लाइव टीवी

निज़ामुद्दीन मरकज : गृह मंत्रालय ने बताया- जांच के बाद क्वारंटीन में भेजे गए 2,137 लोग

News18Hindi
Updated: March 31, 2020, 7:56 PM IST
निज़ामुद्दीन मरकज : गृह मंत्रालय ने बताया- जांच के बाद क्वारंटीन में भेजे गए 2,137 लोग
कई राज्‍यों के पास दिल्‍ली में तबलीगी जमात के कार्यक्रम में शामिल लोगों की कोई जानकारी नहीं है.

मंत्रालय की ओर से बताया गया कि निजामुद्दीन मरकज (Nizamuddin Markaz) के अलावा 21 मार्च तक देश के विभिन्न मरकजों में 824 विदेशी थे. मंत्रालय ने कहा कि तबलीगी गतिविधियों में हिस्सा लेने के लिए इस साल करीब 2,100 विदेशी भारत आए.

  • News18Hindi
  • Last Updated: March 31, 2020, 7:56 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. केंद्रीय गृह मंत्रालय (Ministry Home Ministry) ने मंगलवार को जानकारी दी कि 21 मार्च तक निजामुद्दीन मरकज (Nizamuddin Markaz) में 216 विदेशियों सहित 1,746 लोग थे. गृह मंत्रालय की ओर से बताया गया कि निजामुद्दीन मरकज के अलावा 21 मार्च तक देश के विभिन्न मरकजों में 824 विदेशी थे. मंत्रालय ने कहा कि तबलीगी गतिविधियों में हिस्सा लेने के लिए इस साल करीब 2,100 विदेशी भारत आए.

मंत्रालय की ओर से कहा गया कि भारत आने वाले विदेशियों में इंडोनेशिया, मलेशिया, थाईलैंड, नेपाल, म्यांमार, बांग्लादेश, श्रीलंका और किर्गिस्तान के लोग शामिल थे. गृह मंत्रालय ने कहा कि इस प्रकार के सभी विदेशी नागरिक नई दिल्ली में हजरत निजामुद्दीन (Hazrat Nizamuddin) स्थित बंगले वाली मस्जिद (Bangle Wali Masjid) में तबलीगी मरकज में अपने आगमन की आमतौर पर सूचना देते हैं.

2,137 लोगों की हो चुकी है पहचान
मंत्रालय ने बताया कि 28 मार्च को सभी राज्यों की पुलिस से भारतीय तबलीगी जमात कर्मियों का स्थानीय समन्वयकों से पता लगाने, उनकी चिकित्सकीय जांच कराने ओर उन्हें पृथक करने को कहा गया था. मंत्रालय की ओर से कहा गया कि अभी तक ऐसे 2,137 लोगों की पहचान की जा चुकी है, उनकी चिकित्सकीय जांच कराई जा रही है, उन्हें पृथक किया गया है. ऐसे ही और लोगों की पहचान की जाएगी और उनका पता लगाया जाएगा.



स्वास्थ्य मंत्रालय ने कहा ये कार्रवाई का समय, गलती निकालने का नहीं


दिल्ली के निजामुद्दीन इलाके में कुछ दिनों पहले हुए एक धार्मिक जमावड़े के दौरान कोरोना वायरस का संक्रमण फैलने की आशंकाओं पर प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए स्वास्थ्य मंत्रालय (Health Ministry) ने मंगलवार को कहा कि यह समय, किसकी गलती है, ये खोजने का नहीं है बल्कि संक्रमण को रोकने के लिए काम करने का है.

संवाददाता सम्मेलन में मौजूद गृह मंत्रालय की संयुक्त सचिव पुण्य सलिला श्रीवास्तव ने इस मामले में सिर्फ इतना ही कहा कि मंत्रालय बाद में इस घटना के बारे में विस्तृत जानकारी देगा.

उल्लेखनीय है कि हाल में निजामुद्दीन इलाके में धार्मिक संगठन तबलीग-ए-जमात (Tableeg-E-Jamat) के एक कार्यक्रम में जुटे लोगों में से कुछ में कोरोना का संक्रमण पाये जाने और कुछ अन्य में संक्रमण की आशंका के चलते उन्हें दिल्ली के विभिन्न अस्पतालों में भर्ती कराया गया है. समझा जाता है कि इस आयोजन में लगभग दो हजार लोगों ने हिस्सा लिया था, इनमें विदेशी नागरिक भी शामिल हैं.

(भाषा के इनपुट सहित)

ये भी पढ़ें :-

निज़ामुद्दीन मरकज़: दिल्ली पुलिस ने दर्ज की FIR, क्राइम ब्रांच करेगी जांच

जानें तबलीगी जमात का पाकिस्‍तान कनेक्‍शन, क्‍यों हो रही है प्रतिबंध की मांग?

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए देश से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: March 31, 2020, 7:31 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
corona virus btn
corona virus btn
Loading