अपना शहर चुनें

States

वंदे भारत मिशन: भारत से वुहान पहुंचे विमान में मिले 19 कोरोना संक्रमित, निगेटिव रिपोर्ट दिखा हुए थे सवार

कोरोना वायरस महामारी की शुरुआत चीन के वुहान से ही हुई थी. (Photo Credit- Reuters)
कोरोना वायरस महामारी की शुरुआत चीन के वुहान से ही हुई थी. (Photo Credit- Reuters)

Vande Bharat Mission: एअर इंडिया के कर्मचारी के मुताबिक 30 अक्टूबर को चीन के वुहान ने आ रही वंदे भारत मिशन (Vande Bharat Mission) के तहत उड़ान भरने वाली एअर इंडिया की फ्लाइट में 19 यात्री चीन के वुहान एयरपोर्ट (Wuhan Airport) पर कोरोना वायरस से संक्रमित पाए गए हैं.

  • News18Hindi
  • Last Updated: November 2, 2020, 10:18 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. भारत (India) से चीन (China) के वुहान (Wuhan) जा रही एक फ्लाइट में 19 यात्रियों के कोरोना वायरस (Coronavirus) से संक्रमित होने की खबर सामने आई है. एअर इंडिया (Air India) के एक कर्मचारी ने सोमवार को ये जानकारी दी. एअर इंडिया के कर्मचारी के मुताबिक 30 अक्टूबर को भारत से चीन के वुहान के लिए उड़ान भरने वाली वंदे भारत मिशन (Vande Bharat Mission) की  एअर इंडिया की फ्लाइट में 19 यात्री चीन के वुहान एयरपोर्ट (Wuhan Airport) पर कोरोना वायरस से संक्रमित पाए गए हैं. कर्मचारी ने बताया कि विमानन सेवा को इस घटना की जानकारी है. अधिकारी ने कहा कि सभी यात्रियों को कोविड निगेटिव जांच रिपोर्ट दिखाने के बाद ही विमान में सवार होने की इजाजत दी गई थी.

बता दें कोरोना वायरस महामारी की शुरुआत चीन के वुहान से ही हुई थी. कोविड-19 के प्रकोप के चलते भारत ने मार्च में सभी अंतर्राष्ट्रीय फ्लाइट्स पर रोक लगा दी थी. इसके बाद भारत ने मई में वंदे भारत मिशन की शुरुआत की थी जिसके तहत विदेशों में फंसे भारतीयों को लाने के लिए विशेष फ्लाइट्स का संचालन शुरू किया गया. इस मिशन के तहत अब तक 20 लाख से ज्यादा भारतीयों को वापस लाया जा चुका है.

ये भी पढ़ें- LG मनोज सिन्हा ने कहा-2025 तक जम्मू कश्मीर के 80% युवाओं को रोजगार देने की कोशिश, पढ़ें 10 बड़ी बातें



1 अक्टूबर से शुरू हुआ था सातवां चरण
विदेश मंत्रालय ने गुरुवार को कहा था कि कोरोना वायरस महामारी के मद्देनजर सरकार द्वारा सात मई से वंदे भारत मिशन की शुरुआत किए जाने के बाद से 20 लाख से ज्यादा भारतीय दूसरे देशों से वापस आए हैं. विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता अनुराग श्रीवास्तव ने कहा कि एक अक्टूबर से शुरू मिशन के सातवें चरण के तहत 31 अक्टूबर तक 24 देशों से 1057 अंतरराष्ट्रीय उड़ानों का संचालन किया गया. इसके तहत करीब 1,95,000 लोगों की स्वदेश वापसी हुई है. उन्होंने ऑनलाइन संवाददाता सम्मेलन में कहा , ‘‘हमने अगले चरण के लिए तैयारियां शुरू कर दी है.’’

ये भी पढ़ें- जम्मू-कश्मीर में आतंक की कमर तोड़ रहे सुरक्षा बल, इस साल 200 आतंकियों का सफाया

पिछले गुरुवार तक वंदे भारत मिशन के तहत एअर इंडिया, निजी और विदेशी विमान कंपनियों, चार्टर्ड विमानों, नौसेना के पोतों आदि के जरिए 20.55 लाख भारतीय वापस आए.

बांग्लादेश के साथ ‘एयर बबल’ समझौता के बारे में पूछे जाने पर प्रवक्ता ने कहा कि दोनों देशों के विदेश मंत्रियों के बीच 29 सितंबर को वार्ता के दौरान सहमति बनी थी कि दोनों तरफ के यात्रियों की जरूरतों को पूरा करने के लिए ‘एयर बबल’ के तहत विमानों का संचालन किया जाएगा. द्विपक्षीय ‘एयर बबल’ बुधवार से शुरू हुआ है .
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज