लाइव टीवी

चीन के हुबेई में फंसे केरल के 15 छात्र कोच्चि पहुंचे, किसी में संक्रमण के लक्षण नहीं

भाषा
Updated: February 8, 2020, 9:20 PM IST
चीन के हुबेई में फंसे केरल के 15 छात्र कोच्चि पहुंचे, किसी में संक्रमण के लक्षण नहीं
विमान से उतरने के बाद छात्रों के शरीर के तापमान की जांच की गई और उन्हें पांच एंबुलेंस से अस्पताल ले जाया गया (Photo- AP)

अधिकारियों के मुताबिक छात्रों को घर जाने की अनुमति देने से पहले कलामेस्सरी राजकीय चिकित्सा महाविद्यालय अस्पताल के डॉक्टरों ने उन्हें 28 दिनों तक घर में ही पृथक रहने की सलाह दी.

  • Share this:
कोच्चि. घातक कोरोना वायरस (Corona Virus) संक्रमण के केंद्र चीन (China) के हुबेई (Hubei) प्रांत से लौटे केरल के 15 छात्रों में संक्रमण के लक्षण नहीं पाए गए हैं जिसके बाद डॉक्टरों ने उन्हें घर जाने की अनुमति दे दी. अधिकारियों ने शनिवार को यह जानकारी दी. उन्होंने बताया, "हालांकि, छात्रों की विस्तृत जांच के लिए नमूने लिए गए हैं."

घर में ही पृथक रहने की मिली थी सलाह
अधिकारियों के मुताबिक छात्रों को घर जाने की अनुमति देने से पहले कलामेस्सरी राजकीय चिकित्सा महाविद्यालय अस्पताल के डॉक्टरों ने उन्हें 28 दिनों तक घर में ही पृथक रहने की सलाह दी. घातक कोरोना वायरस संक्रमण फैलने के बाद चीन के हुबेई प्रांत में फंसे केरल के 15 छात्र शुक्रवार की रात कोचीन अंतरराष्ट्रीय हवाईअड्डा लिमिटेड पहुंचे थे. विमान से उतरने के बाद छात्रों के शरीर के तापमान की जांच की गई और उन्हें पांच एंबुलेंस से अस्पताल ले जाया गया.

अस्पताल प्रशासन ने उन खबरों का खंडन किया है जिसमें कहा गया था कि छात्रों को अस्पताल में ही बने पृथक वार्ड में भर्ती किया गया है. अधिकारियों ने बताया कि कुनमिंग हवाई अड्डे से छात्र बैंकॉक पहुंचे और फिर एयर एशिया के विमान से शुक्रवार रात 11 बजे कोच्चि पहुंचे. उन्होंने बताया कि छात्रों के रिश्तेदार हवाई अड्डे पर मिलने के लिए पहुंचे थे लेकिन उन्हें मिलने की अनुमति नहीं दी गई.

पुणे के शख्स को भी संक्रमण नहीं
कोरोना वायरस के संक्रमण की आशंका में पृथक रखे गए तीन व्यक्तियों के नमूने की जांच में पता चला है कि वे संक्रमण ग्रस्त नहीं हैं. एक अधिकारी ने शनिवार को यह बताया. पृथक रखे गए तीन लोगों में से एक चीन का नागरिक है. दिल्ली-पुणे उड़ान में शुक्रवार सुबह चीन के 31 वर्षीय एक व्यक्ति ने उल्टी कर दी थी. जिसके बाद उसे शहर में नगर निगम के नायडु अस्पताल में भर्ती करवाया गया था.

पुणे नगर निगम में मुख्य स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. रामचंद्र हानकारे ने बताया कि उस व्यक्ति को 11 फरवरी तक अस्पताल में ही रहना होगा. उन्होंने कहा, ‘‘राष्ट्रीय विषाणु विज्ञान संस्थान में भेजे गए नमूने की जांच में उनके संक्रमण ग्रस्त नहीं होने की पुष्टि हो गई है.’’अस्पताल के पृथक वार्ड में रखे गए दो अन्य लोगों के नमूने भी संक्रमण ग्रस्त नहीं पाए गए हैं. चीन में कोरोना व़ायरस के कारण अब तक 700 से अधिक लोगों की मौत हो चुकी हैं.

ये भी पढ़ें-
कोरोना वायरस: चीन में अब तक 722 लोगों की मौत, कुछ को मिली अस्पताल से छुट्टी

कोरोना वायरस: जापान के जहाज में मिले 64 मरीज, 200 से ज्यादा भारतीय भी फंसे

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए देश से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: February 8, 2020, 9:20 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर