कोरोना की तीसरी लहरः जल्द शुरू होंगे 1500 ऑक्सीजन प्लांट, जानें समीक्षा बैठक में पीएम मोदी ने क्या कहा

देश भर में लगाए जा रहे हैं, 1500 आक्सीजन प्लांट. (फाइल फोटो)

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Prime Minister Narendra Modi) को बताया गया कि देश के अलग-अलग हिस्सों में आक्सीजन प्लांट (Oxygen Plant) लगाने का काम काफी तेजी से चल रहा है. देश में पंद्रह सौ से ज्यादा पीएसए आक्सीजन प्लांट लग रहे हैं, जो पीएम केयर फंड और विभिन्न मंत्रालयों के सहयोग से बनाए जा रहे हैं.

  • Share this:
नई दिल्‍ली. देश में कोरोना की तीसरी लहर (Corona Third Wave) की आशंका के बीच केंद्र सरकार ने तैयारियां तेज कर दी हैं. दूसरी लहर के दौरान देश के ज्‍यादातर अस्पतालों में ऑक्सीजन (Oxygen ) की भारी कमी देखी गई थी. ऐसा भविष्य में दोबारा न हो इसके लिए सरकार अभी से जरूरी कदम उठा रही है. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Prime Minister Narendra Modi) ने शुक्रवार को देश भर में ऑक्सीजन सप्लाई को बढ़ाने की दिशा में समीक्षा बैठक की. इस दौरान पीएम को बताया गया कि देश के अलग-अलग हिस्सों में ऑक्सीजन प्लांट (Oxygen Plant) लगाने का काम काफी तेजी से चल रहा है. देश में पंद्रह सौ से ज्यादा पीएसए ऑक्सीजन प्लांट लग रहे हैं, जो पीएम केयर फंड और विभिन्न मंत्रालयों के सहयोग से बनाए जा रहे हैं.

बैठक के दौरान पीएम मोदी को बताया गया कि पीएम केयर फंड के जरिए देश के सभी राज्यों और जिलों में पीएसए ऑक्सीजन प्लांट लग रहे हैं. एक बार ये सभी प्लांट शुरू हो जाएंगे, तो इनके जरिए चार लाख के करीब ऑक्सीजन बेड चलाए जा सकेंगे. पीएम ने अधिकारियों को निर्देश दिया कि ये सुनिश्चित किया जाए कि ये प्लांट जल्द से जल्द काम करना शुरू कर दें और इसके लिए राज्य सरकारों का सहयोग भी अहम है.

इसे भी पढ़ें :- कोरोना की तीसरी लहर, सबका टीकाकरण... स्वास्थ्य मंत्री मनसुख मंडाविया को इन चुनौतियों से पाना होगा पार

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अधिकारियों को ये भी कहा कि वो ऑक्सीजन प्लांट के रखरखाव और उसे चलाने की ट्रेनिंग अस्पतालों के स्टाफ को भी दिलवाने का इंतजाम करें. हर जिले में इन प्लांट को चलाने के लिए प्रशिक्षित लोग होने चाहिए. अधिकारियों ने बताया कि ट्रेनिंग का मॉड्यूल विशेषज्ञों द्वारा तैयार कर लिया गया है और आठ हजार लोगों को देश भर में इसके लिए ट्रेनिंग देने का लक्ष्य रखा गया है.



इसे भी पढ़ें :- कोविड की दूसरी लहर पड़ी कमजोर या मिल रहे तीसरी लहर के संकेत? जानें क्या कहते हैं आंकड़े

गौरतलब है कि कल ही प्रधानमंत्री मोदी की अध्यक्षता में केंद्रीय कैबिनेट ने कोरोना की तीसरी संभावित लहर को देखते हुए 23 हजार करोड़ से अधिक के पैकेज का ऐलान किया था. इसमें से पंद्रह हजार करोड़ रुपए केंद्र सरकार और आठ हजार करोड़ रुपए राज्य सरकारें देंगी. अगले साल मार्च से पहले यानी अगले नौ महीने में इस रकम को देश में स्वास्थ्य व्‍यवस्‍था को बेहतर बनाने पर खर्च किया जाएगा.

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.