Farmers Protest: कोरोना संकट के बीच टिकरी बॉर्डर के लिए निकले 20 हजार किसान, महिलाओं की संख्या ज्यादा

केंद्र सरकार के तीन नए कृषि कानूनों के खिलाफ किसान बीते साल से प्रदर्शन कर रहे हैं. (प्रतीकात्‍मक तस्‍वीर-AP)

केंद्र सरकार के तीन नए कृषि कानूनों के खिलाफ किसान बीते साल से प्रदर्शन कर रहे हैं. (प्रतीकात्‍मक तस्‍वीर-AP)

Farmers Protest: यूनियन नेताओं ने कहा कि 1650 गांवों से 20 हजार से ज्यादा लोग दिल्ली (Delhi) पहुंचने के लिए पंजाब की तीन सीमाओं को क्रॉस करेंगे. इनमें से 60 फीसदी महिलाएं होंगी, क्योंकि पुरुष खेतों में व्यस्त हैं. इसलिए महिलाओं को कमान संभालनी होगी.

  • News18Hindi
  • Last Updated: April 26, 2021, 5:08 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. कोरोना वायरस (Coronavirus) को लेकर सरकारें सख्त रवैया अपना रही हैं. इसी बीच खबर है कि राजधानी दिल्ली की टिकरी सीमा (Tikri Border) पर जारी किसान आंदोलन में शामिल होने के लिए 1650 गांवों के प्रदर्शनकारी पंजाब (Punjab) से रवाना हो रहे हैं. ये हजारों किसान बुधवार की सुबह दिल्ली की तरफ निकलेंगे. कहा जा रहा है कि ये सभी किसान भारतीय किसान यूनियन (उग्रहण) के सदस्य हैं.

द इंडियन एक्सप्रेस की रिपोर्ट के अनुसार, पंजाब के गांवों से हजारों किसान आज दिल्ली की तरफ कूच कर रहे हैं. यूनियन नेताओं ने कहा कि 1650 गांवों से 20 हजार से ज्यादा लोग दिल्ली पहुंचने के लिए पंजाब की तीन सीमाओं को क्रॉस करेंगे. बीकेयू (उग्रहण) के महासचिव सुखदेव सिंह कोकरीकलां ने बताया, 'इनमें से 60 फीसदी महिलाएं होंगी, क्योंकि पुरुष खेतों में व्यस्त हैं. इसलिए महिलाओं को कमान संभालनी होगी.'

Youtube Video


यह भी पढ़ें: दिल्ली बॉर्डरों पर आंदोलन से छिटकने लगा किसान, कम हो रही तादाद, लेकि‍न बॉर्डर से सटे गांवों की हालत और खराब
उन्होंने बताया, 'वे बठिंडा-डबवाली, खनौरी-जींद और सारदुलगढ़-फतेहाबाद सीमाओं से बस, वैन और ट्रैक्टरों के जरिए शाम को टिकरी बॉर्डर पहुंचेंगी.' खास बात है कि पंजाब, हरियाणा में पाबंदियों और दिल्ली में कर्फ्यू की घोषणा के बाद पहला बड़ा काफिला दिल्ली सीमाओं की ओर निकला है. खनौरी-जींद से आने वाले काफिले का नेतृत्व जोगिंदर सिंह उग्रहण और सुखदेव सिंह कोकरीकलां करेंगे.

रिपोर्ट के अनुसार, महिलाओं की बड़ी संख्या होने के बाद भी यूनियन की महिला मोर्चा की प्रमुख हरिंदर कौर बिंदु उनके साथ नहीं जाएंगी. उन्होंने बताया कि उनकी जांच पॉजिटिव आई है और वो फिलहाल होम क्वारंटीन हैं. उन्होंने जानकारी दी है कि उनके आइसोलेशन के चार दिन बाकी हैं. इसके चलते वो टिकरी अगले हफ्ते जाएंगी.





केंद्र सरकार के तीन नए कृषि कानूनों के खिलाफ किसान बीते साल से प्रदर्शन कर रहे हैं. दोनों पक्षों के बीच कई दौर की बातचीत हो चुकी है, लेकिन अब तक किसी ठोस मुद्दे पर सहमति नहीं बन पाई है. सरकार ने किसानों को तीन कानूनों को डेढ़ साल के लिए निलंबित करने के प्रस्ताव दिया है. हालांकि, किसान इन कानूनों की वापसी की मांग पर अड़े हुए हैं.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज