• Home
  • »
  • News
  • »
  • nation
  • »
  • भंडारा रेप केस: पुलिस और सरकार ने तोड़ी मर्यादा

भंडारा रेप केस: पुलिस और सरकार ने तोड़ी मर्यादा

भंडारा केस में पुलिस और सरकार की संवेदनहीनता लगातार दिख रही है। शुक्रवार को संसद में गृहमंत्री सुशील कुमार शिंदे ने संसद में भंडारा बलात्कार पीड़ित तीनों लड़कियों का नाम उजागर कर दिया।

  • Share this:
    नई दिल्ली। भंडारा केस में पुलिस और सरकार की संवेदनहीनता लगातार दिख रही है। शुक्रवार को संसद में गृहमंत्री सुशील कुमार शिंदे ने संसद में भंडारा बलात्कार पीड़ित तीनों लड़कियों का नाम उजागर कर दिया। ये ध्यान दिलाने के बाद कि ऐसा करना कानूनन गलत है। उन्होंने माफी मांग ली और संसद की कार्यवाही से वो हिस्सा निकाल दिया गया। लेकिन इसके बाद आज देर शाम सरकार की प्रेस रिलीज में एक बार फिर तीनों लड़कियों का नाम ले लिया गया। आप अंदाजा लगा सकते हैं कि सरकार का रवैया इस केस को लेकर किस तरह का है।
    महाराष्ट्र के भंडारा जिले में तीन नाबालिग बहनों के साथ बलात्कार और फिर उनकी हत्या के आरोपी वारदात के 15 दिन बाद भी सलाखों के पीछे नहीं पहुंच सके हैं। ये मामला संसद में गूंजा, तो सरकार ने फिर कार्रवाई का भरोसा दिलाया। सवाल ये है कि इन वादों पर कब तक यकीन करेगा देश। दबाव में आई पुलिस के आला-अधिकारियों ने एक पीआई स्तर के अधिकारी को सस्पेंड कर के लोगों को शांत करने की कोशिश की। विपक्ष भी इसे मुद्दा बना रहा है। वहीं शुक्रवार को राष्ट्रीय महिला आयोग की टीम भी भंडारा पहुंची। पीड़ित परिवार से मुलाकात के बाद उसने भी पुलिस के कामकाज पर सवाल उठाए।


    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज