लाइव टीवी

कोरोना वायरस : टिकटॉक पर वायरल इलाज आजमाना पड़ा महंगा, धतूरा खाने से 11 लोग हॉस्पिटल में भर्ती

News18Hindi
Updated: April 9, 2020, 12:01 PM IST
कोरोना वायरस :  टिकटॉक पर वायरल इलाज आजमाना पड़ा महंगा, धतूरा खाने से 11 लोग हॉस्पिटल में भर्ती
सांकेतिक तस्वीर

तबीयत खराब होने के चलते दोनों परिवार के 11 लोगों को अस्पताल में भर्ती कराना पड़ा. वीडियो में दावा किया गया था कि इस फल को खाने से कोरोना का वायरस (Coronavirus) तुरंत खत्म हो जाता है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: April 9, 2020, 12:01 PM IST
  • Share this:
चित्तूर. कोरोना वायरस (Coronavirus) को लेकर सरकार देश भर में जागरूकता अभियान चला रही है. लेकिन इसके बावजूद लोग मानने को तैयार नहीं हैं. लोग इस खतरनाक वायरस से बचने के लिए तरह तरह के उपाय कर रहे हैं. ऐसा ही एक मामला आंध्र प्रदेश के चित्तूर से सामने आया है. द न्यूज़ मिनट के मुताबिक दो परिवारों को टिकटॉक पर वायरल कोरोना का घरेलू उपचार आजमाना महंगा पड़ गया. तबीयत खराब होने के चलते दोनों परिवार के 11 लोगों को अस्पताल में भर्ती कराना पड़ा.

धतूरा खाने से बीमार
पुलिस के मुताबिक दोनों परिवारों ने टिकटॉक पर एक वीडियो देखा था, जिसमें दावा किया गया था कि ‘उम्मेठा काया’ खाने से कोरोना वायरस के खिलाफ इम्यूनिटी लेवल बढ़ाया जा सकता है. बता दें कि ‘उम्मेठा काया’ धतूरे के पेड़ पर लगने वाला एक जहरीला फल है. वीडियो में दावा किया गया था कि इस फल को खाने से कोरोना का वायरस तुरंत खत्म हो जाता है.

पुलिस जुटी तलाश में



पुलिस फिलहाल फर्जी दावा करने वाले वीडियो बनाने वालों की तलाश में जुट गई है. लेकिन अभी तक पुलिस को कोई बड़ी कामयाबी नहीं मिली है. ‘उम्मेठा काया’ खाने के बाद पीड़ितों की हार्टबीट बढ़ गई और शरीर पर कई जगह चकत्ते पड़ने लगे. डॉक्टरों के मुताबिक ‘उम्मेठा काया’ में मौजूद एंट्रोपाइन जहर किसी के लिए भी जानलेवा साबित हो सकता है. अच्छी बात ये है कि मरीजों को समय पर सही इलाज मिला, जिससे वे ठीक होकर घर वापस लौट गए.



ये भी पढ़ें:-

चेतावनी के बावजूद इकठ्ठा हुए ढाई लाख तबलीगी और पूरे PAK में फैला दिया कोरोना

ब्रिटेन में फैली अफवाह! 5G टेक्नोलॉजी से होता है कोरोना, टावर में लगाई आग

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए देश से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: April 9, 2020, 11:50 AM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
corona virus btn
corona virus btn
Loading