कोरोना के बढ़ते मामलों के बीच राहत की खबर, 24 घंटों में 10 हजार से ज्यादा मरीज हुए ठीक

कोरोना के बढ़ते मामलों के बीच राहत की खबर, 24 घंटों में 10 हजार से ज्यादा मरीज हुए ठीक
भारत में कोरोना के मरीज तेजी से ठीक हो रहे हैं.

कोरोना वायरस से पिछले 24 घंटों में 10,386 मरीज ठीक हो चुके हैं. भारत सरकार की ओर से जारी किए गए आंकड़ों के अनुसार अब तक कोरोना वायरस के कुल 2,04,710 मरीज स्वस्थ हो चुके हैं.

  • Share this:
नई दिल्ली. भारत में कोरोना वायरस (Coronavirus in India) के सक्रिय मामलों के मुकाबले स्वस्थ हुए मरीजों की संख्या लगातार बढ़ रही है. हालांकि, नए मामलों की संख्या भी 10 हजार के ऊपर ही है. केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय (Union Ministry of Health) की ओर से जारी किए गए आंकड़ों के मुताबिक, देश में कोविड-19 (Covid-19) पॉजिटिव केस 3,80,532 हो गए हैं. वहीं, कोरोना वायरस से पिछले 24 घंटों में 10,386 मरीज ठीक हो चुके हैं. भारत सरकार की ओर से जारी किए गए आंकड़ों के अनुसार अब तक कोरोना वायरस के कुल 2,04,710 मरीज स्वस्थ हो चुके हैं. देश में कोरोना का रिकवरी रेट 53.79 फीसदी है.

इन 5 राज्यों में कोरोना के सबसे ज्यादा केस
आंकड़ों के मुताबिक, देश में इस वक्त 1 लाख 49 हजार कोरोना के एक्टिव केस हैं. सबसे ज्यादा एक्टिव केस महाराष्ट्र में हैं. महाराष्ट्र में 53 हजार से ज्यादा संक्रमितों का अस्पतालों में इलाज चल रहा है. इसके बाद दूसरे नंबर पर दिल्ली, तीसरे नंबर पर तमिलनाडु, चौथे नंबर पर गुजरात और पांचवे नंबर पर पश्चिम बंगाल है. इन पांच राज्यों में सबसे ज्यादा एक्टिव केस हैं.
ये भी पढ़ेंः-COVID-19: कोरोना की चपेट में आए दिल्ली के स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद्र जैन, दूसरा टेस्‍ट निकला पॉजिटिव

चौथे स्थान पर भारत


वैश्विक स्तर की बात करें तो भारत में कोरोना वायरस के मामले लगातार बढ़ रहे हैं. कोरोना संक्रमितों की संख्या के हिसाब से भारत ने शुक्रवार को ब्रिटेन को पीछे छोड़ दिया और दुनिया का चौथा सबसे प्रभावित देश बन गया. अमेरिका, ब्राजील, रूस के बाद कोरोना महामारी से सबसे ज्यादा प्रभावित देशों में भारत चौथे स्थान पर आ गया है. भारत से अधिक मामले अमेरिका (2,263,651), ब्राजील ( 983,359), रूस (561,091) में हैं.

दिल्ली में इलाज के रेट हुए फिक्स
गृह मंत्रालय के अनुसार, गृह मंत्री अमित शाह की तरफ से गठित कमिटी ने दिल्ली में आम आदमी को बड़ी राहत देते हुए राजधानी के निजी अस्पतालों में कोविड-19 के उपचार की दरें तय कर दी हैं. कमिटी की सिफारिशों के अनुसार,आइसोलेशन बेड के लिए पीपीई लागत, बिना आईसीयू और वेंटिलेटर के साथ बेड की दरें क्रमश: 8000-10000, 13000-15000 और 15000-18000 रुपये तक की है. अभी यह दरें Rs 24000-25000, 34000-43000 & 44000-54000 (PPE लागत अतिरिक्त) हैं.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज