Home /News /nation /

वायुसेना ने दो मिनट में लिया पुलवामा हमले का बदला, बालाकोट में जैश का कैम्प तबाह

वायुसेना ने दो मिनट में लिया पुलवामा हमले का बदला, बालाकोट में जैश का कैम्प तबाह

 air strike in pakistan

air strike in pakistan

रात करीब साढ़े तीन बजे एक साथ 12 मिराज-2000 लड़ाकू विमानों ने आतंकियों के बड़े ठिकानों पर हमला किया और उसे पूरी तरह से तबाह कर दिया.

    जम्‍मू-कश्‍मीर के पुलवामा में सीआरपीएफ के काफिले पर हुए आतंकी हमले का बदला लेने के लिए भारतीय वायुसेना ने POK में घुसकर जैश के ठिकानों पर हमला किया है. बताया जाता है कि रात करीब साढ़े तीन बजे एक साथ 12 मिराज-2000 लड़ाकू विमानों ने बालाकोट में आतंकियों के बड़े ठिकानों पर हमला किया और उसे पूरी तरह से तबाह कर दिया. सूत्रों ने बताया कि जिस जगह हमला हुआ वह बालाकोट पाकिस्तान के खैबर पख्तूनख्वा प्रांत में सुदूर घाटी में बसा एक शहर है. पाकिस्तान के कब्जे वाले कश्मीर में भी एक बालाकोट है.

    भारतीय वायुसेना से जुड़े सूत्रों ने बताया कि वायुसेना के विमानों ने बीती रात नियंत्रण रेखा के पार जैश के आतंकी कैंप पर करीब 1000 किलोग्राम के बम बरसाए. अभी तक की सूचना के मुताबिक दो से तीन सौ आतंकियों के मारे जाने की सूचना है. सूत्रों ने बताया कि यह पूरा ऑपरेशन केवल दो मिनट में पूरा कर लिया गया.

    विदेश सचिव विजय के.गोखले ने मीडिया से कहा, 'आज(मंगलवार) तड़के खुफिया अभियान में बालाकोट में जेईएम के सबसे बड़े प्रशिक्षण शिविर पर भारत ने हवाई हमला किया. इस अभियान में जैश के बड़ी संख्या में आतंकवादियों, प्रशिक्षकों, वरिष्ठ कमांडरों व जिहादियों के समूह को मार गिराया गया. इन्हें फिदायीन हमले के लिए प्रशिक्षित किया जा रहा था.'

    उन्होंने कहा, 'बालाकोट में शिविरों का नेतृत्व मौलाना युसूफ अजहर कर रहा था, जो जेईएम प्रमुख मसूद अजहर का संबंधी है.'

    पाकिस्तान ने स्वीकार किया कि आईएएफ के लड़ाकू विमानों ने बम गिराए और पाकिस्तान की जवाबी कार्रवाई के बाद वे वापस लौट गए, इस वजह से जमीन पर ज्यादा नुकसान नहीं हुआ. पाकिस्तान के विदेश मंत्री शाह महमूद कुरैशी ने कहा कि भारतीय लड़ाकू विमानों को पाकिस्तानी वायुसेना की जवाबी कार्रवाई के कारण लौटने को मजबूर होना पड़ा और उन्होंने चेतावनी दी कि पाकिस्तान के पास 'आत्मरक्षा व मुंहतोड़ जवाब देने का अधिकार है.'

    पाकिस्तानी सेना के प्रवक्ता मेजर जनरल आसिफ गफूर ने पहले कहा था कि मुजफ्फराबाद सेक्टर में भारतीय घुसपैठ हुई. लेकिन पाकिस्तान में भारतीय लड़ाकू विमानों के उसके क्षेत्र में ज्यादा अंदर जाने को लेकर हंगामे के बाद उन्होंने कहा, 'वापस लौटने के लिए मजबूर किए जाने पर विमानों ने खुले इलाके में बम गिराए। इससे किसी भी ढाचे को नुकसान नहीं पहुंचा और न कोई हताहत हुआ है.'

    पुलवामा आतंकी हमले के बाद से भारत और पाकिस्‍तान के बीच तनाव बढ़ गया है. पुलवामा का बदला लेने के लिए भारतीय वायु सेना ने एयर स्‍ट्राइक को अंजाम दिया है. भारतीय वायु सेना के 12 मिराज-2000 लड़ाकू विमानों ने जैश के कई ठिकानों ने नष्‍ट कर दिया है.

    बताया जा रहा है कि पाकिस्‍तान में आतंकियों पर सबसे बड़ा आतंकी हमला किया है. वायुसेना ने चार से पांच जैश के लॉन्‍चिंग पैड तबाह कर दिए हैं, जिसमें दो से तीन सौ आतंकियों के मारे जाने की सूचना है.

    इसे भी पढ़ें :- पाकिस्‍तान का आरोप, भारतीय वायुसेना के विमान POK में घुसे



    पाकिस्तान के प्रधानमंत्री ने हालात की समीक्षा के लिए इस्लामाबाद में बैठक बुलाई. भारत में विदेश मंत्री ने सर्वदलीय बैठक बुलाई. विदेश सचिव विजय के. गोखले ने कहा कि भारत सरकार आतंकवाद के खतरे से लड़ाई के सभी उपायों को अपनाने के लिए दृढ़ व संकल्पित है. इस वजह से यह असैन्य अग्रिम कार्रवाई खासतौर से जेईएम के शिविरों को निशाना बनाने के लिए की गई.

    उन्होंने कहा कि लक्ष्य का चयन नागरिकों को हताहत होने से बचाने की हमारी मंशा के अनुकूल था. गोखले ने कहा कि भारत ने पाकिस्तान व पाकिस्तान के कब्जे वाले कश्मीर में आतंकवाद के प्रशिक्षण शिविरों के बारे में पाकिस्तान को समय-समय पर जानकारी दी है.

    एक क्लिक और खबरें खुद चलकर आएंगी आपके पाससब्सक्राइब करें न्यूज़18 हिंदी  WhatsApp अपडेट्स

    Tags: Air Strike, Balakot, CRPF, India, Pakistan, Pulwama, Pulwama attack, Surgical Strike, Surgical strike by indian army in LOC, Trending news

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर