Home /News /nation /

कनिमोड़ी की जमानत पर 20 मई को कोर्ट करेगी फैसला

कनिमोड़ी की जमानत पर 20 मई को कोर्ट करेगी फैसला

कनिमोड़ी आज सुबह जैसे ही पटियाला हाउस कोर्ट पहुंची अदालत ने फैसला सुनाया और कहा कि अब इस मामले पर फैसला 20 मई को होगा। इसके बाद कनिमोड़ी को 6 दिन के लिए राहत जरूर मिल गई है।

कनिमोड़ी आज सुबह जैसे ही पटियाला हाउस कोर्ट पहुंची अदालत ने फैसला सुनाया और कहा कि अब इस मामले पर फैसला 20 मई को होगा। इसके बाद कनिमोड़ी को 6 दिन के लिए राहत जरूर मिल गई है।

कनिमोड़ी आज सुबह जैसे ही पटियाला हाउस कोर्ट पहुंची अदालत ने फैसला सुनाया और कहा कि अब इस मामले पर फैसला 20 मई को होगा। इसके बाद कनिमोड़ी को 6 दिन के लिए राहत जरूर मिल गई है।

    नई दिल्ली। राज्यसभा सांसद कनिमोड़ी की जेल और बेल पर फैसला 20 मई तक के लिए टाल दिया गया है। कनिमोड़ी की जमानत पर अब 20 मई को फैसला होगा। कनिमोड़ी आज सुबह जैसे ही पटियाला हाउस कोर्ट पहुंची अदालत ने फैसला सुनाया और कहा कि अब इस मामले पर फैसला 20 मई को होगा। इसके बाद कनिमोड़ी को 6 दिन के लिए राहत जरूर मिल गई है।

    इससे पहले अदालत ने कनिमोड़ी की जमानत पर फैसला करने के लिए आज की तारीख मुकर्रर की थी। आज की सुनवाई के लिए शरद कुमार और कनिमोड़ी जैसे ही कोर्ट पहुंचे, अदालत ने अपना फैसला सुनाया। इसके साथ ही अदालत ने कहा कि उसे अपने किसी भी फैसले के लिए वजह बताने की जरूरत नहीं। इसके साथ ही कनिमोड़ी को 20 मई तक हर रोज 10 बजे 4 बजे तक पटियाला हाउस कोर्ट आकर अपनी हाजिरी लगवानी होगी। कनिमोड़ी को इस मामले पर टेलीकॉम घोटाले की सुनवाई कर रहे विशेष जज ओपी सैनी को जानकारी देनी होगी।

    टेलीकॉम घोटाला मामले में अभी तक किसी को भी जमानत नहीं मिली है। कोर्ट ने साथ ही कहा कि यदि कनिमोड़ी किसी वजह से कोर्ट नहीं आ सकती है तो इसके लिए उन्हें कोर्ट से विशेष अनुमति लेनी होगी।

    इससे पहले 7 मई को कनिमोड़ी की जमानत अर्जी का सीबीआई ने अदालत में जोरदार विरोध किया था। कनिमोड़ी की दलील थी कि वो कलैगनर टीवी में महज 20 फीसदी की हिस्सेदार है और उनका टीवी के कामकाज से कोई लेना-देना नहीं है। जबकि सीबीआई ने साफ कहा कि कलैगनर टीवी में कनिमोड़ी का 20 फीसदी हिस्सा है और 60 फीसदी उनकी सौतेली मां का है, जिन्हें तमिल के अलावा और कोई भाषा नहीं आती। साफ है कि चैनल में 80 फीसदी हिस्सा कनिमोड़ी के परिवार का है, जिसे वही संभालती हैं।

    कनिमोड़ी मुश्किल में हैं। अब तक उनकी दलील थी कि कलैगनर टीवी के कामकाज में उनका कोई हाथ नहीं था। लेकिन अब सीबीआई ने पुरजोर तरीके से ये साबित करने की कोशिश की है कि कनिमोड़ी का ना केवल राजा को टेलीकॉम मंत्री बनाने में बड़ा हाथ था, बल्कि कलैगनर टीवी की सर्वेसर्वा भी वही थीं।

    कनिमोड़ी की दलील थी कि वो कलैगनर टीवी के बोर्ड में भी नहीं थी और उनके पास फैसले लेने के कोई अधिकार नहीं थे। सीबीआई ने इसकी काट करते हुए कहा कि पहले कनिमोड़ी डायरेक्टर थीं, तब सरकार ने चैनल चलाने की मंजूरी नहीं दी थी। कनिमोड़ी को चैनल जल्दी शुरू करना थी, इसलिए उन्होंने निदेशक पद से इस्तीफा दिया। भले ही कागजों में शरद कुमार निदेशक थे लेकिन असली मालिक कनिमोड़ी ही हैं। दोनों पक्षों की दलीलें सुनने के बाद कोर्ट ने फैसला सुरक्षित रख लिया था।

    Tags: 2G scam, A Raja, CBI, Politics, Ram jethmalani, Tamil nadu

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर