लाइव टीवी

सरबजीत सिंह की मौत से पंजाब में शोक की लहर

आईएएनएस
Updated: May 2, 2013, 6:42 AM IST
सरबजीत सिंह की मौत से पंजाब में शोक की लहर
लाहौर के अस्पताल में सरबजीत की मौत होने की सूचना मिलने के बाद गुरुवार को सरबजीत का गृहनगर भिखिविंड (पंजाब) शोक में डूब गया।

लाहौर के अस्पताल में सरबजीत की मौत होने की सूचना मिलने के बाद गुरुवार को सरबजीत का गृहनगर भिखिविंड (पंजाब) शोक में डूब गया।

  • Share this:
भिखिविंड। लाहौर के अस्पताल में सरबजीत की मौत होने की सूचना मिलने के बाद गुरुवार को सरबजीत का गृहनगर भिखिविंड (पंजाब) शोक में डूब गया। सरबजीत की मौत की सूचना मिलने के बाद गुरुवार सुबह से शहर के सभी प्रतिष्ठान बंद हैं। बीते 26 अप्रैल को लाहौर की कोट लखपत जेल में सरबजीत पर हुए जानलेवा हमले के बाद गंभीर हालत में उसे अस्पताल में भर्ती कराया गया था।

पिछले साल जून महीने में पाकिस्तान सरकार द्वारा सरबजीत को रिहा किए जाने के फैसले की सूचना मिलने पर उसके गृहनगर में मिठाइयां बांटी गईं थीं, पटाखे जलाए गए और खुशियां मनाई गईं, लेकिन बाद में पता चला कि सरबजीत को रिहा करने की सूचना गलत थी। सरबजीत के घर के बाहर एकत्र हुए लोगों में से कृपाल सिंह ने कहा कि हम आशा कर रहे थे कि कोई चमत्कार होगा और सरबजीत ठीक हो जाएगा। पाकिस्तान ने जो किया वह उसकी कायरता है। सरबजीत ने 23 साल तक उनकी जेल में सजा काटी और अब उसकी हत्या कर दी गई।

सरबजीत के परिवार के दिल्ली में होने के कारण उसके घर पर भी सन्नाटा पसरा है। अमृत कौर ने कहा कि शहर के लोग सरबजीत के लिए दुआ कर रहे थे और उन्हें आशा थी कि एक दिन वह उनके बीच लौट कर आएगा। पाकिस्तान सरकार ने साजिश करके उसकी हत्या कर दी। पाकिस्तान की अदालत द्वारा लगभग 23 साल पहले लाहौर और मुल्तान में हुए बम विस्फोटों में दोषी ठहराए जाने के बाद सरबजीत को मौत की सजा सुनाई गई थी। सरबजीत के परिवार ने उनके निर्दोष होने का दावा करते हुए कहा था कि वह नशे की हालत में पाकिस्तान की सीमा में प्रवेश कर गया था।

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए देश से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: May 2, 2013, 6:42 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...