न्यूज़18-इप्सॉसएग्ज़िट पोल 2019 : थूथुक्कुडी में करुणानिधि की विरासत बचा पाएंगी कनिमोई?

थूथुक्कुडी लोकसभा सीट तमिलनाडु की अहम सीट इसलिए है क्योंकि यहां से डीएमके सुप्रीमो रहे करुणानिधि की बेटी कनिमोई प्रमुख प्रत्याशी हैं.
थूथुक्कुडी लोकसभा सीट तमिलनाडु की अहम सीट इसलिए है क्योंकि यहां से डीएमके सुप्रीमो रहे करुणानिधि की बेटी कनिमोई प्रमुख प्रत्याशी हैं.

थूथुक्कुडी लोकसभा सीट तमिलनाडु की अहम सीट इसलिए है क्योंकि यहां से डीएमके सुप्रीमो रहे करुणानिधि की बेटी कनिमोई प्रमुख प्रत्याशी हैं.

  • Share this:
लोकसभा चुनावों में वोटिंग का दौर समाप्त होने के बाद जो अनुमान सामने आ रहे हैं, उनके मुताबिक तमिलनाडु की अहम थूथुक्कुडी सीट पर किसके जीतने के आसार साफ हैं? पढ़ें अनुमान और पूरा गणित.

थूथुक्कुडी लोकसभा सीट तमिलनाडु की अहम सीट इसलिए है क्योंकि यहां से डीएमके सुप्रीमो रहे करुणानिधि की बेटी कनिमोई प्रमुख प्रत्याशी हैं. भाजपा ने कनिमोई को चुनौती देने के लिए सौंदराजन को चुनाव मैदान में उतारा है. वोटिंग से ठीक पहले कनिमोई के यहां आईटी छापे भी सुर्खियों में रहे. मतदान संपन्न होने के बाद न्यूज़18-इप्सॉस के पोल पर आधारित अनुमान के मुताबिक मुकाबले में कनिमोई का पलड़ा भारी है और थूथुक्कुडी सीट पर डीएमके साफ जीत हासिल करते हुए नज़र आ रही है.

दक्षिणी तमिलनाडु में मौजूद थूथुकुडी को तमिलनाडु का समुद्री द्वार कहा जाता है. यहां साल 2009 में पहली बार लोकसभा चुनाव हुए थे. सिर्फ 10 साल की सियासत में ही थूथुक्कुडी में डीएमके और एआईएडीएमके के बीच के सियासी संघर्ष देखा जा सकता है. यहां से ऑल इंडिया अन्ना द्रविड़ मुनेत्र कड़गम के उम्मीदवार जयसिंह थायगाराज नटराजई. जे. ने डीएमके के प्रत्याशी के पी जगन को हराया था. जे टी नटराजई ने 1 लाख 24 हजार 002 वोटों से जीत हासिल की थी.



ये हैं दो प्रमुख प्रत्याशी
साल 2019 के लोकसभा चुनाव में बीजेपी ने तमिलिसाई सौंदराजन को मैदान मे उतारा है, तो डीएमके ने पार्टी सुप्रीमो दिवंगत करुणानिधि की बेटी कनिमोई को थूथुक्कुडी सीट से उम्मीदवार बनाया है. डीएमके का पलड़ा भारी नज़र आ रहा है तो बीजेपी भी थूथुक्कुडी सीट पर पुरजोर प्रयास कर रही है.

वोटिंग से पहले आईटी का छापा रहा चर्चा में
थूथुक्कुडी में दूसरे चरण में 18 अप्रैल को वोटिंग हुई थी. लेकिन वोटिंग से दो दिन पहले ही कनिमोई के घर इनकम टैक्स के छापे की वजह से सियासत गरमा गई थी. कनिमोई ने सरकार पर दुर्भावनापूर्ण कार्रवाई के आरोप लगाए थे और स्थानीय समाचार चैनलों व मीडिया पर इन खबरों ने सनसनी फैला दी थी. अब देखना ये है कि इस तरह की कार्रवाई का चुनाव पर क्या असर पड़ने वाला है?

सीमाओं और आबादी के आंकड़े
थूथुकुडी को 'मुथु कुज़िथुरई' के नाम से भी पुकारा जाता है. थूथुक्कुडी लोकसभा सीट के तहत 6 विधानसभा सीटें आती हैं. एट्टायापुरम, काझुगुमलाई, पनिमया माथा चर्च, अदीचनुल्लुर, कायथर, कोरकाई यहां के प्रसिद्ध टूरिस्ट इलाकों में शुमार हैं. साल 2014 में यहां कुल 1,310,406 मतदाता थे, जिसमें महिला मतदाता 659,197 और पुरुष मतदाता 651,207 थे

ये भी पढ़ें: उपराष्ट्रपति वेंकैया नायडू ने कहा- एग्जिट पोल का मतलब एग्जैक्ट पोल नहीं है

यह भी पढ़ें: Exit Polls: ये 11 राजनीतिक संकेत दे रहे हैं एग्जिट पोल्स

एक क्लिक और खबरें खुद चलकर आएगी आपके पाससब्सक्राइब करें न्यूज़18 हिंदी  WhatsAppअपडेट्स
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज