॉन्फ्रेंस के जरिए कहा, ‘21 अक्टूबर, 2021 का यह दिन इतिहास में दर्ज हो गया है. भारत ने कुछ ही देर पहले टीकों की 100 करोड़ खुराक देने का आंकड़ा पार किया.’

    उन्होंने कहा, ‘पिछले 100 वर्ष की सबसे बड़ी वैश्विक महामारी से निपटने के लिए देश के पास अब टीकों की 100 करोड़ खुराक का एक मजबूत ‘सुरक्षा कवच’ है. यह भारत की, भारत के हर नागरिक की उपलब्धि है.’ मोदी ने ट्वीट किया, ‘भारत ने इतिहास रच दिया. हम भारतीय विज्ञान, उद्यम और 130 करोड़ भारतीयों की सामूहिक भावना की विजय के साक्षी बन रहे हैं. टीकाकरण में 100 करोड़ का आंकड़ा पार करने पर भारत को बधाई. हमारे डॉक्टरों, नर्सों और उन सभी को धन्यवाद जिन्होंने इस उपलब्धि को हासिल करने के लिए काम किया.’

    देश के 100 करोड़ खुराक का आंकड़ा पार करने के बाद आरएमएल अस्पताल पहुंचे मोदी ने वहां लाभार्थियों से उनकी रुचियों के बारे में पूछने से लेकर स्वास्थ्यकर्मियों तथा अग्रिम पंक्ति के कर्मियों से उनके अनुभव जानने सहित विभिन्न मुद्दों पर चर्चा की. प्रधानमंत्री ने ट्वीट किया, ‘आज, जब भारत ने वैक्सीन सेंचुरी हासिल कर ली है, मैं डॉ. राम मनोहर लोहिया अस्पताल के एक टीकाकरण केंद्र में गया. टीका हमारे नागरिकों के जीवन में गर्व और सुरक्षा लेकर आया है.’ मोदी ने व्हीलचेयर पर बैठकर टीका लगवाने आरएमएल अस्पताल पहुंची एक लाभार्थी से उसकी रुचियों के बारे में पूछा. (भाषा के इनपुट के साथ)

    Tags: 100 Crore Doses, Caller Tune, Pm narendra modi, Twitter

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर