ब्लड कैंसर से जूझ रही लड़की एक दिन के लिए बनी पुलिस कमिश्नर

राम्या (Ramya) बारवीं में पीसीएम स्ट्रीम से पढ़ाई करती है और वह मेढ़चल जिले की रहने वाली है. राम्या ने बताया कि वह कमिश्नर की कुर्सी पर बैठी और अधिकारियों को आदेश दिये, जिसका सबने पालन भी किया.

  • Share this:

हैदराबाद. तेलंगाना (Telangana) की राचाकोंड़ा पुलिस ने ब्लड कैंसर (Blood cancer) से जूझ रही एक 17 वर्षीय बच्ची के पुलिस अधिकारी बनने के सपने को पूरा किया है. इस बच्ची को एक दिन के लिए पुलिस कमिश्नर (Police commissioner) बनाया गया है.

17 वर्षीय लड़की राम्या ने बताया कि उसे एक दिन का पुलिस कमिश्नर बनकर बहुत खुशी हुई. राम्या बारवीं में पीसीएम स्ट्रीम से पढ़ाई करती है. राम्या ने बताया कि वह कमिश्नर की कुर्सी पर बैठी और अधिकारियों को आदेश दिये, जिसका सब अधिकािरियों ने पालन भी किया.

राम्या ने कहा कि आज वह बहुत खुश है. भविष्य में वह पुलिस अधिकारी बन कर इलाके की व्यवस्था और ट्रैफिक नियम को बनाने के लिए खास ध्यान देगी. साथ ही उसने कहा कि महिलाओं पर हो रहे अत्याचार के मामले पर कमी लाने के लिए प्रयास करेगी.



राम्या का निम्स हैदराबाद में इलाज चल रहा है. इतनी कम उम्र में शायद उन्हें नहीं मालूम कि उसकी जिंदगी का क्या होगा, लेकिन जब वह किसी से मिलती है तो मुस्कराकर बोलती है कि उसे बड़े होकर पुलिस अधिकारी बनना है और देश की सेवा करना है.
जल्द स्वस्थ होने की कामना की

राचाकोंड़ा जिले के आईपीएस महेश भागवत और एडिशनल कमिश्नर सुधीर बाबू ने राम्या के जल्द स्वस्थ होने की कामना की है. इस मौके पर राम्या को गार्ड ऑफ ऑनर दिया गया.

ये भी पढ़ें- जम्‍मू कश्‍मीर: आतंकी संगठनों के निशाने पर सुरक्षा बल और सरकारी दफ्तर

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज