Home /News /nation /

लॉकडाउन में फंसे 2 जज! HC में चीफ जस्टिस का पद संभालने के लिए कर रहे हैं 2,000 किमी की सड़क यात्रा

लॉकडाउन में फंसे 2 जज! HC में चीफ जस्टिस का पद संभालने के लिए कर रहे हैं 2,000 किमी की सड़क यात्रा

बॉम्बे हाई कोर्ट

बॉम्बे हाई कोर्ट

इन न्यायाधीशों को उच्च न्यायालयों के मुख्य न्यायाधीशों (chief justices of high courts ) के तौर पर हाल में पदोन्न्त किया गया है.

    कोलकाता. कोरोना वायरस (Coronavirus) के संक्रमण को रोकने के लिए देश भर में 3 मई तक लॉकडाउन लागू है. लिहाजा रेल, फ्लाइट और बस सारी सेवाएं बंद हैं. ऐसे में इस लॉकाउन के चलते दो जज में फंस गए हैं. इन दोनों के देश के अलग-अलग हिस्सों के हाईकोर्ट में चीफ जस्टिस (chief justices of high courts ) का पदभार संभालना है. ऐसे में ये दोनों सड़क के रास्ते दो हजार किलोमीटर से ज्यादा की यात्रा करेंगे.

    कोलकाता से मुंबई
    इन न्यायाधीशों को उच्च न्यायालयों के मुख्य न्यायाधीशों के तौर पर हाल में पदोन्न्त किया गया है. उन्होंने देशव्यापी बंद के बीच सड़क से इतनी लंबी यात्रा आरंभ की ताकि मामलों की सुनवाई और न्याय देने के कामों में देरी न होने पाए. सूत्रों ने बताया कि कलकत्ता उच्च न्यायालय के न्यायाधीश दीपांकर दत्ता को बंबई उच्च न्यायालय के मुख्य न्यायाधीश के रूप में कार्यभार संभालना है. वह और उनके बेटा मुंबई तक की लंबी दूरी तय करने के लिए बारी-बारी से कार चला रहे हैं.

    इलाहबाद से शिलॉन्ग
    इलाहाबाद उच्च न्यायालय के न्यायाधीश विश्वनाथ समद्दर को मेघालय उच्च न्यायालय के मुख्य न्यायाधीश के तौर पर पदोन्नत किया गया है. वह कोलकातां से शिलॉन्ग कार से जा रहे हैं. सूत्रों ने बताया कि इलाहाबाद स्थानांतरित किए जाने से पहले कलकत्ता उच्च न्यायालय के न्यायाधीश के रूप में सेवाएं दे चुके न्यायमूर्ति समद्दर शुक्रवार शाम को अपनी पत्नी के साथ एक आधिकारिक कार से शिलॉन्ग के लिए रवाना हुए.

    सोमवार को पहुंचे मुंबई
    उनके साथ एक ड्राइवर है. वह और ड्राइवर बारी-बारी से कार चला रहे हैं. न्यायमूर्ति समद्दर शनिवार दोपहर को इलाहाबाद से कोलकाता पहुंचे और यहां अपने ‘साल्ट लेक’ निवास में कुछ घंटे आराम करने के बाद शाम को शिलॉन्ग रवाना हो गए. उनके रविवार दोपहर तक शिलॉन्ग पहुंच जाने की उम्मीद है. न्यायमूर्ति दत्ता शनिवार सुबह कोलकाता से मुंबई रवाना हुए और उनके सोमवार दोपहर तक मुंबई पहुंचने की उम्मीद है. राष्ट्रपति राम नाथ कोविंद ने न्यायमूर्ति दत्ता और न्यायमूर्ति समद्दर को बृहस्पतिवार को पदोन्नत किया था.

    ये भी पढ़ें:

    पुलिसवाले से उठक-बैठक कराने वाले अधिकारी को बिहार सरकार ने दिया प्रमोशन

    चीन का वो पड़ोसी मुल्क, जहां कोरोना संक्रमण नहीं ले सका एक भी जान

    Tags: Allahabad high court, Bombay high court, Lockdow

    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर