अपना शहर चुनें

States

ब्रिटेन से आए 2 कोरोना पॉजिटिव दिल्‍ली एयरपोर्ट से गायब, एक गया जालंधर, दूसरा आंध्र प्रदेश

ब्रिटेन से लगातार भारत आ रहे हैं यात्री. (Pic- AP)
ब्रिटेन से लगातार भारत आ रहे हैं यात्री. (Pic- AP)

ब्रिटेन (Britain) से मंगलवार को भारत आए पांच कोरोना वायरस संक्रमित (Coronavirus) दिल्‍ली एयरपोर्ट से लापता हो गए. किसी को उनका कोई सुराग नहीं मिल रहा था. उनमें से तीन मिल गए थे लेकिन दो की तलाश जारी थी.

  • News18Hindi
  • Last Updated: December 24, 2020, 11:35 AM IST
  • Share this:
नई दिल्‍ली. ब्रिटेन (UK) में सामने आए कोरोना वायरस (Coronavirus) के नए स्‍ट्रेन के कारण दुनिया भर में हड़कंप की स्थिति बनी हुई है. कई देशों ने तो ब्रिटेन आने-जाने वाली फ्लाइट पर भी प्रतिबंध लगा दिया है. भारत में भी ब्रिटेन से आने वाले यात्रियों के लिए स्‍टैंडर्ड ऑपरेटिंग प्रोसीजर (SOP) जारी किया गया है. लेकिन इसके बावजूद लापरवाही सामने आ रही है.

इंडियन एक्‍सप्रेस की रिपोर्ट के अनुसार मंगलवार को ब्रिटेन से भारत आए पांच कोरोना वायरस संक्रमित दिल्‍ली एयरपोर्ट से लापता हो गए. किसी को उनका कोई सुराग नहीं मिल रहा था. हालांकि बाद में उनमें से तीन लोग दिल्‍ली में ही मंगलवार रात को मिले थे. जबकि एक कोरोना वायरस संक्रमित जालंधर चला गया था और दूसरा आंध्र प्रदेश पहुंच गया था. उन्‍हें बुधवार को दिल्‍ली वापस लाया गया.

सूत्रों के अनुसार कोरोना संक्रमितों में से एक अमृतसर के पंडोरी गांव का एक 46 वर्षीय व्यक्ति था. वह बिना किसी को भनक लगे दिल्‍ली एयरपोर्ट से निकल गया और जालंधर में जाकर उसने निजी अस्‍पताल में अपना चेकअप कराया. लुधियाना के अतिरिक्त पुलिस कमिशनर संदीप कुमार ने बताया कि मरीज को बुधवार सुबह दिल्ली वापस भेज दिया गया था. उनके अंदर कोरोना के संक्रमण के बारे में अभी भी ज्‍यादा जानकारी नहीं है.



पंजाब के एक वरिष्ठ स्वास्थ्य अधिकारी ने कहा कि एक बड़ी चूक थी, क्योंकि व्‍यक्ति कोरोना पॉजिटिव होने के बाद भी यात्रा करने में कामयाब रहा. उन्होंने कहा, 'कोरोना मरीज अमृतसर से है, लेकिन लुधियाना में उसका भतीजा एक अस्पताल में काम करता है और उन्होंने यहां भर्ती होने का फैसला किया. मंगलवार शाम 4.30 बजे के आसपास हमें दिल्ली में अधिकारियों का फोन आया कि पंजाब का एक व्यक्ति गायब हो गया है. प्रोटोकॉल के अनुसार, हमने उसकी तलाश शुरू कर दी. शाम को लगभग 5.30 बजे, वह अपनी पत्नी के साथ फोर्टिस अस्पताल पहुंचा. पत्‍नी भी ब्रिटेन से साथ आई थी.'
लुधियाना प्रशासन बुधवार को मरीज को दिल्ली भेजने के लिए तैयार हो गया. लुधियाना के एक अफसर ने कहा, 'हम मरीज को वापस दिल्ली स्थानांतरित करने के पक्ष में नहीं थे क्योंकि इससे संक्रमण फैल सकता था. हम उनके अन्य संपर्कों को भी ट्रेस करने की प्रक्रिया में हैं.'

वहीं ब्रिटेन से दिल्ली हवाई अड्डा पर पहुंचे 11 यात्रियों में कोरोना वायरस संक्रमण की पुष्टि हुई है. जेनिस्ट्रिंग्स डायग्नोस्टिक सेंटर की संस्थापक गौरी अग्रवाल ने बुधवार को इस बारे में बताया. दिल्ली हवाई अड्डे पर सभी यात्रियों की कोरोना वायरस की जांच का काम जेनिस्ट्रिंग्स डायग्नोस्टिक सेंटर को सौंपा गया है. एक बयान में अग्रवाल ने बताया कि चार उड़ानों के 50 यात्रियों को संस्थानिक पृथक-वास में भेजा गया है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज