• Home
  • »
  • News
  • »
  • nation
  • »
  • 1 अगस्त 2021 को 'मुस्लिम महिला अधिकार दिवस' के रूप में मनाया जाएगा: मुख्तार अब्बास नकवी

1 अगस्त 2021 को 'मुस्लिम महिला अधिकार दिवस' के रूप में मनाया जाएगा: मुख्तार अब्बास नकवी

केंद्रीय अल्पसंख्यक कार्य मंत्री मुख्तार अब्बास नकवी (फाइल फोटो)

केंद्रीय अल्पसंख्यक कार्य मंत्री मुख्तार अब्बास नकवी (फाइल फोटो)

केंद्रीय मंत्री नकवी (Mukhtar Abbas Naqvi) ने कहा कि “तीन तलाक” को कानूनन अपराध बना कर मोदी सरकार ने मुस्लिम महिलाओं के "आत्म निर्भरता, आत्म सम्मान, आत्म विश्वास" को पुख्ता कर उनके संवैधानिक-मौलिक-लोकतांत्रिक एवं समानता के अधिकारों को सुनिश्चित किया है.

  • Share this:

नई दिल्ली: दो साल पहले 1 अगस्त 2019 को “तीन तलाक” (Triple Talaq ) को कानूनी रूप से अपराध घोषित कर दिया था. अब केंद्र सरकार ने “तीन तलाक” को अपराध घोषित किए जाने वाले दिन 1 अगस्त को “मुस्लिम महिला अधिकार दिवस” (Muslim Women Rights Day) के रूप में मनाए जाने का फैसला लिया है. केंद्रीय अल्पसंख्यक कार्य मंत्री मुख्तार अब्बास नकवी (Mukhtar Abbas Naqvi) ने आज यहाँ कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की सरकार ने 1 अगस्त 2019 के दिन “तीन तलाक या तलाके बिद्दत” को कानूनी अपराध घोषित किया था,

केंद्रीय मंत्री मुख्तार अब्बास नकवी ने कहा कि “तीन तलाक” के कानूनी अपराध बनाये जाने के बाद बड़े पैमाने पर तीन तलाक की घटनाओं में कमीं आई है. देश भर की मुस्लिम महिलाओं ने इसका स्वागत किया है.

कल 1 अगस्त 2021 को देश भर में विभिन्न संगठनों द्वारा “मुस्लिम महिला अधिकार दिवस” मनाया जाएगा. नई दिल्ली में कल 1 अगस्त को “मुस्लिम महिला अधिकार दिवस” पर आयोजित होने वाले कार्यक्रम में केंद्रीय महिला एवं बाल विकास मंत्री स्मृति ईरानी; केंद्रीय अल्पसंख्यक कार्य मंत्री मुख्तार अब्बास नकवी और केंद्रीय पर्यावरण, वन और जलवायु परिवर्तन मंत्री भूपेंद्र यादव उपस्थित रहेंगें.

नकवी ने कहा कि “तीन तलाक” को कानूनन अपराध बना कर मोदी सरकार ने मुस्लिम महिलाओं के “आत्म निर्भरता, आत्म सम्मान, आत्म विश्वास” को पुख्ता कर उनके संवैधानिक-मौलिक-लोकतांत्रिक एवं समानता के अधिकारों को सुनिश्चित किया है.

गौरतलब है कि मुस्लिम महिला विवाह अधिकार संरक्षण विधेयक जुलाई, 2019 में संसद के दोनों सदनों से पारित किया गया था और राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने विधेयक को 1 अगस्त 2019 को अपनी मंजूरी दे दी थी. राष्ट्रपति की मंजूरी के बाद से तीन तलाक कानूनी अपराध के रूप में दर्ज हो गया.

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

विज्ञापन
विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज