Assembly Banner 2021

ISRO ने इस साल बनाई है 14 मिशन को अंजाम देने की योजना: के. सिवन

इसरो के अध्यक्ष के. सिवन. (ANI/28 Feb 2021)

इसरो के अध्यक्ष के. सिवन. (ANI/28 Feb 2021)

ISRO MISSION: इसरो ने गगनयान-मानव अंतरिक्ष मिशन से पहले दो मानवरहित अंतरिक्ष मिशन की योजना बनाई है.

  • Share this:

श्रीहरिकोटा (आंध्र प्रदेश). भारतीय अंतरिक्ष अनुंसधान संगठन (इसरो) के अध्यक्ष के सिवन ने रविवार को यहां कहा कि इसरो ने 2021 के लिए 14 मिशन की योजना बनायी है जिनमें इस वर्ष के अंत में अंतरिक्ष एजेंसी का पहला मानवरहित मिशन शामिल है. सिवन ब्राजील के अमेजोनिया-1 और 18 अन्य उपग्रहों के सफल प्रक्षेपण के बाद यहां मिशन कंट्रोल सेंटर में वैज्ञानिकों को संबोधित कर रहे थे.


उन्होंने कहा, ‘निश्चित रूप से हमारे हाथ में कई मिशन हैं. हम इस साल 14 मिशन को अंजाम देने वाले हैं. सात प्रक्षेपण यान मिशन और छह उपग्रह मिशन, साथ ही वर्ष के अंत तक हमारा पहला मानवरहित मिशन. यह हमारा लक्ष्य है और वैज्ञानिक उस पर काम कर रहे हैं.’


इसरो ने गगनयान-मानव अंतरिक्ष मिशन से पहले दो मानवरहित अंतरिक्ष मिशन की योजना बनाई है. गगनयान मिशन के तहत 2022 तक तीन भारतीयों को अंतरिक्ष में भेजने की परिकल्पना है. मिशन के लिए चुने गए चार टेस्ट पायलट अभी रूस में प्रशिक्षण ले रहे हैं. सिवन ने उम्मीद जताई कि उनकी टीम हमेशा की तरह इस अवसर पर भी खरी उतरेगी और इसरो द्वारा निर्धारित सभी लक्ष्यों को पूरा करेगी.




पीएसएलवी-सी51 के जरिए ब्राजील के अमेजोनिया-1 और 18 अन्य उपग्रहों का प्रक्षेपण
गौरतलब है कि भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन (इसरो) ने अपनी वाणिज्यिक इकाई 'न्यू स्पेस इंडिया लिमिटिड' (एनसिल) के प्रथम समर्पित मिशन के तहत रविवार को ब्राजील के अमेजोनिया-1 और 18 अन्य उपग्रहों का पीएसएलवी (ध्रुवीय उपग्रह प्रक्षेपण यान) सी-51 के जरिए यहां श्रीहरिकोटा अंतरिक्ष केंद्र से सफल प्रक्षेपण किया. इन 18 उपग्रहों में से पांच उपग्रह छात्रों द्वारा निर्मित हैं. इसरो के लिए इस साल के पहले मिशन के तहत सतीश धवन अंतरिक्ष केंद्र (एसएचएआर) से पूर्वाह्न 10.24 बजे ध्रुवीय उपग्रह प्रक्षेपण यान (पीएसएलवी) सी-51 के प्रक्षेपण के बाद उपग्रहों को एक-एक करके उनकी निर्धारित कक्षाओं में स्थापित किया गया.

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज