• Home
  • »
  • News
  • »
  • nation
  • »
  • पढ़ें:तिहाड़ में पहले से ही मौजूद हैं हाई प्रोफाइल कैदी!

पढ़ें:तिहाड़ में पहले से ही मौजूद हैं हाई प्रोफाइल कैदी!

कैश फॉर वोट कांड के मुख्य आरोपी अमर सिंह को तिहाड़ के जिस वॉर्ड में शिफ्ट किया गया है, वहां पहले से ही कई हाई प्रोफाइल कैदी मौजूद हैं। अमर के लिए राहत की बात ये है कि तिहाड़ में उन्हें किसी के साथ कमरा शेयर नहीं करना पड़ेगा।

कैश फॉर वोट कांड के मुख्य आरोपी अमर सिंह को तिहाड़ के जिस वॉर्ड में शिफ्ट किया गया है, वहां पहले से ही कई हाई प्रोफाइल कैदी मौजूद हैं। अमर के लिए राहत की बात ये है कि तिहाड़ में उन्हें किसी के साथ कमरा शेयर नहीं करना पड़ेगा।

कैश फॉर वोट कांड के मुख्य आरोपी अमर सिंह को तिहाड़ के जिस वॉर्ड में शिफ्ट किया गया है, वहां पहले से ही कई हाई प्रोफाइल कैदी मौजूद हैं। अमर के लिए राहत की बात ये है कि तिहाड़ में उन्हें किसी के साथ कमरा शेयर नहीं करना पड़ेगा।

  • News18India
  • Last Updated :
  • Share this:
    नई दिल्ली। कैश फॉर वोट कांड के मुख्य आरोपी अमर सिंह को तिहाड़ के जिस वॉर्ड में शिफ्ट किया गया है, वहां पहले से ही कई हाई प्रोफाइल कैदी मौजूद हैं। अमर के लिए राहत की बात ये है कि तिहाड़ में उन्हें किसी के साथ कमरा शेयर नहीं करना पड़ेगा। उन्हें 15 बाई 10 फीट के एक कमरे में अकेले रखा गया है।
    गौरतलब है कि तिहाड़ में पहले से ही बहुत सारे वीआईपी कैदी मौजूद हैं। जिससे अमर सिंह को अकेलापन महसूस नहीं हुआ होगा। सांसदों को फिक्स करने वाले राज्यसभा सांसद अमर सिंह अब तिहाड़ की शोभा बढ़ा रहे हैं। अब तक बड़ी-बड़ी कोठियों में रहने वाले अमर सिंह का नया ठिकाना है जेल नंबर तीन और उनके साथ हैं संसद में नोटो की गड्डी लहराने वाले बीजेपी के दो पूर्व सांसद फग्गन सिंह कुलस्ते और महावीर भगोरा।
    ऐसे कैदियों में सबसे पहला नाम आता है 1 लाख 76 हजार करोड़ के टेलीकॉम घोटाले के मुख्य आरोपी और पूर्व टेलीकॉम मंत्री ए राजा का जो बीते कई महीनों से जेल की हवा खा रहे हैं। घोटाले में उनका साथ देने वाली करुणानिधि की बेटी और डीएमके सांसद कनिमोड़ी यहां भी उनका साथ दे रही है।
    टेलीकॉम घोटाले में तिहाड़ में बंद दिग्गजों में पूर्व टेलीकॉम सचिव सिद्धार्थ बेहुरा, यूनीटेक के प्रबंध निदेशक संजय चंद्रा, डीबी रियलिटी के मुखिया शाहिद बलवा और उनके चचेरे भाई आसिफ बलवा, डीबी रियलिटी के प्रबंध निदेशक विनोद गोयनका जैसे बड़े नाम शामिल हैं।
    इनके अलावा रिलायंस एडीएजी समूह के हरि नायर, गौतम दोषी और सुरेंद्र पिपारा भी टेलीकॉम घोटाले के आरोप में बंद हैं।
    तिहाड़ में बंद घोटालेबाजों की लिस्ट यहीं नहीं खत्म होती है। कॉमनवेल्थ घोटाले से जुड़े कई वीआईपी भी यहीं हैं और इनमें सबसे ऊपर नाम आता है कॉमनवेल्थ गेम्स आयोजन समीति के अध्यक्ष सुरेश कलमाड़ी का जो कि अप्रैल से ही तिहाड़ में हैं।
    उनके करीबी और आयोजन समिति के महासचिव ललित भनोट, वीके वर्मा, टी एस दरबारी और संजय महेंद्रू भी तिहाड़ में कैद हैं। इनके अलावा हवाला के आरोप में गिरफ्तार झारखंड के पूर्व मुख्यमंत्री मधु कोड़ा भी तिहाड़ जेल में हीं हैं।
    तिहाड़ जेल में कुछ ऐसे भी वीआईपी हैं जो कई सालों से यहीं हैं। इनमें सबसे पहला नंबर है संसद पर हमले के दोषी अफजल गुरु का। अफजल को फांसी की सजा सुनाई जा चुकी है। पत्रकार शिवानी भटनागर की हत्या के दोषी पूर्व आईपीएस अधिकारी आर के शर्मा तिहाड़ जेल में उम्रकैद की सजा काट रहे हैं।माकपा नेता अजित सरकार की हत्या के आरोप में बिहार के बाहुबली नेता राजेश रंजन उर्फ पप्पू यादव भी जेल में बंद हैं। दिल्ली के चर्चित जेसिका लाल हत्याकांड में उम्रकैद की सजा काट रहा मनु शर्मा भी यहीं है।
    फिलहाल उन्हें 19 सितंबर तक न्यायिक हिरासत में भेजा गया है लेकिन, उनकी बीमारी को देखते हुए 8 सितंबर को उनकी जमानत याचिका पर सुनवाई होगी।

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    हमें FacebookTwitter, Instagram और Telegram पर फॉलो करें.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज