Home /News /nation /

दिल्ली: बुराड़ी के एक घर में मिली 11 लाश, मुंह और आंखों पर बंधी थी पट्टी

दिल्ली: बुराड़ी के एक घर में मिली 11 लाश, मुंह और आंखों पर बंधी थी पट्टी

पुलिस जब घटना की सूचना पाकर मौके पर पहुंची तो उन्हें संदिग्ध हालत में 10 लाशें छत से लटकी मिलीं. वहीं एक बुर्जुग महिला का शव जमीन पर पड़ा था.

    दिल्ली के बुराड़ी स्थित एक घर से ग्यारह लोगों के शव मिले हैं. मृतकों में तीन नाबालिगों सहित 7 महिलाएं और 4 पुरुष शामिल हैं. यह घटना बुराड़ी स्थित संत नगर की गली नंबर-2 की है. पुलिस जब घटना की सूचना पाकर मौके पर पहुंची तो उन्हें संदिग्ध हालत में दस लाश जाल से लटकी मिलीं. इनमें से कई के मुंह और आंखों पर पट्टी बंधी हुई थी, तो कुछ के पैर भी बंधे हुए पाए गए. वहीं एक बुज़ुर्ग महिला का शव जमीन पर पड़ा था. बताया जा रहा है कि वह महिला इन बच्चों की मां हैं.

    महिला के गले पर उंगलियों के निशान मिले हैं. पुलिस ने अज्ञात के खिलाफ हत्या का मामला दर्ज कर लिया है. हालांकि पुलिस अन्य 10 लोगों की मौत के मामले की जांच में जुटी हुई है.

    मोहल्ले के लोगों का कहना है कि भाटी फैमिली राजस्थान से यहां आई थी. उस घर में बुज़ुर्ग महिला के अलावा उनकी एक बेटी, दो बेटे, दो बहुएं, दो पोतियां, दो पोते और एक नातिन रहती थीं. पोतों की उम्र 16-17 साल के बीच बताई जा रही है. वहीं पड़ोसियों ने बताया कि कुछ ही दिन पहले महिला की नातिन प्रियंका की सगाई हुई थी. महिला का तीसरा बेटा चित्तौड़गढ़ में रहता है जिसका नाम दिनेश है. दिनेश सिविल कांट्रेक्टर है और वो अभी चित्तौड़गढ़ में ही है.

    बताया जा रहा है कि मृतक परिवार की किराने और प्लायवुड की दुकान है. रात करीब पौने बारह बजे उन्होंने अपनी दुकान बंद की थी. यह दुकान रोज तड़के ही खुल जाया करती थी, लेकिन सुबह जब एक आदमी दूध लेने गया तो उसने दुकान बंद देखी. इसकी वजह जानने के लिए जब वो उनके घर गया तो घर का दरवाज़ा खुला हुआ था. वह सीढ़ियों से ऊपर पहुंचा तो देखा कि घर के लोग छत पर लगी जाल से लटके हुए हैं. बाद में उसने दूसरे पड़ोसियों को सूचना दी और पुलिस को बुलाया गया.


    पुलिस इस मामले में सामूहिक हत्या और फिर आत्महत्या की आशंका जता रही है. पुलिस का कहना है कि परिवार ने संभवत: गरीबी से परेशान होकर यह कदम उठाया होगा, लेकिन घर से कोई सुसाइड नोट नहीं मिला है. पुलिस ने बताया कि घर के अंदर सारा सामान सुरक्षित है. बच्चों के हाथ और पैर को लुंगी को फाड़कर बांधा गया था.



    दिल्ली के संयुक्त पुलिस आयुक्त ने कहा कि जांच जारी है. किसी संभावना से इनकार नहीं किया जा सकता. वहीं पड़ोसियों के मुताबिक, यह परिवार बेहद अच्छा था, जिसकी कभी किसी से अनबन होते नहीं देखी गई.

    दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल भी मौके पर पहुंच कर मामले का जायज़ा लिया. इनके पहले बीजेपी सांसद मनोज तिवारी भी गए थे.



    पुलिस मामले में परिवार के आर्थिक स्थितियों के बारे में भी पता लगा रही है. चित्तौड़गढ़ में मृतकों के परिवार से भी पुलिस बात कर रही है. मृतक का परिवार 20 साल पहले चित्तौड़गढ़ से आया था.

    सूत्रों के मुताबिक कुछ दिनों पहले ही घर में रेनोवेशन का काम किया गया था. कहा जा रहा है उन्होंने दुकान भी बेची थी तो हो सकता है कि घर में पैसे पड़े रहे हो, जिसकी वजह से हत्या की गई हो. पुलिस इन सभी मामलों में पड़ताल कर रही है. शवों के पोस्टमार्टम के बाद मौत की सही वजह का पता लगेगा.

    Tags: Burari, Murder

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर