19 राज्यों में कोरोना से ठीक होने की दर राष्ट्रीय औसत से बेहतर: केंद्र

इन 16 में से ज्यादातर बड़े राज्य हैं. (प्रतीकात्मक तस्वीर-AP)

केंद्र ने कहा है कि उसके द्वारा राज्य सरकारों के समन्वय में उठाए गए कदमों से मरीजों के ठीक होने की दर (Recovery Rate) में 'क्रमिक बढ़ोतरी' हुई. उसने यह भी कहा कि देश के 30 राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों में कोविड-19 के कारण मृत्युदर (Death Rate) राष्ट्रीय औसत (National Average) 2.64 प्रतिशत से नीचे है.

  • Share this:
    नई दिल्ली. भारत के 19 राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों में कोविड-19 (Covid-19) से मरीजों के ठीक होने की दर (Recovery Rate) राष्ट्रीय औसत (National Average) 63.02 प्रतिशत से बेहतर है. केंद्र ने कहा है कि उसके द्वारा राज्य सरकारों के समन्वय में उठाए गए कदमों से मरीजों के ठीक होने की दर में 'क्रमिक बढ़ोतरी' हुई. उसने यह भी कहा कि देश के 30 राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों में कोविड-19 के कारण मृत्युदर राष्ट्रीय औसत 2.64 प्रतिशत से नीचे है.

    नए नियमों और रणनीति का पड़ा प्रभाव
    स्वास्थ्य मंत्रालय ने एक बयान में कहा कि घर पर क्वारंटीन के नए नियमों और मानकों तथा ऑक्सीमीटरों के इस्तेमाल ने बिना लक्षण वाले या हल्के लक्षण वाले मरीजों पर नियंत्रण रखने में मदद की और अस्पतालों पर बोझ भी नहीं बढ़ा. स्वाथ्य मंत्रालय ने मुताबिक, 'कोरोना वायरस संक्रमण की रोकथाम के लिए केंद्र और राज्य सरकारों द्वारा उठाए गए अति-सक्रिय, पूर्वानुमानित और समन्वित कदमों से कोविड-19 से ठीक होने वाले मरीजों की संख्या में क्रमित बढ़ोतरी हुई.' जांच में इजाफा और समय पर निदान से कोविड-प्रभावित मरीजों के बीमारी के अग्रिम चरण में जाने से पहले ही पहचान हो जाती है.

    63.02 प्रतिशत हुआ रिकवरी रेट
    मंत्रालय ने कहा कि हॉटस्पॉट इलाकों और निगरानी कार्यक्रमों को प्रभावी तरीके से लागू करने से यह सुनिश्चित हुआ कि संक्रमण की दर नियंत्रण में रहे. इसमें कहा गया कि एक श्रेणीबद्ध नीति और समग्र दृष्टिकोण के कारण बीते 24 घंटों के दौरान 18,850 मरीज ठीक हुए जिससे देश में इस महामारी से अब तक ठीक होने वाले लोगों की कुल संख्या बढ़कर 5,53,470 हो गई. मंत्रालय ने कहा कि ठीक होने की दर में भी सुधार हुआ है और अब यह 63.02 प्रतिशत है, और 19 राज्यों व केंद्र शासित प्रदेशों में मरीजों के ठीक होने की दर राष्ट्रीय औसत से ज्यादा है.

    इन राज्यों में बेहतर है प्रतिशत
    जिन राज्यों व केंद्र शासित प्रदेशों में मरीजों के ठीक होने की दर राष्ट्रीय दर से ज्यादा है उनमें लद्दाख (85.45 प्रतिशत), दिल्ली (79.98 प्रतिशत) उत्तराखंड (78.77 प्रतिशत), छत्तीसगढ़ (77.68 प्रतिशत), हिमाचल प्रदेश (76.59 प्रतिशत), हरियाणा (75.25 प्रतिशत), चंडीगढ़ (74.6 प्रतिशत), राजस्थान (74.22 प्रतिशत), मध्य प्रदेश (73.03 प्रतिशत) और गुजरात (69.73 प्रतिशत) शामिल हैं.

    इसके अलावा त्रिपुरा (69.18 प्रतिशत), बिहार (69.09 प्रतिशत), पंजाब (68.94 प्रतिशत), ओडिशा (66.69 प्रतिशत), मिजोरम (64.94 प्रतिशत), असम (64.87 प्रतिशत), तेलंगाना (64.84 प्रतिशत), तमिलनाडु (64.66 प्रतिशत) और उत्तर प्रदेश (63.97 प्रतिशत) में भी मरीजों के ठीक होने की दर राष्ट्रीय औसत से ज्यादा है.

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.