अपना शहर चुनें

States

प्रशांत भूषण की माफी के बाद मामला खत्म

कोयला ब्लॉक आवंटन घोटाला मामले में अपने बयान को लेकर सुप्रीम कोर्ट के कोप का शिकार बने प्रशांत भूषण ने आज माफी मांग ली है।
कोयला ब्लॉक आवंटन घोटाला मामले में अपने बयान को लेकर सुप्रीम कोर्ट के कोप का शिकार बने प्रशांत भूषण ने आज माफी मांग ली है।

कोयला ब्लॉक आवंटन घोटाला मामले में अपने बयान को लेकर सुप्रीम कोर्ट के कोप का शिकार बने प्रशांत भूषण ने आज माफी मांग ली है।

  • Share this:
नई दिल्ली। कोयला ब्लॉक आवंटन घोटाला मामले में अपने बयान को लेकर सुप्रीम कोर्ट के कोप का शिकार बने प्रशांत भूषण ने आज माफी मांग ली है। जिसके बाद न्यायालय ने इस मामले को रफा-दफा कर दिया। न्यायमूर्ति आर एम लोढ़ा की अध्यक्षता वाली तीन सदस्यीय खंडपीठ ने एक पत्रिका में प्रकाशित प्रशांत भूषण के साक्षात्कार का संज्ञान लेते हुए इस मामले की सुनवाई आज कराने का निर्णय लिया था।

प्रशांत भूषण ने कोयला ब्लॉक आवंटन मामले की सुनवाई के दौरान कथित झूठ बोलने के लिए एटॉर्नी जनरल गुलाम ई वाहनवती के खिलाफ कार्रवाई नहीं करने के न्यायालय के फैसले पर सवाल खड़े किए थे। प्रशांत ने कहा वाहनवती ने न्यायालय से यह झूठ कहा था, कि उन्होंने हलफनामा दायर करने से पहले उसे नहीं पढा था। एंटार्नी जनरल की यह झूठ पकड़े जाने के बावजूद शीर्षस्थ अदालत ने उनके खिलाफ कार्रवाई क्यों नहीं की।

शीर्षस्थ अदालत ने प्रशांत भूषण के बयान पर कड़ी आपत्ति जताते हुए कहा कि कोई व्यक्ति, खासकर आप जैसा व्यक्ति इस तरह की बात कैसे कर सकता है। कोलगेट मामले से जुड़े अन्य पक्षों के वकीलों ने भूषण के खिलाफ कार्रवाई करने की मांग की। हालांकि प्रशांत ने खंडपीठ से कहा कि उनका इरादा न्यायालय की गरिमा को गिराना नहीं था। यदि उनके किसी बयान से किसी को भी ठेस पहुंची है। तो वह इसके लिए खेद जताते हैं। इसके बाद न्यायालय ने मामले को रफा-दफा कर दिया।
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज