लाइव टीवी

कोरोना वायरस जांच किट के मूल्यांकन के लिए 14 कंपनियों को मिला लाइसेंस

भाषा
Updated: March 20, 2020, 9:26 PM IST
कोरोना वायरस जांच किट के मूल्यांकन के लिए 14 कंपनियों को मिला लाइसेंस
कोरोना वायरस जांच किट के मूल्यांकन के लिए 14 कंपनियों को मिला लाइसेंस (प्रतीकात्मक तस्वीर)

इन 14 कंपनियों में अहमदाबाद के कोसारा डायग्नोस्टिक्स और चेन्नई की सीपीसी डायग्नोस्टिक्स भी शामिल हैं. ये सभी कंपनियां जांच किटों की गुणवत्ता का मूल्यांकन करेंगी.

  • Share this:
नई दिल्ली. दवा नियामक भारतीय औषधि महानियंत्रक (DCGI) ने स्विट्जरलैंड की एक कंपनी समेत 14 निजी कंपनियों को कोरोना वायरस जांच किट की गुणवत्ता के मूल्यांकन के लिए लाइसेंस दिया है. केंद्रीय औषधि मानक नियंत्रक संगठन (सीडीएससीओ) के एक अधिकारी ने यह जानकारी दी.

रोशे डायग्नोस्टिक्स इंडिया के अलावा बाकी 13 कंपनियां भारतीय हैं. इनमें अहमदाबाद के कोसारा डायग्नोस्टिक्स और चेन्नई की सीपीसी डायग्नोस्टिक्स शामिल हैं. ये सभी कंपनियां जांच किटों की गुणवत्ता का मूल्यांकन करेंगी और डीसीजीआई को अपना डाटा जमा कराएंगी.

'कोबास सार्स सीओवी-2' मिला लाइसेंस

इससे पहले, 17 मार्च को रोशे डायग्नोस्टिक्स इंडिया को डीसीजीआई की तरफ से अपनी नैदानिक परीक्षण किट 'कोबास सार्स सीओवी-2' के लिए लाइसेंस दिया गया था.



देश में कोरोना वायरस संक्रमण के मामलों में इजाफा होने के कारण भारतीय चिकित्सा अनुसंधान परिषद (आईसीएमआर) ने घोषणा की थी कि निजी प्रयोगशालाओं को कोविड-19 की जांच की अनुमति दी जायेगी.

ये भी पढ़ें-

कोराना इफेक्ट: महाराष्ट्र के 4 शहर लॉकडाउन, जानिए इस दौरान क्‍या-क्‍या मिलेगा

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए देश से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: March 20, 2020, 9:22 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर